मुख्य पृष्ठ >> राज्यपाल कलराज मिश्र ने मुंबई में किया निरंजन परिहार का अभिनंदन

राज्यपाल कलराज मिश्र ने मुंबई में किया निरंजन परिहार का अभिनंदन

मुंबई  25 फरवरी 2020 । राजस्थान के महामहिम राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने मुम्बई में जाने माने पत्रकार और राजनीतिक विश्लेषक निरंजन परिहार का अभिनंदन किया।
राजस्थानी समाज के जाने माने और प्रतिष्ठित लोगों के बीच राज्यपाल ने परिहार की सराहना की, सम्मान किया और स्नेहपूर्ण आशीर्वाद दिया। मीडिया में रहकर मुम्बई के राजस्थानी समाज को अपने मातृप्रदेश की जड़ों से जोड़ने और उनको राजस्थान के विकास में सहयोग हेतु प्रेरित करने के लिए परिहार का यह सम्मान मिला। राजस्थान प्रेस क्लब द्वारा वानखेड़े स्टेडियम में गरवारे क्लब हॉल में आयोजित इस कार्यक्रम में राज्यपाल महोदय से यह सम्मान प्रदान करते हुए परिहार की सेवाओं व समाज को जोड़ने में उनके योगदान को सराहा। समारोह में मुंबई में सक्रिय राजस्थानी समाज की करीब 200 से ज्यादा सामाजिक, व्यापारिक, सांस्कृतिक, शैक्षणिक संस्थाओं के अध्यक्ष एवं राजनीतिक दलों के पदाधिकारी तथा कई संस्थाओं से जुड़े लोग उपस्थित थे।

अभय जी पत्रकारिता के शिखर और कुम्भज जी है कविता का कुम्भ – आनंद मोहन माथुर

हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए प्रतिबद्ध ‘मातृभाषा उन्नयन संस्थान’ 24 फरवरी 2020, सोमवार को स्थानीय श्री मध्यभारत हिंदी साहित्य समिति, इंदौर में हिंदी पत्रकारिता के शिखर व दशकों तक नईदुनिया के प्रधान संपादक रहें पद्म श्री अभय छजलानी व अज्ञेय के चौथा सप्तक के अग्र कवि, वरिष्ठ साहित्यकार राजकुमार कुम्भज को हिंदी गौरव अलंकरण प्रदान किया। आयोजन के मुख्य अतिथि वरिष्ठ अधिवक्ता एवं समाजसेवी आनंद मोहन माथुर, महामंडलेश्वर दादू महाराज, अरविन्द जोशी एवं स्टेट प्रेस क्लब के अध्यक्ष प्रवीण खारीवाल व चंदा सिसौदिया रही।

अतिथियों एवं संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’ , राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ नीना जोशी, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष शिखा जैन ने पद्मश्री अभय छजलानी व राजकुमार कुम्भज को हिंदी गौरव अलंकरण से विभूषित किया।

अतिथियों का स्वागत संस्थान के अध्यक्ष डॉ अर्पण जैन अविचल ने किया। मुख्य अतिथि आनंद मोहन माथुर ने अभय छजलानी जी की पत्रकारिता को निर्भीक पत्रकारिता बताते हुए कई पत्रकार व संपादक बनाने का श्रेय अभय जी को दिया। अलंकरण उपरांत मातृभाषा उन्नयन संस्थान द्वारा हिंदी योद्धाओं का सम्मान किया जिनमें वरिष्ठ पत्रकार कीर्ति राणा, डॉ हरेराम वाजपेयी, धनंजय गायकवाड़, अनीता जोशी, रचना जोशी, रचना जोहरी, फिरोज़ुद्दीन सिद्दकी, मनोज तिवारी, मंजू नायर, स्वप्निल सोलंकी आदि को भाषा सारथी सम्मान प्रदान किया। आयोजन का संचालन मंचीय कवि अंशुल व्यास एवं आभार डॉ नीना जोशी ने माना।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

जमीन विवाद में नया खुलासा, ट्रस्ट ने उसी दिन 8 करोड़ में की थी एक और डील

नई दिल्ली 17 जून 2021 । अयोध्या में श्री राम मंदिर ट्रस्ट के द्वारा खरीदी …