मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> मानव अधिकार आयोग ने दिये अगुंलियां कांटने की घटना की जांच के आदेश

मानव अधिकार आयोग ने दिये अगुंलियां कांटने की घटना की जांच के आदेश

नई दिल्ली 30 दिसंबर 2018 । मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के सदस्य मनोहर ममतानी ने खंडवा जिले के खालवा में अंधविश्वास के चलते एक नवजात की मौत हो जाने के मामले में संज्ञान लेकर पुलिस अधीक्षक खंडवा से जांच कराकर समुचित वैधानिक कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए एक माह में प्रतिवेदन मांगा है। आयोग केसदस्य ने पुलिस अधीक्षक, खंडवा से पूछा है कि क्या नवजात की मृत्यु के संबंध में कोई अपराध पंजीबद्ध किया गया है। ऐसे अमानवीय कृत्य से नवजात की मृत्युकारित करने वाली उसकी मां के विरूद्ध क्या कार्यवाही की गई है। उल्लेखनीय है कि खंडवा जिले के खालवा में हाथ प पैरों में छह-छह अगुलियां लेकर जन्मी एक बेटी को उसकी मां ने ही अशुभ मानते हुए बच्ची के हाथ पैरों से हंसिये से एक-एक अंगुली काट दी। इससे इन्फेक्शन फैलने से नवजात बच्ची ने 6 घंटे में ही दम तोड़ दिया।

अस्पताल में नहीं थम रहे पीड़िताें के आंसू

मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के सदस्य मनोहर ममतानी ने छतरपुर जिले के जिला अस्पताल में महिला डाक्टर के नियमित रूप से न बैठने के कारण महिला मरीजों को हो रही अत्यंत कठिनाई को संज्ञान में लेकर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, छतरपुर से एक माह में प्रतिवेदन मांगा है। आयोग सदस्य ने सी.एम.एच.ओ. छतरपुर से पूछा है कि जिला चिकित्सालय में वैकल्पिक/आकस्मिक व्यवस्था किये बिना ही चिकित्सकों की छुटटी क्यों स्वीकृत की जाती है।

बीच सड़क पर गड़े खम्भे से बना रहता है हादसे का डर, जिम्मेदार अनजान

ममतानी ने भोपाल शहर के भेल इलाके के अवधपुरी के ऋषिपुरम फेस एक में 80 फीट सड़क के बीचोंबीच बिजली का एक खम्भा गड़ा होने के कारण सदैव ही हादसे का डर बना रहने तथा शिकायतें करने के बावजूद भी जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा कोई कार्यवाही न किये जाने की कठिनाई को संज्ञान में लेकर महाप्रबंधक, मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी लिमिटेड भोपाल से जांच कराकर की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन एक माह में मांगा है। उन्होंने उपरोक्त स्थान पर कोई दुर्घटना न हो, इसकी क्या व्यवस्था की गई है, की जानकारी उप पुलिस महानिरीक्षक, भोपाल से मांगकर इनसे भी एक माह में प्रतिवेदन मांगा है।
खुले चैम्बर से हो रहे हादसे
मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय सदस्य मनोहर ममतानी ने नगर निगम भोपाल के अधीन सर्वधर्म कालोनी के मार्केट में खुले चैम्बर्स के कारण हादसे होने की समस्या पर संज्ञान लेकर आयुक्त नगर निगम, भोपाल से स्थल निरीक्षण कराकर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए एक माह में प्रतिवेदन मांगा है।

बस स्टैंड पुलिसिया रौब, कहा सर बोलो और पैर छुओ

मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय सदस्य मनोहर ममतानी ने गुना जिला मुख्यालय के बस स्टैंड पर दो पुलिस आरक्षकों द्वारा पुलिसिया रौब दिखाते हुए रात के डेढ़ बजे एक युवक की बेरहमी से पिटाई करने के कारण उसके हाथ में चोट आने और उसका मोबाईल टूटने की घटना पर संज्ञान लेकर पुलिस अधीक्षक गुना से जांच कराकर एक माह में की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन मांगा है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …