मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> यह मेरा ही नहीं पूरे महकमे का सम्मान है- एसपी सचिन अतुलकर

यह मेरा ही नहीं पूरे महकमे का सम्मान है- एसपी सचिन अतुलकर

उज्जैन 20 अप्रैल 2019 । उज्जैन में अपराधों की रोकथाम करने में यहां के आम लोगों ने भी काफी योगदान दिया है । उज्जैन में जिस प्रकार से अपराधियों के खिलाफ लगातार आम लोगों का सहयोग मिला है वह अविस्मरणीय है ।दिल्ली में केवल मेला मेरा ही नहीं बल्कि पूरे पुलिस महकमे का सम्मान हुआ है।
यह बात पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने उज्जैन चर्चा से चर्चा में गई उन्होंने कहा कि दिल्ली में एनजीओ द्वारा सम्मानित किए जाने की सूचना भोपाल से प्राप्त हुई थी। उन्होंने यह भी कहा कि मुझे पता नहीं था कि कब एनजीओ द्वारा मेरा नाम सम्मान के लिए चयनित किया गया। गौरतलब है कि पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने अपने छोटे से कार्यकाल के दौरान उज्जैन में अपराधों की रोकथाम के लिए जो कदम उठाया है वह देशभर में मीडिया और सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित हो चुके हैं। उज्जैन में अभियान पवित्र ने वास्तव में धार्मिक नगरी उज्जैन को पवित्र बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर ने बिना किसी दबाव के पुलिस की कार्यशैली को जनहित में जिस प्रकार से प्रचलित किया है, वह सराहनीय है।

उज्जैन जैसे छोटे शहर की आबादी के मान से यहां अपराध की संख्या बेहद कम हो चुकी है। उज्जैन जिले में हजारों की संख्या में असामाजिक तत्वों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई हो चुकी है । इसके अलावा पुलिस ने आम लोगों के बीच जो विश्वास जीता है वह भी स्वागत योग्य है । पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर की कार्यशैली के कारण देहात के पुलिस थानों में भी पुलिसिंग बदली है । जहां पर पहले आम लोगों को छोटी-छोटी दिक्कतों से रूबरू होना पड़ता था अब वहां काफी सुधार दिखाई दे रहा है । उज्जैन में पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिस प्रकार से नए प्रयोग किए वह भी उनकी पहचान बन गए हैं। पुलिस कप्तान श्री अतुल को दिल्ली में अर्थशास्त्री श्री बी. देबराय द्वारा सम्मानित किया गया। श्री देबराय ने सामाजिक क्षेत्रों में भी सराहनीय कार्य किए हैं । वे लेखक होने के साथ-साथ लगातार सामाजिक कार्यों से जुड़े रहे हैं । पुलिस अधीक्षक सचिन कुमार अतुलकर का दिल्ली में सम्मानित होना उज्जैन के लिए भी गौरव की बात है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

किश्तवाड़ में बादल फटने से पांच की मौत, 40 से ज्यादा लोग लापता

नई दिल्ली 28 जुलाई 2021 ।  जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश का कहर देखने को मिला …