मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> ट्रम्प के साथ दौरे पर आ रही भारत की ये बेटी, मिलने की आस में बैठे गांव वाले

ट्रम्प के साथ दौरे पर आ रही भारत की ये बेटी, मिलने की आस में बैठे गांव वाले

बस्ती  23 फरवरी 2020 ।अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सोमवार को दो दिन के भारत दौरे पर आ रहे हैं। ट्रम्प के साथ उनकी पत्नी मेलानिया, बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुश्नर भी साथ आ रहे हैं। इसके अलावा ट्रम्प के साथ 12 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भारत आ रहा है। इसमें अमेरिकी राजदूत केनेथ जस्टर, वाणिज्य विभाग के सचिव विल्बर रॉस, ऊर्जा विभाग के सचिव डैन ब्रोइलेट और राष्ट्रपति के सहायक मिक मुलवेनी शामिल हैं। इसके अलावा एक और नाम रीता बरनवाल है, जो भी इस प्रतिनिधिमंडल हिस्सा है। रीता उत्तरप्रदेश की हैं, वे अमेरिका के परमाणु ऊर्जा विभाग की प्रमुख हैं।

रीता बरनवाल उत्तर प्रदेश के बस्ती के बहादुरपुर गांव की रहने वाली हैं। रीता ट्रम्प के साथ भारत दौरे पर मौजूद रहेंगी। जैसे ही गांव के लोगों को यह बात पता चली, गांव में खुशी की लहर दौड़ गई। गांव के लोगों ने उनसे मुलाकात की इच्छा जताई है।
रीता बरनवाल उत्तर प्रदेश के बस्ती के बहादुरपुर गांव की रहने वाली हैं। रीता ट्रम्प के साथ भारत दौरे पर मौजूद रहेंगी। जैसे ही गांव के लोगों को यह बात पता चली, गांव में खुशी की लहर दौड़ गई। गांव के लोगों ने उनसे मुलाकात की इच्छा जताई है।
रीता का जन्म बहादुरपुर में हुआ था। वे जन्म के कुछ सालों बाद अपने पिता और मां के साथ अमेरिका चली गईं। जहां उन्हें नागरिकता मिल गई।
रीता का जन्म बहादुरपुर में हुआ था। वे जन्म के कुछ सालों बाद अपने पिता और मां के साथ अमेरिका चली गईं। जहां उन्हें नागरिकता मिल गई।
रीता के रिश्तेदारों ने अमेरिकी दूतावास में आवेदन किया है, जिससे उन्हें उनसे मिलने की अनुमति मिल सके। अगर अनुमति मिलती है तो ये लोग दिल्ली जाएंगे। रीता 10 साल पहले बहादुरपुर आई थीं।
रीता के रिश्तेदारों ने अमेरिकी दूतावास में आवेदन किया है, जिससे उन्हें उनसे मिलने की अनुमति मिल सके। अगर अनुमति मिलती है तो ये लोग दिल्ली जाएंगे। रीता 10 साल पहले बहादुरपुर आई थीं।
रीता के पिता कृष्ण चन्द्र बरनवाल काफी वक्त पहले अमेरिका गए थे। इसके बाद वे वहीं बस गए। रीता ने एमआईटी से पदार्थ विज्ञान एवं अभियांत्रिकी में ग्रैजुएशन किया। उन्होंने मिशिगन यूनिवर्सिटी से पीएचडी की है।
रीता के पिता कृष्ण चन्द्र बरनवाल काफी वक्त पहले अमेरिका गए थे। इसके बाद वे वहीं बस गए। रीता ने एमआईटी से पदार्थ विज्ञान एवं अभियांत्रिकी में ग्रैजुएशन किया। उन्होंने मिशिगन यूनिवर्सिटी से पीएचडी की है।
जुलाई 2019 में रीता परमाणु उर्जा विभाग के प्रमुख पद पर नियुक्त हुई हैं। रीता का परिवार अभी भी बहादुरपुर गांव में रह रहा है।
जुलाई 2019 में रीता परमाणु उर्जा विभाग के प्रमुख पद पर नियुक्त हुई हैं। रीता का परिवार अभी भी बहादुरपुर गांव में रह रहा है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें परिणाम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश

नई दिल्ली 24 जून 2021 । देश के सभी राज्य बोर्डों के लिए समान मूल्यांकन …