मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> आतंकवाद के पूरे सफाए के लिए मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाएं : शिवराज सिंह

आतंकवाद के पूरे सफाए के लिए मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाएं : शिवराज सिंह

भोपाल 9 मई 2019 । हमारे देश का सर अब गर्व से उंचा है, क्योंकि देश की बागडोर कुशल हाथों में हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने पांच वर्षों में देश को एक नई दिशा दी है। देश का विश्व में मान-सम्मान बढ़ाया है। उन्होंने आतंकवाद को सबक सिखाया है और अब आतंकवाद का पूरी तरह सफाया करना है। इसके लिए श्री नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाना जरूरी है। ये बातें पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को कही। उन्होंने बुधवार को चीनोर, पोहरी में पार्टी प्रत्याशी श्री विवेक शेजवलकर, कोलारस और मुंगावली में पार्टी प्रत्याशी श्री केपी यादव, कुरवाई, सिरोंज में पार्टी प्रत्याशी श्री राजबहादुर सिंह और कालीपीठ, शमशाबाद में पार्टी प्रत्याशी श्री रमाकांत भार्गव के समर्थन में सभाओं को संबोधित किया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि देश का भविष्य सुरक्षित है, क्योंकि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी हैं और अब हमें आगे भी देश को सुरक्षित हाथों में ही सौंपना है। उन्होंने कहा कि जब देश में कांग्रेस सरकार का शासन था उस समय देश को कई बार आतंकवाद के सामने झुकना पड़ा। विदेशी शक्तियों के सामने समर्पण करना पड़ा, लेकिन अब ऐसी स्थितियां नहीं हैं। हमारे देश ने पाकिस्तान और उसके पाले हुए आतंकवादियों को मुंहतोड़ जबाव दिया है और अब दुनिया के नक्शे से पाकिस्तान और आतंकवाद का सफाया भी करना है।

कांग्रेस ने बंद की हमारी योजनाएं

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार के समय हमने कई महत्वाकांक्षी योजनाओं को शुरू किया। इन योजनाओं से प्रदेश के करोड़ों लोगों को लाभ मिला है, लेकिन अब कांग्रेस की सरकार इन योजनाओं को बंद करके खुद की जेबें भर रही हैं। कांग्रेस सरकार का यह हाल है कि इस बार अक्षय तृतीया पर मुख्यमंत्री कन्यादान एवं निकाह योजना के अंतर्गत बेटियों की शादियां ही नहीं हो सकीं। उन्होंने कहा कि बड़ी उम्मीदें रहती हैं कि ऐसे लोगों को जो अपनी बेटियों की शादी करना चाहते हैं, लेकिन ये निकम्मी सरकार इस बार ऐसी बेटियों की शादी भी नहीं करवा पाई। हमने गरीबों के लिए संबल योजना शुरू की तो इन्होंने उसे भी बंद कर दिया। बुजुर्गों को तीर्थदर्शन पर भेजते थे तो इन्होंने उस योजना को भी बंद करवा दिया। उन्होंने कहा कि यह सरकार तो अंतिम संस्कार के लिए दी जाने वाली पांच हजार रूपए की राशि भी नहीं दे पा रही है। इन्होंने यह राशि देना भी बंद करवा दिया है। इसलिए विधानसभा चुनाव में तो गलती कर दी, लेकिन अब लोकसभा चुनाव में गलती नहीं करनी है। देश की बागडोर कुशल एवं सुरक्षित हाथों में सौंपना है।

किसान धूप में तप रहे हैं और मुख्यमंत्री एसी में बैठे
शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि एक तरफ प्रदेश का किसान परेशान है। वह कड़ी धूप में गेहूं के ढेर पर बैठकर गेहूं बेचने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहा है, लेकिन उसका गेहूं नहीं तुल रहा है। इधर मुख्यमंत्री कमलनाथ इन परेशान किसानों की सुध लेने के बजाए एसी में बैठे हुए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार विश्वासघाती सरकार है। इन्होंने प्रदेश के किसानों को छलने का काम किया है। इनके नेता राहुल गांधी ने किसानों से कर्जमाफी का वादा करके वोट तो ले लिया, लेकिन अब तक किसानों का कर्जामाफ नहीं हो सका है। जबकि इन्होंने वादा किया था कि सरकार बनने के 10 दिनों में वे सभी किसानों का कर्जामाफ करेंगे और यदि नहीं किया तो मुख्यमंत्री बदल देंगे। अब तक तो प्रदेश के सभी कांग्रेसी नेताओं को मुख्यमंत्री बन जाना चाहिए था, क्योंकि 120 दिनों से ज्यादा हो गए हैं। उन्होंने मोदी जी को फिर प्रधानमंत्री बनाने के लिए कमल का बटन दबाने और भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार को जिताने की अपील की।

सरकार ने वादे पूरे नहीं किए, तो ईंट से ईंट बजा देंगे

ग्वालियर। यह लोकसभा चुनाव अलग तरह का है। ये किसी व्यक्ति या पार्टी का चुनाव नहीं है, बल्कि यह देश की दिशा तय करने वाला चुनाव है। इस चुनाव में एक तरफ वो लोग हैं, जो देशद्रोह का कानून समाप्त करना चाहते हैं, दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी है, जो कश्मीर से धारा 370 को खत्म करना चाहती है। इसलिए इस बार भी श्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाना है और देश एवं प्रदेश का भविष्य उज्जवल बनाना है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने बुधवार को ग्वालियर में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कही।

