मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> लॉक डाउन तोडकर प्रेमी के घर पहुंची प्रेमिका

लॉक डाउन तोडकर प्रेमी के घर पहुंची प्रेमिका

भोपाल  3 मई 2020 । लॉक डाउन के कारण जहां लोगों को कई तरह की परेशानियो को सामना करना पड़ रहा है वही राजधानी भोपाल में लॉक डाउन के कारण एक पति का राज खुल गया। कई वर्षो से पति अपनी पत्नी से ये तो ये राज छुपाए रखा था ,लेकिन लॉक डाउन के कारण पति का ये राज अब पत्नी और सब लोग के सामने आ गया। लॉक डाउन के कारण एक 57 वर्षीय प्रेमिका अपने 45 वर्षीय प्रेमी से नहीं मिल पा रही थी। प्रेमी से नहीं मिल पाने का कारण आखिरकार प्रेमिका अपने प्रेमी के घर पहुंची तो इस राज का खुलासा हुआ।

ये है मामला
दरअसल 57 वर्षीय प्रेमिका 45 वर्षीय प्रेमी भोपाल में एक साथ नौकरी करने वाले सहकर्मी है। प्रेमी और प्रेमिका ये दोनों आपस में दोस्त थे, लेकिन दोस्ती कब प्रेम में बदल गई दोनों को पता नहीं चला। अभी तक प्रेमी और प्रेमिका की ऑफिस में मुलाकात हो जाती थी, लेकिन जब से लॉकडाउन हुआ तो दोनों का एक-दूसरे से मिलना जुलना बंद हो गया। मिलना जुलना बंद होने से प्रेमिका परेशान होने लगी और अपने प्रेमी से मिलने घर पहुंची।

प्रेमिका के बहू-बेटों को बुलाया
प्रेमिका के घर पहुंचने के बाद प्रेमी के घर में विवाद खड़ा हो गया। प्रेमी की पत्नी द्वारा विवाद किए जाने को लेकर प्रेमिका ने प्रेमी की पत्नी को पति देने के लिए अपनी पूरी प्राॅपर्टी देने का प्रपोजल दे डाला। पत्नी नहीं मानी और पति की प्रेमिका के बहू-बेटों को बुला लिया गया। इस मामले में पुलिस की समझाइश और फैमिली कोर्ट की काउंसलर द्वारा की गई काउंसलिंग के बाद पत्नी अपने पति के घर से वापस लौटी। हालांकि अब भी मामले में लगातार दोनों परिवारों की ऑनलाइन काउंसलिंग चल रही है।

एक-दूसरे का हाथ थामे देखा तो आपा खो बैठी
प्रेमिका भोपाल के रचना नगर की रहने वाली है। बहुत दिनों से प्रेमी से जब उसकी मुलाकात नहीं हुई तो प्रेमिका अपने प्रेमी के घर चूनाभट्‌टी स्थित उसके घर पहुंच गई। प्रेमिका जब प्रेमी के घर पहुंती तो प्रेमी की पत्नी किचन में चाय बनाने चली गई। लेकिन जैसे ही प्रेमी की पत्नी किचन से बाहर आई तो पत्नी ने जब अपने पति और उस महिला को एक-दूसरे का हाथ थामे देखा तो आपा खो बैठी। जमकर विवाद हुआ।

काउंसलर से फोन लगाकर मदद मांगी
इस दौरान प्रेमिका लगातार यही कहती रही कि वह सिर्फ अपने प्रेमी के साथ रहना चाहती है। वह उसे अपने घर में साथ रहने की परमिशन दे दे, बदले में वह अपनी पूरी प्रॉपर्टी उसके नाम करने को तैयार है। झगड़ा इतना बढ़ गया कि पड़ोस में रहने वाले और मित्र ने हस्तक्षेप करते हुए पुलिस को बुलाया। वहीं प्रेमी के एक मित्र ने फैमिली कोर्ट की काउंसलर सरिता राजानी को फोन लगाकर मदद मांगी।

सहकर्मी से दुख-दर्द साझा करने लगी
सरकारी नौकरी करने वाली 57 वर्षीय प्रेमिका के पति की मौत 10 साल पहले हो गई थी। बेटे की शादी के बाद वह प्रेमिका अपने दायित्वों से मुक्त हो गई। शादी के बाद बेटा-बहू की उपेक्षा की वजह से अकेलापन महसूस कर रही प्रेमिका अपना दुख-दर्द अपने 45 वर्षीय सहकर्मी से साझा करने लगी थी।
दिनभर की काउंसलिंग
काउंसलर सरिता राजानी ने बताया कि महिला अकेलेपन से परेशान थी। बहू-बेटा बात नहीं करते थे। इसलिए वह सहकर्मी के घर चली गई। काउंसलर सरिता राजानी ने बताया कि पूरे दिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पति-पत्नी, सहकर्मी महिला और उसके बेटे की काउंसलिंग की गई। उधर पुरुष का कहना था कि महिला केवल उसकी दोस्त है। अकेलेपन से घबराकर सहारा मांग रही है। उसकी पत्नी का कहना है कि शादी के 14 साल बाद पति ने उसे धोखा दिया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फतह मुबारक हो मुसलमानो, भारत के खिलाफ जीत इस्लाम की जीत…जश्न मनाने के बदले जहर उगलने लगा पाक

नई दिल्ली 25 अक्टूबर 2021 । खराब बल्लेबाजी और खराब गेंदबाजी की वजह से टीम …