मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> यूपी पुलिस के बल पर चलेगा प्रदेश में सुशासन- सीएम योगी

यूपी पुलिस के बल पर चलेगा प्रदेश में सुशासन- सीएम योगी

लखनऊ 24 नवम्बर 2019 । यूपी पुलिस के बेड़े में रविवार को 299 नए दरोगा शामिल हो गए हैं। बतौर मुख्य अतिथि सीएम योगी आदित्यनाथ ने डॉ. भीमराव पुलिस अकादमी के दीक्षांत समारोह के दौरान परेड की सलामी ली। इसके बाद एडीजी पुलिस अकादमी राजीव कृष्ण ने दरोगाओं को सीएम के सामने शपथ दिलाई। इस दौरान बिजनौर के हरजीत सिंह को सर्वांग सर्वोत्तम प्रशिक्षु दरोगा चुना गया। 2018 बैच के सभी प्रशिक्षु दरोगाओं का प्रशिक्षण एक साल तक डॉक्टर भीमराव अंबेडकर पुलिस अकादमी में हुआ। रविवार को पासिंग आउट परेड के मौके पर योगी आदित्यनाथ ने बताया कि सुशासन की नींव पुलिस के बल पर ही निर्भर है। जिससे समाज में भयमुक्त और अपराध मुक्त माहौल बनता है। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि पुलिस के प्रशिक्षण में पिछले ढाई साल में यूपी में अभूतपूर्व बदलाव हुआ है। पुलिस प्रशिक्षण का नतीजा है कि आज यूपी में अपराध में हर वर्ग में कमी आयी है। इससे पहले मुख्यमंत्री का काफिला मुरादाबाद पुलिस लाइन पहुंचा था जहां उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया। इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुरादाबाद की मुंडा पांडे हवाई पट्टी पहुंचे थे। इससे पहले शनिवार सुबह से ही अकादमी के अधिकारियों के अलावा पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी भी परेड मैदान पर तैयारियों जुटे रहे। मैदान में एक तरफ परेड का रिहर्सल चल रहा था तो दूसरी तरफ मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर सुरक्षा चाक चौबंद की जा रही थी। पुलिस अकादमी में प्रशिक्षण लेने 302 प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टरों ने भाग लिया था। आउट डोर और इंडोर की परीक्षाओं में 299 में प्रशिक्षु सब इंस्पेक्टर उत्तीर्ण हुए। इनमें तीन प्रशिक्षु अनुत्तीर्ण हो गए हैं। जिन्हें अतिरिक्त समय दिया गया है। बारह- बारह इंडोर और आउटडोर के मेडल व प्रमाण पत्र दिए गए।

प्लाट आवंटन घोटाले में आरोपी सीनियर आईएएस राजीव कुमार द्वितीय को योगी सरकार करेगी जबरन रिटायर्ड
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार पर लगातार कार्रवाई जारी रखी हुई है. इसी क्रम में रविवार को नोएडा में प्लॉट आवंटन घोटाला में जेल चा चुके सीनियर आईएएस अफसर राजीव कुमार द्वितीय पर योगी सरकार ने अनिवार्य सेवानिवृत्ति की प्रकिया शुरू कर दी है. इस बाबत राज्य सरकार ने राजीव कुमार द्वितीय को नोटिस जारी किया है! बता दें कि भ्रष्‍टाचार के मामलों में घिरे राजीव कुमार द्वितीय उत्तर प्रदेश कैडर के 1983 बैच के अफसर हैं. राजीव कुमार द्वितीय नोएडा प्लाट आवंटन घोटाले मामले में सीबीआई कोर्ट में सरेंडर कर दिया था. उन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं. मामले में 31 अक्टूबर 2019 को राजीव कुमार को सेवानिवृत्ति का नोटिस देकर अभ्यावेदन मांगा गया है. उनका जवाब मिलने के बाद अब जल्द ही मामले पर निर्णय लेकर प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेजा जाएगा. नोएडा प्लॉट आवंटन घोटाला में सीबीआई ने राजीव कुमार को आरोप पत्र सौंपते हुए कहा था कि सेक्टर 51 में एक भूखंड जो उन्हें आवंटित किया गया था, उसे सेक्टर 44 में लैंडयूज को बदल दिया था और फिर से सेक्टर 14 ए में एक लैंडयूज को बदलकर उसे रेसीडेंशियल करवाया था. नोएडा प्राधिकरण के नियमों के अनुसार, केवल एक बार रूपांतरण की अनुमति दी गई थी. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने न्यू ओखला औद्योगिक विकास प्राधिकरण (नोएडा) के पूर्व उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी राजीव कुमार को नोएडा प्लॉट आवंटन घोटाला में निलंबित किया था. इस मामले में प्राधिकरण की पूर्व चेयरमैन और पूर्व वरिष्ठ आईएएस अधिकारी नीरा यादव पहले ही सरेंडर कर जेल जा चुकी हैं.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …