मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> जम्मू-कश्मीर के हालात खराब, एक और सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत : आर्मी चीफ

जम्मू-कश्मीर के हालात खराब, एक और सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत : आर्मी चीफ

नई दिल्ली 25 सितम्बर 2018 । सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार स्थित आतंकी ठिकानों पर एक और सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने की ज़रूरत है. यह पूछे जाने पर कि क्या एक और सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत है, रावत ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में मौजूदा हालात को देखते हुए यह कार्रवाई की जानी चाहिए.

एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि एक और कार्रवाई (सर्जिकल स्ट्राइक) की जरूरत है. लेकिन मैं यह खुलासा नहीं करना चाहता कि हम इसे कैसे अंजाम देना चाहते हैं.

बता दें कि भारतीय सेना ने दो साल पहले 29 सितंबर को नियंत्रण रेखा के पार आतंकियों के ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की थी. रावत ने रविवार को सरकार के उस फैसले का समर्थन किया था, जिसमें पाकिस्तान के साथ वार्ता रद्द कर दी गई थी.

भारत की अनिच्छा के बावजूद शांति प्रयास जारी रखेगा पाक: कुरैशी
पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ बातचीत की भारत की अनिच्छा के बावजूद इस्लामाबाद क्षेत्र में शांति को बढावा देने के अपने प्रयास नहीं रोकेगा. कुरैशी ने यह बयान नई दिल्ली द्वारा न्यूयॉर्क में विदेश मंत्री स्तरीय बातचीत रद्द करने के कुछ दिन बाद दिया है.

वाशिंगटन में पाकिस्तानी दूतावास में रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कुरैशी ने कहा कि भारत सितंबर में जिस शांति वार्ता के लिए सहमत हुआ था उसे रद्द करने के लिए जुलाई में हुई घटनाओं का इस्तेमाल किया.

भारत ने जम्मू कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों की ‘बर्बर’ हत्याओं तथा कश्मीरी आतंकवादी बुरहान वानी का ‘महिमामंडन’ करने वाले डाक टिकट जारी करने के आधार पर न्यूयॉर्क में इस महीने संयुक्त राष्ट्र महासभा के इतर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष कुरैशी के बीच बैठक रद्द कर दी थी.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …