मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> सरकार ने बढ़ाई PPF, NSC और सुकन्या योजना पर ब्याज दरें

सरकार ने बढ़ाई PPF, NSC और सुकन्या योजना पर ब्याज दरें

नई दिल्ली 20 सितम्बर 2018 । सरकार ने छोटी बचत योजनाओं जैसे कि एनएससी और पब्लिक प्रोविडेंट फंड (पीपीएफ) जैसी स्कीम पर मिलने वाली ब्याज को अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 0.30-0.40 फीसदी तक बढ़ा दिया है.इसका मतलब है आपको ज्यादा मुनाफा मिलेगा.

आपको बता दें कि सरकार स्माल सेविंग्स स्कीम (Small Savings Scheme छोटी बचत योजनाओं) पर हर तिमाही में ब्याज दर (Interest rate इंटरेस्ट रेट) तय करती हैं. यह सरकार पर निर्भर करता है कि वह कब इसमें बदलाव करे. स्पष्ट कर दें कि यह जरूरी नहीं कि सरकार हर तिमाही में बदलाव करे. (ये भी पढ़ें-VIDEO: बैंक में जमा कैश को लेकर बदल चुका हैं नियम, जानिए लीजिए RBI का नया फैसला)

अब मिलेगा ज्यादा मुनफा-पांच वर्ष की सावधि जमा, आवर्ती जमा और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दरें बढ़ाकर क्रमश: 7.8 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत कर दी गयी हैं.हालांकि बचत जमा के लिए ब्याज दर चार प्रतिशत बरकरार है.

पीपीएफ और एनएससी पर मौजूदा 7.6 प्रतिशत की जगह अब आठ प्रतिशत की सालाना दर से ब्याज मिलेगा. किसान विकास पत्र पर अब 7.7 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलेगा और अब यह 112 सप्ताह में परिपक्व हो जाएगा.

सुकन्या समृद्धि खातों के लिए संशोधित ब्याज दर 8.5 प्रतिशत होगी.एक से तीन साल की सावधि जमा पर ब्याज दर में 0.3 प्रतिशत की वृद्धि की गयी है.

छोटी बचत योजनाओं की नई ब्याज दरें

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund (PPF interest Rate) : 8%
सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Scheme Interest Rate) : 8.5%
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizens Savings Scheme Interest Rate): 8.7%
राष्ट्रीय बचत पत्र (National Savings Certificate (NSC) Interest Rate) : 8%
किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra (KVP) Interest Rate) : 7.7%

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …