मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> IRCTC ने शुरू की ये खास सर्विस! अब सस्ती और आसान हुई टिकट बुकिंग

IRCTC ने शुरू की ये खास सर्विस! अब सस्ती और आसान हुई टिकट बुकिंग

नई दिल्ली 25 अप्रैल 2019 । भारतीय रेलवे अपने यात्रियों की सुविधाओं को बेहतर करने के लिए लगातार कदम उठता रहा है. रेलवे ने हाल में गर्मी की छुट्टियों की अभी से तैयारी कर ली है. इस बार रेलवे ने गर्मी की छुट्टियों में 14 समर स्पेशल ट्रेन का तोहफा दिया है. वहीं, इंडियन रेलवे कैटरिंग और टूरिज्म कॉर्पोरेशन (IRCTC) ने नया सिस्टम शुरू किया है. इसके ज़रिए टिकट बुकिंग सस्ती हो गई है. साथ ही, रेल यात्री अब तेजी से टिकट बुक कर पाएंगे. आपको बता दें कि रेलवे गर्मियों की छुट्टी में पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए कई स्पेशल ट्रेन चला रही है. ये कदम रेलवे ने बढ़ रही डिमांड को देखते हुए उठाया है. आइए जानें क्या है नई सर्विस…

क्या है नया सिस्टम-

इंडियन रेलवे कैटरिंग और टूरिज्म कॉर्पोरेशन (IRCTC) ने अपना पेमेंट एग्रिगेटर सिस्टम (Payment Aggregator System) IRCTC iPay शुरू किया है.
इसके जरिए यात्रियों को पेमेंट करने के लिए थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं करना होगा. IRCTC iPay में UPI, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड और इंटरनेशनल कार्ड जैसे पेमेंट विकल्प मौजूद हैं.
IRCTC इस प्लेटफॉर्म पर प्रीपेड कार्ड वॉलेट जैस विकल्प भी उपलब्ध करा रही है. इसका सीधा मतलब यह है कि IRCTC के पास पेमेंट सिस्टम का पूरा कंट्रोल है.
IRCTC के मुताबिक, यह प्लेटफॉर्म बैंक और IRCTC के बीच के अंतर को खत्म कर देगा जिससे पेमेंट फेल होने के मामले कम हो जाएंगे. उदाहरण के तौर पर अगर कोई ट्रांजेक्शन फेल होती है तो IRCTC सीधे बैंक से संपर्क करेगा.
साथ ही ये उन यात्रियों के लिए भी अच्छा है जो IRCTC की सुविधाएं लेते हैं. आईआरसीटीसी ने स्टेटमेंट में कहा कि IRCTC iPay के लॉन्च होने से यात्रियों को किसी थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म से पेमेंट करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी.

सस्ता है टिकट बुक करना-

IRCTC की ओर से किए गए ट्विट में बताया है कि यात्री अब डेबिट कार्ड के जरिए ई-टिकट बेहद आसानी से बुक कर सकते हैं. साथ ही, उन्हें अब एक लाख रुपये तक के ट्रांजेक्शन पर कोई भी पेमेंट गेटवे चार्जेस नहीं चुकाना होगा.

पेमेंट फेल होने की संभावना कम

 इस नई व्यवस्था में IRCTC का बैंक, कार्ड नेटवर्क और दूसरे पार्टनर से सीधा संबंध होने के कारण IRCTC का सभी पेमेंट पर पूरा कंट्रोल होगा.
IRCTC की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि ये बैंक और IRCTC के बीच के अंतर को कम करेगा जिससे पेमेंट कम फेल हुआ करेंगी.
इसके अलावा अगर कभी कोई ऑनलाइन ट्रांजेक्शन फेल होती है, या फिर कोई दूसरी मुश्किलें सामने आती हैं तो IRCTC सीधे बैंक के संपर्क में आ सकता है, जिससे कि इस प्रक्रिया में बिना वजह की देरी नहीं होगी.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …