मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> ‘हिंदुस्तानी भाऊ’ को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार, शिकायत में लागाये गये गंभीर आरोप

‘हिंदुस्तानी भाऊ’ को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार, शिकायत में लागाये गये गंभीर आरोप

नयी दिल्ली 1 फरवरी 2022 । बिग बॉस 13 के उम्मीदवार और हमेशा विवादों में रहने वाले YouTuber ‘हिंदुस्तानी भाऊ’ उर्फ ​​​​विकास फाटक की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गयी है। विकास फाटक को मुंबई की धारावी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हिंदुस्तानी भाऊ रक आरोप है कि उन्होंने कुछ छात्रों को महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ के आवास के पास इकट्ठा होने के लिए उकसाया है। ये छात्र वर्षा गायकवाड़ के आवास के बाहर इकठ्ठा हुए और कक्षा 10 और 12 के लिए ऑफ़लाइन परीक्षा रद्द करने की मांग की थी। हिंदुस्तानी भाऊ को पुलिस ने किया गिरफ्तार

समाचार एजेंसी एएनआई ने कहा, फाटक और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। सोशल मीडिया प्रभावित विकास फाटक, जिसे ‘हिंदुस्तानी भाऊ’ के ​​नाम से भी जाना जाता है, को धारावी पुलिस ने धारावी में छात्रों के विरोध के सिलसिले में कल 10 वीं और 12 वीं कक्षा के लिए ऑनलाइन परीक्षा की मांग को लेकर कोविड -19 के मद्देनजर गिरफ्तार किया है। हिंदुस्तानी भाऊ ने कथित तौर पर छात्रों को भड़काते हुए उनका एक वीडियो इंस्टाग्राम पर अपलोड किया था। छात्रों को प्रदर्शन के लिए उकसाने का आरोप

प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता की कई धाराओं के तहत दर्ज की गई है, जिसमें दंगा, महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम और महाराष्ट्र संपत्ति के विरूपण अधिनियम की रोकथाम शामिल है। धारावी पुलिस ने मामले में इकरार खान, वखर खान को भी गिरफ्तार किया है। करीब सौ छात्रों ने सोमवार दोपहर अशोक मिल नाका पर अपनी मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस ने हल्का लाठीचार्ज कर उन्हें मंत्री के आवास की ओर बढ़ने से रोका।

छात्रों ने व्यक्तिगत रूप से कक्षा 10 और 12 के लिए बोर्ड परीक्षा आयोजित करने के खिलाफ तर्क देते हुए कहा कि उन्होंने कोविड प्रतिबंधों के कारण ऑनलाइन अध्ययन किया था। पुलिस अधिकारी ने कहा कि छात्रों के इकट्ठा होने के लिए हिंदुस्तानी भाऊ और अन्य जिम्मेदार थे।

हिंदुस्तानी भाऊ की बढ़ सकती है मुश्किलें

प्रारंभिक जांच के अनुसार, YouTuber हिंदुस्तानी भाऊ ने छात्रों से अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स के माध्यम से विरोध प्रदर्शन में भाग लेने की अपील की थी। एक सवाल के जवाब में, पुलिस उपायुक्त (डीसीपी), जोन वी, प्रणय अशोक ने कहा, “छात्रों को उकसाने के लिए जिम्मेदार किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी”।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

नरेश पटेल की एंट्री के कयास ने लिखी हार्दिक पटेल के एग्जिट की पटकथा

नयी दिल्ली 18 मई 2022 । कांग्रेस से लंबे समय से नाराज चल रहे गुजरात …