मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> कोरोना संकट पर भारत फिर मदद को आया आगे अब करेगा गेहूं का निर्यात

कोरोना संकट पर भारत फिर मदद को आया आगे अब करेगा गेहूं का निर्यात

नई दिल्ली 12 अप्रैल 2020 । कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी पर भारत ने अन्य देशों में दवाइयां भेजने के बाद एक बार फिर मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं।

भारत अब जरूरतमंद देशों को खाद्यान्न का निर्यात भी करेगा। इसके लिए सरकारी एजेंसी नैफेड काम करेगी। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Agriculture Minister of India) के अनुसार भारत में गेहूं की पैदावार ज्यादा है ऐसे में 50 हजार मीट्रिक टन गेहूं का एक्सपोर्ट अफगानिस्तान और 40 हजार मीट्रिक टन गेहूं का एक्सपोर्ट किया जाएगा।

हालांकि यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी कुछ साल में भारत ने अन्य देशों को अनाज भेजा है। साल 2011-12, 2013-14 और 2017-18 में भारत ने 3.5 लाख मीट्रिक टन गेहूं अफगानिस्तान को दान किया था। साल 2012-13 में मानवीय सहायता के नाते भारत सरकार ने 2,447 मीट्रिक टन गेहूं यमन को दिया था।
इसके अलावा श्रीलंका, नामीबिया, लेसोथो और म्यांमार को चावल की मदद दी गई थी। इस बार किसानों से एमएसपी पर खरीदे गए गेहूं का ही एक्सपोर्ट किया जाएगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भारत में कोरोना का सबसे बड़ा अटैक, एक दिन में पहली बार 2 लाख 34 हजार नए केस

नई दिल्ली 17 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर हर दिन नए रिकॉर्ड बना …