मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> सौरमंडल के बाहर मिला ग्रहों का समूह

सौरमंडल के बाहर मिला ग्रहों का समूह

नई दिल्ली 3 अगस्त 2018 । वैज्ञानिकों ने हमारे सौरमंडल के बाहर ग्रहों के एक समूह की पहचान की है। इन ग्रहों पर उसी तरह की रासायनिक स्थितियां हैं जो संभवत धरती पर जीवन का कारण बनी होंगी। ब्रिटेन की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पाया कि धरती जैसे चट्टानी ग्रह पर जीवन के विकास की संभावनाओं का संबंध उस तारे से होता है जिसकी वह परिक्रमा करता है। साइंस एडवांस जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में दावा किया गया है कि जिस तरह धरती पर जीवन का विकास हुआ ठीक उसी तरह तारे परिक्रमा करने वाले अपने ग्रहों को पर्याप्त पराबैंगनी (यूवी) प्रकाश दे सकते हैं जिससे वहां पर जीवन की शुरुआत हो सकती है।

हमारी धरती पर यूवी प्रकाश से रासायनिक प्रतिक्रियाएं होती हैं जिससे जीवन की उत्पत्ति होती है। शोधकर्ताओं ने ऐसे कई ग्रहों की पहचान की है जिन्हें अपने मेजबान तारे से पर्याप्त यूवी प्रकाश मिलता है। इससे इस तरह की रासायनिक प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं। यह घटना रहने योग्य ऐसे स्थान के दायरे में हो सकती है जहां ग्रह की सतह पर तरल रूप में पानी भी हो सकता है। ब्रिटेन में कैंब्रिज और मेडिकल रिसर्च काउंसिल लेबोरेटरी ऑफ मोलेक्यूलर बायोलॉजी के शोधकर्ता पॉल रिमर ने कहा, “यह अध्ययन हमें जीवन की तलाश के लिए बेहतर स्थानों तक सीमित कर सकता है। इससे हम उस सवाल के थोड़ा करीब पहुंच गए हैं जिससे यह पता चल सकता है कि हम ब्रह्माांड में अकेले हैं या नहीं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …