मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> सन 2017-19 के चुनाव में धांधली और पत्रकारों को फर्जी बताने वाले विरोधियो की हुई हार

सन 2017-19 के चुनाव में धांधली और पत्रकारों को फर्जी बताने वाले विरोधियो की हुई हार

उज्जैन 3 मार्च 2021 । सोसायटी फॉर प्रेस क्लब को न्यायालय प्रथम व्यवहार न्यायधीश वर्ग 2 ने अपने महत्वपूर्ण फैसले में राहत दी है। न्यायालय ने वादीगण द्वारा प्रस्तुत वाद को निरस्त किया गया है।
वादीगण निरूक्त पिता स्व.डॉ रामस्वरूप भागर्व, शैलेन्द्र पिता दिनेश चंन्द्र कुल्मी, सुनील पिता स्व. लक्ष्मणसिंह मगारिया, सचिन पिता स्व. संतोष कुमार कासलीवाल व जय पिता स्व. सुरेश चंन्द्र कौशल ने सोसायटी फॉर प्रेस क्लब के विरूद्ध एक वाद दायर किया था। वादीगणों द्वारा सोसायटी फॉर प्रेस क्लब में वर्ष 2017-2019 के निवार्चन को चुनौती दी गई थी। वादीगणों द्वारा सोसायटी फॉर प्रेस क्लब द्वारा मतदाता सूची में शामिल किए गए नय सदस्यों को अवैधानिक रूप से शामिल करना बताया गया था। अपने फैसले में न्यायाधीश श्रीमती मीनू पचौरी ने लिखा की प्रकरण के अवलोकन से दर्शित है कि वादीगणों द्वारा न्यायालय के समक्ष प्रतिवादी संस्था के निर्वाचन 2017 से 2019 को चुनौती देते हुए वाद प्रस्तुत किया था। यह कि वर्ष 2019 में प्रतिवादी एक संस्था के पुन: निवार्चित सम्पन्न हो चुके है। उक्त समस्त तत्थों को वादी द्वारा भी स्वीकार किया गया है, अत: यह साबित होता है कि वर्तमान वाद में कोई वाद कारण शेष नहीं रह गया है। इसी लिए उक्त वाद विधि द्वारा वर्जित होकर प्रचलन योग्य नहीं है। अत: वादी द्वारा प्रस्तुत वाद निरस्त किया जाता है। सोसायटी फॉर प्रेस क्लब की ओर से प्रकरण की पैरवी अभिभाषक राजकुमार झंवर ने की।
इन पर थी आपत्ति
वादीगणों को अभिमन्यू सिंह चंदेल, अभिषेक नागर, चेतन्य वशिष्ठ, गोविंद यादव, घनश्याम शर्मा, जगमोहन जयसवाल, मेहन्दी हुसैन, प्रेम डोडिया, प्रणव चन्द्र मोहन, राजेशसिंंह कुशवाह, सुरेश सोनी, सोहनसिंह ठाकूर, एसएन सोमानी, शुभम बमने, शिरीष राव मोर्रे, शुभम जयसवाल, शैलेष नागर, शिवेन्द्रसिंह भदौरिया, योगेश शर्मा, वरूण पंडया, विवेक सोनी, विजय शर्मा तथा राजेन्द्र पुरोहित के नाम को मतदाता सूची में अवैधानिक रूप से शामिल करना बताया था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …