मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> धीरे-धीरे ही सही, सोशल मीडिया पर मजबूत हो रही राहुल गांधी की पकड़

धीरे-धीरे ही सही, सोशल मीडिया पर मजबूत हो रही राहुल गांधी की पकड़

नई दिल्ली 28 दिसंबर 2018 । इनदिनों भारत में नई तरह की राजनीति चल रही है। राजनीति सोशल मीडिया की। राजनेता जनता तक पहुंचने के लिए सोशल मीडिया का सहारा ले रहे हैं। वैसे तो सोशल मीडिया राजनीतिज्ञों में अपनी बातें कहने का बेहतरीन साधन बन चुका है। इसमें बाजी मारी है फेसबुक और ट्विटर ने। किसी पॉलिसी की जानकारी देनी हो या फिर किसी योजना की जानकारी आम जनता तक पहुंचानी हो इन दिनों सोशल मीडिया अहम भूमिका निभा रही हैं।

लेकिन हम यहां बात कर रहे हैं सोशल मीडिया ट्विटर की। राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी अपनी बात कहने के लिए ट्विटर का जबरदस्त उपयोग कर रहे हैं। 2018 के खत्म होने में महज 3 दिन का शेष है। हमने नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी के ट्विटर पर चले ट्वीट जंग पर नजर डाली और पाया कि राहुल यहां भी नरेंद्र मोदी से आगे निकल रहे हैं। राहुल ने 2018 में अबतक करीब 543 ट्वीट किए हैं जबकि मोदी ने इसी दरम्यान 3.7 हजार ट्वीट किए हैं। अगर हम औसतन ट्वीट की गिनती करें तो राहुल जहां हर महीने महज 44 ट्वीट करते रहे हैं वहीं मोदी 305 ट्वीट किया है। सोशल मीडिया का उपयोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी भी दूसरे राजनेता की तुलना में कहीं अधिक करते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना में कहीं अधिक सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं और जमकर ट्वीट करते हैं राहुल गांधी की तुलना में उनके फॉलोअर कहीं अधिक हैं। लेकिन अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी की पप्पू वाली छवि धुंधली हो रही है और वह न केवल आमने- सामने की राजनीति में बल्कि धीरे-धीरे सोशल मीडिया की लड़ाई में भी प्रधानमंत्री को पछाड़ रहे हैं और उनसे आगे निकलते नजर आ रहे हैं।

तीन राज्यों के परिणाम के बाद बढ़ी राहुल की पॉपुलैरिटी

तीन राज्यों में भाजपा को पटखनी देने के साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक दमदार छवि के साथ उभरे हैं। ऐसे में एक नया आंकड़ा सामने आया है, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पछाड़ा है। मिली जानकारी के अनुसार, भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा लोकप्रिय हों, लेकिन पिछले एक साल में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनको यहां भी कड़ी टक्कर दी है।
ट्विटर पर किसके कितने फॉलोअर

ट्विटर पर इस वक्त मोदी के 44.7 मिलियन फॉलोअर्स हैं जबकि राहुल के 8.08 मिलियन। कम फॉलोअर्स होने के बाद भी पिछले एक साल में राहुल गांधी सोशल मीडिया पर बढ़त बनाने में सफल रहे हैं। पीएम मोदी के ट्वीट में कूटनीति, नई योजनाओं समेत दूसरे मुद्दों का जिक्र होता है जबकि राहुल के ट्वीट में किसान और रोजगार के साथ पीएम मोदी का जिक्र रहता है। ऐसे में राहुल के ट्वीट्स एंगेजमेंट के लिहाज से भारी पड़ रहे हैं।
तेजी से बढ़ा राहुल गांधी का ग्राफ
कांग्रेस के अध्यक्ष बनने के बाद से राहुल गांधी का ग्राफ सोशल मीडिया पर तेजी से बढ़ा है। राहुल के प्रत्येक ट्वीट पर इंगेजमेंट यानी लोग उनके हरएक ट्वीट को री-ट्वीट कर रहे हैं, लाइक कर रहे हैं और पहले से यह काफी बढ़ी है। ट्विटर पर राहुल गांधी पिछले एक साल में तीन मुद्दों पर खुलकर अपनी राय रखी। पिछले एक साल में राहुल के ट्वीट में पीएम मोदी, किसान और नौकरियों के संकट का जिक्र रहा। राहुल ने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए पीएम मोदी को भी पिछले एक साल में खूब निशाना बनाया है।

2017 की शुरुआत से अब तक कांग्रेस अध्यक्ष के ट्विटर अकाउंट से 1,381 ट्वीट किए गए, जिनमें से 104 ट्वीट में मोदी या प्रधानमंत्री का जिक्र जरूर है। इसका मतलब है कि हर 13 में से एक ट्वीट में मोदी का जिक्र है। 2018 में पीएम मोदी ने राहुल की तुलना में किसानों से जुड़े ट्वीट अधिक किए, लेकिन एंगेजमेंट राहुल के ट्वीट पर अधिक रही।

राहुल अपने भाषण और चुनाव प्रचार में भी बार-बार नौकरियों का मुद्दा उठाते रहे हैं। सोशल मीडिया पर ट्वीट की संख्या की बात करें तो राहुल गांधी ने मोदी की तुलना में अधिक रोजगार से जुडे़ ट्वीट किए। अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों को देखते हुए साफ लग रहा है कि विपक्ष एक बार फिर रोजगार को लेकर मोदी सरकार पर हावी होने की कोशिश करेगा।

पीएम मोदी ने कम लिया राहुल का नाम

प्रधानमंत्री मोदी ने भी 2018 में जमकर ट्वीट किए लेकिन उन्होंने अपने ट्वीट में राहुल का नाम सीधे तौर पर बुहत कम लिया। उन्होंने गांधी और नेहरू का नाम लिया राहुल का नाम नौ बार लिया। हर ट्वीट में महात्मा गांधी, मेनका गांधी और राहुल कौशिक लिखा।

किसानों पर किया किसने कितना ट्वीट

अगर किसानों के मुद्दे को ट्वीट से उठाने की बात करें तो राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी ने बराबर ही ट्वीट किए हैं। किसानों को लेकर 2018 में राहुल ने 24 ट्वीट किए जबकि मोदी ने 138 ट्वीट किए। जबकि 2017 में दोनों ने लगभग बराबर ट्वीट किए थे। लेकिन अगर प्रतिक्रिया की बात करें तो राहुल के हर ट्वीट को खूब प्रतिक्रिया मिली है। उनके ट्वीट को जहां 6 हजार से अधिक बार री-ट्वीट किया गया वहीं लाइक्स भी मोदी की ट्वीट की तुलना में कहीं अधिक रहा। राहुल के ट्वीट को लाइक भी 20हजार किया गया जबकि मोदी के ट्वीट को महज 10,000 लाइक्स मिले। जबकि रिप्लाई के मामले में भी राहुल ने मोदी को पीछे छोड़ दिया। राहुल के ट्वीट को 2,850 बार रिप्लाई किया गया जबिक मोदी के ट्वीट को महज 585 जवाब ही मिले।

नौकरी को लेकर किए राहुल के ट्वीट ने भी मोदी को पछाड़ा

राहुल गांधी नौकरी को लेकर 30 और मोदी ने 15 ट्वीट किए। मजेदार बात ये रही कि राहुल और मोदी की इस ट्वीटर लड़ाई में राहुल ने मारी बाजी। राहुल के 30 ट्वीट को करीब 4688 बार री-ट्वीट किया गया जबकि लाइक्स की संख्या 11,528 थी जबकि रिप्लाई भी 1815 मिले जबकि इस मामले में मोदी कहीं पीछे थे। उनके ट्वीट जहां 2782 बार री-ट्वीट हुए जबकि लाइक्स के मामले में थोड़े से पिछले पर रिप्लाई के मामले में बहुत ही ज्यादा पिछड़ गए हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ये तो छोड़कर चले गए थे…अशोक गहलोत ने सचिन पायलट गुट के विधायकों पर कसा तंज

नयी दिल्ली 4 दिसंबर 2021 । अशोक गहलोत और सचिन पायलट राजस्थान कांग्रेस में सबकुछ अच्छा …