वादे पूरे नहीं किए, तो ईंट से ईंट बजा देंगे

पूर्व मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि मैं दिल्ली नहीं जाउंगा। यहीं मध्यप्रदेश में रहकर अपने प्रदेश की जनता की सेवा करूंगा और अपने कार्यकर्ताओं के साथ सरकार से लड़कर संघर्ष करूंगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने जनता के साथ छलावा किया है। सरकार ने यदि प्रदेश की जनता के साथ किए गए वादे पूरे नहीं किए तो इस सरकार की ईंट से ईंट बजा दूंगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ये कांग्रेस के लोग झूठे वादे करके प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे हैं। वे समझ रहे हैं कि अब शिवराजसिंह चौहान मुख्यमंत्री नहीं है, लेकिन डरने की बात नहीं है। मैं भले ही मुख्यमंत्री नहीं हूं, दुबला-पतला हूं, लेकिन कमजोर नहीं हूं। उन्होंने कहा कि टाइगर अभी जिंदा है।

कांग्रेस को शिवराज की ऑखों की चिंता, आई ड़ाप एवं चवनप्राश भेंट करने पहुंचे

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया कि 15 वर्ष की सत्ता जाने का गम व बौखलाहट पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान में आज भी दिख रहा है। अभी उन्हें सत्ता से हटे मात्र 4 माह ही हुए है लेकिन वर्तमान राज्य की कांग्रेस सरकार के ऊपर प्रतिदिन मनगढ़ंत व झूठे आरोप लगा रहे हैं। निरंतर विभिन्न जिलों में अपनी सभाओं में कह रहे हैं कि मुझे यहां से कुछ सीटें ओर मिल जाती तो मैं मुख्यमंत्री बन जाता। इससे उनका कुर्सी प्रेम भी साफ दिखाई दे रहा है।

किसानों की कर्ज माफी को लेकर भी वह प्रतिदिन झूठ परोसकर किसानों को भ्रमित व गुमराह कर रहे हैं। बार-बार कह रहे हैं कि एक भी किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ।उनके इस सफेद झूठ को देखते हुए कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने कल उन्हें 21 लाख कर्जमाफी वाले किसानों की सूची उनके निवास जाकर उनके हाथों में सौंपी थी और उम्मीद की थी कि शायद इस सूची को देखने के बाद वह अब कर्ज माफी पर झूठ बोलना बंद कर देंगे। लेकिन बड़े ही आश्चर्य की बात है कि जैसे ही कांग्रेस के नेता उन्हें सूची सौंपकर गए , शिवराज सिंह चौहान कर्ज माफी पर फिर झूठ बोलना चालू हो गए।

अब कहने लगे मुझे कांग्रेस के नेताओं ने जो सूची सौंपी है वह कृषि विभाग की सूची है ,बैंक की सूची नहीं है। जबकि वास्तविकता यह है कि कल सौपी सूची में किसानों के नाम, पते ,बैंक का नाम ,माफ की गई राशि से लेकर सारे प्रमाण स्पष्ट रूप से दर्ज है। उसके बाद भी यदि शिवराज सिंह चौहान इस तरह की बात कह रहे हैं तो निश्चित तौर पर उन्हें दृष्टि दोष हो गया है।
अभी 1 दिन पूर्व भी वे हाथ में लालटेन लेकर,रोशनी वाले मार्ग पर निकल गए। पूरे रास्ते दुकानों में ,चौराहों पर लाइट जल रही थी और वह हाथ में लालटेन लेकर कह रहे थे कि प्रदेश में लालटेन युग आ गया जबकि मध्य प्रदेश में बिजली सरप्लस मौजूद है। बिजली का कोई संकट प्रदेश में नहीं है।
कभी छिंदवाड़ा में हेलीकॉप्टर के लैंडिंग को लेकर आरोप लगाते हैं कि कमलनाथ सरकार के इशारे पर मुझे हेलीकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गयी।जबकि उन्हीं के कार्यकाल में उन्हीं के द्वारा 17 सितंबर 2010 को 5:00 बजे तक की लैंडिंग की अनुमति वाला आदेश निकाला गया था। लेकिन आरोप लगाने के पूर्व वह यह सच्चाई भूल गए।
कभी कहते हैं कि सरकार ने भावन्तर योजना बंद कर दी, कभी कहते हैं अंतिम संस्कार के पैसे बंद कर दिए ,कभी कहते हैं कि संबल योजना बंद कर दी। जबकि यह सब झूठ है।कोई योजना बंद नहीं हुई है।
इसी से समझा जा सकता है कि सत्ता जाने के बाद उन्हें दृष्टि दोष होने के साथ-साथ उनकी याददाश्त में भी कमी आई है। इसलिए कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने आज गयाददाश्त बढ़ाने के लिए बादाम, चवनप्राश व दृष्टि दोष दूर करने के लिए आंखों की दवाई ( आई ड्रॉप) उनके निवास जाकर उनके लिये , उनके स्टाफ़ को भेंट दिये।
और निवेदन किया कि अब वे फ़ुर्सत में इसका निरंतर उपयोग करें। जिससे उन्हें कांग्रेस सरकार के जन हितेषी निर्णय दिखने लगेंगे और झूठे आरोप लगाना वह बंद करेंगे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

डेल्टा प्लस वैरिएंट के साथ-साथ बढ़ने लगे कोरोना के मामले

नई दिल्ली 25 जून 2021 ।  महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के …