मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> ‘आचार संहिता के कारण ऋण माफी नहीं हो पाई, चुनाव बाद शीघ्र स्वीकृत की जाएगी

‘आचार संहिता के कारण ऋण माफी नहीं हो पाई, चुनाव बाद शीघ्र स्वीकृत की जाएगी

 भोपाल 11 मार्च 2019 । प्रदेश में सत्ता हासिल करने के सात दिन के भीतर ही किसानों का दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने का दावा करने वाली कांग्रेस सरकार 75 दिन के बाद भी अपने वादे को पूरा नहीं कर पाई है। आवेदन जमा होने के बाद चिन्हित किसानों को प्रमाण-पत्र तो दे दिए परंतु बैंकों में पैसा न होने के कारण किसान ठगा महसूस कर रहे हैं।

रविवार को जैसे ही लोकसभा चुनाव की तारीख की घोषणा होने की खबर मिली वैसे ही दोपहर में मुख्यमंत्री के नाम से किसानों को मोबाइल पर मैसेज भेजने का सिलसिला शुरू हो गया।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के हवाले से भेजे जा रहे मोबाइल मैसेज में कहा जा रहा है कि ‘जय किसान फसल ऋण माफी योजना में आपका आवेदन मिला है। लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के कारण आपकी ऋण माफी नहीं हो पाई है। चुनाव के बाद शीघ्र स्वीकृति की जावेगी।

बैतूल बाजार क्षेत्र के किसान ब्रजेश, श्रीमती कामिनी वर्मा सहित अन्य किसानों ने बताया कि मोबाइल पर ऐसे मैसेज मिले हैं। इसी तरह के मैसेज विदिशा, सीहोर जिले के किसानों के मोबाइल पर रविवार दोपहर में आए हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना महामारी के चलते सादे समारोह में ममता बनर्जी ने ली शपथ

नई दिल्ली 05 मई 2021 । तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने राजभवन …