मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> भेष बदलकर खजुराहो को बनाया ठिकाना, लगातार लोकेशन भी बदली; कालीचरण महाराज तक ऐसे पहुंची पुलिस

भेष बदलकर खजुराहो को बनाया ठिकाना, लगातार लोकेशन भी बदली; कालीचरण महाराज तक ऐसे पहुंची पुलिस

खजुराहो 30 दिसंबर 2021 । छत्तीसगढ़ के रायपुर में आयोजित हुई धर्म संसद में महात्मा गांधी पर अमर्यादित टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज खजुराहो में पुलिस के डर से भेष बदलकर रह रहे थे। इतना ही नहीं कालीचरण महाराज लगातार पुलिस की गिरफ्त में आने से बचने के लिए अपनी लोकेशन भी बदल रहे थे। गुरुवार सुबह करीब 4:30 बजे रायपुर पुलिस ने कालीचरण महाराज को छतरपुर के खजुराहो स्थित एक होटल से गिरफ्तार किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, एफआईआर होने के बाद जब कालीचरण महाराज को अरेस्ट करने के लिए रायपुर पुलिस की आधा दर्जन टीमें बनाई गईं तो वह पुलिस से बचने के लिए अपनी लोकेशन बदलने लगे। इस दौरान कालीचरण महाराज लगातार अपना भेष भी बदल रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो चुके कालीचरण महाराज एक आम पर्यटक की तरह खजुराहो में घूम रहे थे।

PCC चीफ ने दर्ज कराई थी FIR
आपको बता दें कि 26 दिसंबर को रायपुर के धर्म संसद में महात्मा गांधी पर संत कालीचरण ने अपमानजनक टिप्पणी करते हुए उन्हें मारने वाले नाथूराम गोडसे को साष्टांग प्रणाम किया था। इस मामले को लेकर पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने सिविल लाइन और रायपुर निगम के सभापति प्रमोद दुबे ने टिकरापारा थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी। रायपुर पुलिस ने कालीचरण के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) (विभिन्न वर्गों के बीच शत्रुता, घृणा या द्वेष पैदा करने या बढ़ावा देने वाले बयान) तथा 294 (अश्लील कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया था।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘राजपूत नहीं, गुर्जर शासक थे पृथ्वीराज चौहान’, गुर्जर महासभा की मांग- फिल्म में दिखाया जाए ‘सच’

नयी दिल्ली 21 मई 2022 । राजस्थान के एक गुर्जर संगठन ने दावा किया कि …