मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> ISRO की जागी उम्मीद, खोज निकाला विक्रम लैंडर

ISRO की जागी उम्मीद, खोज निकाला विक्रम लैंडर

नई दिल्ली 9 सितम्बर 2019 ।  SRO से विक्रम लैंडर के संपर्क टूटने के बाद आज यानी रविवार को एक बड़ी खबर सामने आई है. दरअसल, चांद पर विक्रम लैंडर की स्थिति का पता चल गया है. ने थर्मल इमेज कैमरा से उसकी तस्वीर ली है. हालांकि अभी तक विक्रम लैंडर से कोई भी संपर्क नहीं हो पाया है. लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि विक्रम लैंडर लैंडिंग वाली तय जगह से 500 मीटर दूर पड़ा है. चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर में लगे ऑप्टिकल हाई रिजोल्यूशन कैमरा (OHRC) ने विक्रम लैंडर की तस्वीर ली है. अब वैज्ञानिक ऑर्बिटर के जरिए विक्रम लैंडर से संपर्क करने की कोशिश.
डेटा एनालिसिस के बाद ही पता चलेगा कि भविष्य में विक्रम लैंडर और प्रज्ञान रोवर कितना काम करेंगे. फ़िलहाल सभी वैज्ञानिक अभी यह पता कर रहे हैं कि चांद की सतह से 2.1 किमी ऊंचाई पर विक्रम अपने तय मार्ग से क्यों भटका. ऐसा अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि विक्रम लैंडर के साइड में लगे छोटे-छोटे 4 स्टीयरिंग इंजनों में से किसी एक ने काम न किया हो.
इसके अलावा चांद ऑर्बिटर में लगे ऑप्टिकल हाई रिजोल्यूशन कैमरा (OHRC) से विक्रम लैंडर की और भी तस्वीरें ली जाएंगे. यह कैमरा चांद की सतह पर 0.3 मीटर यानी 1.08 फीट तक की ऊंचाई वाली किसी भी चीज़ की बिलकुल साफ तस्वीर ले सकता है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …