मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> भारत सरकार ने भी माना सचिन अतुलकर नंबर वन आईपीएस.. सागर नंबर वन घोषित

भारत सरकार ने भी माना सचिन अतुलकर नंबर वन आईपीएस.. सागर नंबर वन घोषित

उज्जैन 18 अगस्त 2018 । आईपीएस अधिकारी सचिन कुमार अतुलकर के कार्यकाल में एमपी के सागर को क्राइम कंट्रोल के मामले में नंबर वन के खिताब से नवाज़ा गया है। यह सर्वे भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय ने किया था। इसप्रकार भारत सरकार ने भी माना है कि IPS अधिकारी सचिन कुमार अतुलकर नंबर वन अधिकारी है। क्राइम कंट्रोल में उनका कोई जवाब नहीं है। दरअसल केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय ने देश के सभी शहरों का अलग-अलग परिस्थितियों और अपराध की दृष्टि से सर्वे करवाया था। इसका मुख्य उद्देश्य था कि कौन से शहर में रहा जा सके और कौन सा शहर सबसे ज्यादा सुरक्षित है? इस सर्वे में सन 2017 में मध्य प्रदेश का सागर जिला सबसे सुरक्षित शहर के रूप में नंबर वन पर आया है । सागर को देश का सबसे सुरक्षित शहर घोषित किया गया है। सागर की आबादी 2800000 है और गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह भी सागर जिले के निवासी है । पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर साल 2017 में सागर में SP के रूप में पदस्थ थे, उस दौरान यह सर्वे किया गया था। इस सर्वे के परिणाम भले ही अभी घोषित किए गए हो लेकिन उज्जैन के लिए भी गौरव की बात है कि यहां ऐसे अधिकारी को पदस्थ किया गया है जो देशभर में क्राइम कंट्रोल के मामले में अव्वल है । पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने सागर में भी अपने कार्यकाल के दौरान जमकर प्रतिबंधात्मक कारवाई की थी। सागर जिले की बात की जाए तो वहां क्राइम का आंकड़ा 7000 से ऊपर है। हालांकि यह आंकड़ा सागर जिले की आबादी के मान से बहुत कम है। पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने अपने कार्यकाल में पुराने अपराधों को भी ट्रेस करने में काफी सफलता अर्जित की थी। इसके अलावा उन्होंने महिला अपराधों को रोकने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाए, जिसकी वजह से सागर को देश के सबसे सुरक्षित शहर का खिताब मिला है। अगर सागर जिले की भौगोलिक परिस्थितियों के बारे में बात की जाए तो वहां पूर्व में क्राइम का रिकॉर्ड काफी खराब रहा है। पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने अपने कार्यकाल में अपराध पर रोकथाम करने के लिए कई प्रयास किए। सागर में कई स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए। इसके अलावा क्राइम कंट्रोल के लिए नए नए प्रयोग किए जा कर सामुदायिक पुलिसिंग पर काफी जोर दिया, इसी वजह से सागर सर्वे में नंबर वन है । सागर को विकास की दृष्टि से नापा जाए तो यह मध्य प्रदेश के दूसरे जिलों की बनिस्बत काफी पीछे है, लेकिन क्राइम के मामले में सागर को देश का सबसे अव्वल शहर घोषित किया गया है। इसके लिए पुलिस विभाग के आला अधिकारियों ने IPS अधिकारी सचिन कुमार अतुलकर को बधाइयां भी दी है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

आयुष्मान भारत ने लाखों लोगों को गरीबी के दलदल में फंसने से बचाया: पीएम नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली 27 सितम्बर 2021 । पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को आयुष्मान भारत डिजिटल …