मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> शिप्रा में उफान तो गंभीर का लेवल 710 एमसीएफटी के पार

शिप्रा में उफान तो गंभीर का लेवल 710 एमसीएफटी के पार

उज्जैन 16 सितम्बर 2021 । पिछले 20 घंटे से लगातार रूक-रूक कर हो रही बारिश के कारण जहां शिप्रा नदी उफान पर है, वहीं गंभीर डेम का जलस्तर भी लगातार बढ़ रहा है। जिससे पेयजल समस्या को लेकर चिंतत अधिकारियों को भी राहत महसूस हो रही है। हालांकि जब तक गंभीर का जलस्तर पूरा नही होता है, तब तक चिंता बनी रहेंगी।

बुधवार शाम से लगातार हो रही बारिश के चलते शिप्रा नदी उफान पर है, यहां नदी क्षेत्र में स्थित छोटे मंदिर जो घाट पर थे, वह डूब गये है, शिप्रा का पानी छोटे पुल के ऊपर से बहने के कारण इस मार्ग पर यातायात भी रोक दिया गया है। वहीं गंभीर डेम में भी लगातार आवक बनी हुई है। यशवंत सागर का भी एक गेट एक मीटर तक खुलने से गंभीर में जलस्तर ओर बढ़ने की संभावना है। लगातार बारिश से शहर के अधिकतम तापमान में 3 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। जलसंकट से कैसे मिलेंगी राहत
गत वर्ष की तुलना में इस बार बारिश पर्याप्त नही होने से गंभीर डेम का जतलस्तर लगातार गिरता ही जा रहा है, ऐसे में जलसंकट से कैसे राहत मिलेंगी इसको लेकर प्रशासन और नगर निगम ने तैयारियां शुरू कर दी है। विकल्प के रूप में नर्मदा नदी से पाईप लाईन के जरिये पानी लाकर एनवक्त पर पेयजल संकट को दूर किया जा सकता है।

300 मिमी बारिश की जरुरत
बीते 15 घंटों से हो रही बारिश से अभी तक औसत 23 मिमी बारिश रेकॉर्ड की गई है। इसके साथ ही उज्जैन में अब तक 623 मिमी बारिश हो चुकी है। जबकि पर्याप्त बारिश के आंकड़े तक पहुंचने के लिए कम से कम औसत बारिश 950 मिमी होना चाहिए, इस हिसाब से अभी 300 मिमी बारिश की और आवश्यकता है। गंभीर का लेबल 610 तक पहुंचा
बताया जाता है कि सुबह 6 बजे गंभीर डैम की कैपेसिटी 484 एमसीएफटी थी, रात्रि में 12.10 पर यशवंत सागर डैम इंदौर का एक गेट 1 मीटर खोला गया था जो अभी तक चालू है। पिछले 12 घंटे में लगभग 60 एमसीएफटी पानी बढ़ गया है। यशवंत सागर डैम इंदौर से छोड़े गए पानी की आवक लगभग शाम तक आने की संभावना है। यह वृद्धि तो उज्जैन के डैम के कैचमेंट एरिया में हुई बारिश के कारण है। हल्की से मध्यम बारिश अभी जारी है और आवक भी जारी है। दोपहर 2 बजे डैम का लेवल 710 एमसीएफटी के पार हुआ।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …