मुख्य पृष्ठ >> अपराध >> हरियाणा टॉपर गैंगरेप: मुख्य आरोपी गिरफ्तार, एसपी पर गिरी गाज

हरियाणा टॉपर गैंगरेप: मुख्य आरोपी गिरफ्तार, एसपी पर गिरी गाज

रेवाड़ी 17 सितम्बर 2018 । हरियाणा के रेवाड़ी जिले में छात्रा से गैंगरेप मामले में एसआईटी के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। एसआईटी ने रविवार देर रात वारदात के साजिशकर्ता और मुख्य आरोपी निशू को गिरफ्तार कर लिया है। वारदात में शामिल दो अन्य की तलाश जारी है, जबकि आरोपियों के मददगार कोठरा मालिक और एक डॉक्टर को भी शिकंजे में लिया गया है।

मेवात की एसपी नाजनीन भसीन ने बताया कि एसआईटी आरोपियों की तलाश में लगातार छापेमारी कर रही थी। इस दौरान मुख्य आरोपियों में से एक निशू को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके अलावा दो अन्य आरोपी पंकज जो सेना का जवान है और मनीष की तलाश जोरों पर है। इसके अलावा गैंगरेप की वारदात में आरोपियों की मदद करने वाले कोठरा मालिक नया गांव जाटों वाला निवासी दीनदयाल पुत्र मीरसिंह और एक डॉक्टर संजीव कुमार को भी एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने जिस स्थान पर वारदात को अंजाम दिया, उस कोठरे का मालिक दीनदयाल है। घटना वाले दिन मुख्य आरोपी निशु दीनदयाल से उसके कोठरे की चाबी लेकर गया था।

एसपी नाजनीन ने बताया कि डॉक्टर संजीव को भी अब तक इस मामले में शामिल पाया गया है। मुख्य आरोपी नीशु था। उसने ही पहले से प्लानिंग की थी और डॉक्टर को भी उसने ही बुलाया था। डॉक्टर संजीव पहले से जानता था कि तीन लड़कों ने उस लड़की को पकड़ रखा है। वह अंत तक प्लान में शामिल रहा, लेकिन उसने किसी को कुछ नहीं बताया। जांच में पता चला है कि नीशु ने कोठरा मालिक से फोन पर बात की थी और बताया था कि उन्हें एक कमरे की जरूरत है।

रेवाड़ी एसपी पर गाज
मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने पुलिस को सख्ती बरतने का निर्देश देते हुए रेवाड़ी के पुलिस अधीक्षक पर कड़ी कार्रवाई की। सीएम की सख्ती के कुछ देर बाद ही रेवाड़ी के एसपी राजेश दुग्गल का तबादला कर दिया गया। उनकी जगह राहुल शर्मा रेवाड़ी के नए एसपी बनाए गए हैं।

मामले पर एडीजीपी की नजर
दक्षिणी क्षेत्र रेवाड़ी के एडीजीपी श्रीकांत जाधव गैंगरेप की इस वारदात के बाद पूरे मामले पर खुद नजर रख रहे हैं। आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के लिए रेवाड़ी के अलावा राजस्थान, दिल्ली व अन्य राज्यों में भी पुलिस टीमें छापेमारी कर रही हैं। इसके अलावा पीड़िता के परिवार की सुरक्षा भी पुलिस ने बढ़ा दी है। उनके घर व आसपास कड़ा पहरा लगाया गया है।

महिला संगठनों की मांग, दरिंदों को फांसी दो
प्रदेश में बेटियों के साथ हो रही दरिंदगी के मामले में महिला संगठनों में भारी रोष है। विभिन्न महिला संगठनों ने सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन और नारेबाजी की। उनकी मांग थी कि महिला एसएचओ को बर्खासत किया जाए और आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर फांसी के फंदे पर लटकाया जाए।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फ्रांस से भारत आएंगे 4 और राफेल लड़ाकू विमान, 101 स्क्वाड्रन को फिर से जिंदा करने के लिए IAF तैयार

नई दिल्ली 15 मई 2021 । राफेल लड़ाकू विमान का एक और जत्था 19-20 मई …