मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> प्रदेश के अस्पतालों में तीसरी लहर मे खाली है कई पद

प्रदेश के अस्पतालों में तीसरी लहर मे खाली है कई पद

भोपाल 22 जनवरी 2022 । प्रदेश के मेडिकल कॉलेज एवं उससे संबंध अस्पतालों में चिकित्सक और विशेषज्ञो समेत अस्पताल अधीक्षक एवं कॉलेज डीन जैसे महत्वपूर्ण पद खाली है। आलम यह है कि स्वीकृत पद 2890 में से महज 2027 पद ही भरे हुए हैं। यह स्थिति तब है जबकि विभाग से लेकर सरकार महीनो से करोना संक्रमण की तीसरी लहर से निपटने हेतु तैयारियां कर रही है।
यह जानकारी भारतीय अस्पताल प्रबंधक संघ के कार्यकारी सदस्य डॉ. नरेश पुरोहित ने देते हुए बताया कि कोविड की तीसरी लहर के तहत अस्पतालो मे बैड संख्या और ऑक्सीजन की क्षमता मे तो वृद्धि हुई किंतु इस बेड पर मरीज को भर्ती करने की नौबत आई तो उनके उपचार हेतु चिकित्सको की संख्या अब तक नही बढाई गई है। हालात बिगडे तो उपचार करना कठिन होगा।
एसोसिएशन ऑफ स्टडीज फॉर मेडिकल एजुकेशन के सलाहाकार डॉ पुरोहित ने बताया कि प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा विभाग में चिकित्सको को प्रोत्साहित करना तो दूर उनको उनके मौलिक अधिकारो से भी वंचित कर ररवा है।
उन्होने कहा कि चिकित्सा संस्थानों को अगर ऐसे ही प्रशासनीय अधिकारियों के भरोसे रखा गया तो स्वास्थ्य विभाग की तरह चिकित्सा शिक्षा स्तर भी देश में सबसे निचले पायदान पर होगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …