मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> कोरोना संकट के बीच भारत पर मंडराया ‘चक्रवाती तूफान’ का खतरा

कोरोना संकट के बीच भारत पर मंडराया ‘चक्रवाती तूफान’ का खतरा

नईदिल्ली 27 अप्रैल 2020 ।  पूरा भारत इस वक्त कोरोना संकट से जंग लड़ रहा है तो वहीं इसी बीच देश पर ‘चक्रवाती तूफान’ का खतरा मंडरा रहा है, स्काईमेट वेदर के मुताबिक ये तूफान मई महीने में देश में दस्तक दे सकता है, बंगाल की खाड़ी से उठने वाला तूफान ओडिशा और उसके आस-पास के राज्य के लिए मुसीबत बन सकता है, आशंका जताई जा रहा है कि ये ‘चक्रवाती तूफान’ 1 मई से तीन मई के बीच आ सकता है, ऐसा माना जाता है कि साल में दो बार ऐसा होता है, जब ‘चक्रवाती तूफान’ आने की आशंका होती है।’चक्रवाती तूफान’ का खतरा
पहला मौका मानसून सीजन से पहले और दूसरा मानसून सीजन के बाद, और मानसून सीजन आम तौर पर जून के पहले महीने में शुरू होता है, इस बार ये तूफान मानसून से पहले आने की आशंका व्यक्त करता है।क्या होता ‘साइक्लोन’
भारत और दुनिया भर के तटीय इलाके हमेशा ‘चक्रवाती तूफानों’ से जूझते रहते हैं, ‘चक्रवाती तूफानों’ को अलग-अलग जगह के हिसाब से अलग-अलग नाम दिया जाता है, साइक्लोन, हरिकेन और टाइफून, ये तीनों ही चक्रवाती तूफान होते हैं।

भारत में आते हैं ‘साइक्लोन’

उत्तरी अटलांटिक महासागर और उत्तरी-पूर्वी प्रशांत महासागर में आने वाले चक्रवाती तूफान हरिकेन कहलाते हैं, उत्तरी-पश्चिमी प्रशांत महासागर में आने वाले चक्रवाती तूफानों को टायफून और दक्षिणी प्रशांत और हिन्द महासागर में आने वाले तूफानों को साइक्लोन कहा जाता है, भारत में आने वाले चक्रवाती तूफान दक्षिणी प्रशांत और हिन्द महासागर से ही आते हैं इसलिए इन्हें ‘साइक्लोन’ कहा जाता है।क्यों आते हैं चक्रवात?
पृथ्वी के वायुमंडल में हवा होती है, समुद्र के ऊपर भी जमीन की तरह ही हवा होती है, हवा हमेशा उच्च दाब से निम्न दाब वाले क्षेत्र की तरफ बहती है, जब हवा गर्म हो जाती है तो हल्की हो जाती है और ऊपर उठने लगती है, जब समुद्र का पानी गर्म होता है तो इसके ऊपर मौजूद हवा भी गर्म हो जाती है और ऊपर उठने लगती है, इस जगह पर निम्न दाब का क्षेत्र बनने लग जाता है, आस पास मौजूद ठंडी हवा इस निम्न दाब वाले क्षेत्र को भरने के लिए इस तरफ बढ़ने लगती है, इस वजह से यह हवा सीधी दिशा में ना आकर घूमने लगती है और चक्कर लगाती हुई उस जगह की ओर आगे बढ़ती है,इसे ‘चक्रवात’ कहते हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

फतह मुबारक हो मुसलमानो, भारत के खिलाफ जीत इस्लाम की जीत…जश्न मनाने के बदले जहर उगलने लगा पाक

नई दिल्ली 25 अक्टूबर 2021 । खराब बल्लेबाजी और खराब गेंदबाजी की वजह से टीम …