मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> पाक के दुस्साहस पर भारतीय सेना का पीओके में बड़ा हमला

पाक के दुस्साहस पर भारतीय सेना का पीओके में बड़ा हमला

नई दिल्ली 21 अक्टूबर 2019 । बॉर्डर पर पाकिस्तान के दुस्साहस का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। रविवार सुबह पाकिस्तानी सेना ने आतंकियों की घुसपैठ कराने के इरादे से अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें दो सैनिक शहीद हो गए। भारतीय सेना ने इसका करारा जवाब देते हुए पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया है। पीओके से संचालित आतंक के अड्डों पर तोपों (आर्टिलिरी गन) से गोलाबारी जारी है। सीमा पर हालात एक बार फिर तनावपूर्ण हो गए है। पाकिस्तान की तरफ से यह हरकत ऐसे समय की गई है जब करतारपुर कॉरिडोर को लेकर संबंध सुधरते दिख रहे थे।

4 आतंकी ठिकाने तबाह, 5 पाकिस्तानी सैनिक ढेर

मिली जानकारी के मुताबिक, भारतीय सेना ने नीलम घाटी (पीओके स्थित) चार टेरर कैंप्स को तबाह किया। सूत्रों का कहना है कि भारत के हमले में पाकिस्तानी सेना के कम से कम 5 जवान मारे गए हैं।

भारत द्वारा यह कार्रवाई तंगधार सेक्टर के ठीक दूसरी तरफ पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में की गई है। आपको बता दें कि तंगधार सेक्टर में ही पाकिस्तान ने आज सुबह सीजफायर का उल्लंघन किया था। इसमें जानमाल को भी काफी नुकसान पहुंचा है। एक नागरिक की मौत हुई है और 3 अन्य घायल हुए हैं। कई घर भी पाकिस्तान की गोलीबारी में क्षतिग्रस्त हो गए।

तोप से तबाह किए आतंकी ठिकाने
पाकिस्तान द्वारा की गई उकसावे की हरकत के बाद भारतीय सेना ने पड़ोसी देश को करारा जवाब दिया है। इसमें आर्टिलरी गन्स (तोपों) द्वारा पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में आतंकी अड्डों पर गोलाबारी की जा रही है। इनपुट मिल रहे थे कि इन ठिकानों में मौजूद आतंकियों को पाक सेना भारत भेजने की तैयारी में थी।

सुबह सीजफायर उल्लंघन में दो जवान शहीद
इससे पहले जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के तंगधार सेक्टर में रविवार सुबह पाकिस्तान ने घुसपैठियों को भारतीय सीमा में भेजने की कोशिश के दौरान सीजफायर उल्लंघन किया। पाकिस्तान की गोलीबारी में भारत के दो सैनिक शहीद हो गए। पाकिस्तान की इस कायराना हरकत में एक मकान और एक चावल का गोदाम पूरी तरह तहस-नहस हो गया। वहीं, दो कारों एवं दो गोशालाओं को नुकसान पहुंचा है। दोनों गोशालाओं में 19 मवेशी और भेड़ें थीं।

भारतीय सैनिक यहां की हर चीज तबाह कर देंगे। चश्मीदीदों ने कहा
भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में काफी घबराहट है। लोग दहशत में हैं कि पाक की नापाक करतूत का अंजाम कहीं उन्हें भी न भुगतना पडे़। पीओके के स्थानीय निवासियों ने कहा, जिस तरह से हमले हो रहे थे, ऐसा लग रहा था जैसे भारतीय सैनिक यहां की हर चीज तबाह कर देंगे। हालांकि, भारतीय सेना ने आबादी वाले इलाकों को निशाना नहीं बनाया। चश्मीदीदों ने कहा, सेना के गोले आतंकियों के लॉन्च पैडों पर आसमानी शोलों की तरह बरस रहे थे। कई निवासियों ने सोशल मीडिया पर भारतीय सेना की कार्रवाई का वीडियो भी अपलोड किया है। निवासियों का दावा है कि भारतीय सेना ने खास तरह का गोला बारूद का इस्तेमाल किया।

इसे ट्रेसर एम्युनिशन कहते हैं। गोले में इसी का इस्तेमाल किया गया है, जो बारूद के जरिए धमाका करती है।

रात के वक्त यह तेज आवाज और चमक के साथ निशाने को भेदती है। पीओके के एक आपदा प्रबंधन अधिकारी अख्तर अयूब का कहना है कि भारतीय सेना के हमले से नीलम घाटी का जूरा सेक्टर सबसे ज्यादा प्रभावित रहा। यहां आतंकियों के लॉन्च पैड तकरीबन तबाह हो गए।

जूरा के एक निवासी रजा अवान ने बताया कि ऐसा लग रहा था कि भारतीय सेना यहां की हर चीज को नेस्तनाबूद करने पर आमादा है। वहीं, अथमुकम के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पाक सेना के स्वास्थ्य संस्थान को भी खासा नुकसान पहुंचा है। उन्होंने बताया कि भारतीय सेना के गोलों ने कुछ घरों को भी नुकसान पहुंचाया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘इंडोर प्लान’ से OBC वोटर्स को जोड़ेगी BJP, सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों में उतरेगी टीम

नयी दिल्ली 25 जनवरी 2022 । उत्तर प्रदेश की आबादी में करीब 45 फीसदी की …