मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> PM मोदी की हत्या की साजिश पर बोले राजनाथ- हारी हुई लड़ाई लड़ रहे माओवादी

PM मोदी की हत्या की साजिश पर बोले राजनाथ- हारी हुई लड़ाई लड़ रहे माओवादी

नई दिल्ली 9 जून 2018 । पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या करने की साजिश पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम अपने प्रधानमंत्री की सुरक्षा का हमेशा ख्याल रखते हैं. उन्होंने कहा कि माओवादी और उग्रवादी अब अपनी हारी हुई लड़ाई लड़ रहे हैं. माओवाद और उग्रवाद का काफी हद तक खात्मा हो गया है.

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि सभ्य समाज में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है. देश पीएम मोदी के साथ है. इस देश की जनता का आशीर्वाद प्रधानमंत्री के साथ है. उनको कुछ नहीं होगा. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस को भी नसीहत दी. उन्होंने कहा कि साजिश को लेकर कांग्रेस जिस तरह से चिल्ला रही है, उसको बंद करना चाहिए.

18 अप्रैल को रोणा जैकब द्वारा कॉमरेड प्रकाश को लिखी गई चिट्ठी में कहा गया कि हिंदू फासिस्म को हराना अब काफी जरूरी हो गया है. मोदी की अगुवाई में हिंदू फासिस्ट काफी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं, ऐसे में इन्हें रोकना जरूरी हो गया है.

इसमें लिखा है कि मोदी की अगुवाई में बीजेपी बिहार और बंगाल को छोड़ करीब 15 से ज्यादा राज्यों में सत्ता में आ चुकी है. अगर इसी तरह ये रफ्तार आगे बढ़ती रही, तो माओवादी पार्टी को खतरा हो सकता है. इसलिए वह सोच रहे हैं कि एक और राजीव गांधी हत्याकांड की तरह घटना की जाए.

इस चिट्ठी में कहा गया कि अगर ऐसा होता है, तो ये एक तरह से सुसाइड अटैक लगेगा. हमें लगता है कि हमारे पास ये चांस है. मोदी के रोड शो का टारगेट करना एक अच्छी प्लानिंग हो सकती है. इस मामले पर सीपीआई (एम) नेता सीताराम येचुरी का कहना है कि अगर इस प्रकार की कोई बात सामने आई है, तो इसकी जांच होनी चाहिए.

पीएम मोदी के बाद CM फडणवीस को भी मिली धमकी, सामने आई माओवादियों की चिट्ठी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को कथित तौर पर माओवादी संगठनों की ओर से धमकी भरे दो पत्र मिले हैं. ये पत्र पुलिस को सौंप दिए गए हैं. राज्य के गृह विभाग के सूत्रों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री कार्यालय को ये पत्र एक हफ्ता पहले मिले. सूत्रों ने बताया, ‘‘ गढ़चिरौली में हाल में नक्सल विरोधी अभियान चलाए गए थे जिसके बाद ये पत्र मिले. अभियान में 39 माओवादी मारे गए. आगे की जांच के लिए पत्र पुलिस को सौंप दिए गए.’’

मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, दोनों ही पत्रों में गढ़चिरौली मुठभेड़ों का जिक्र है. इनमें फडणवीस और उनके परिवार के सदस्यों के धमकी दी गई है. माओवादियों द्वारा धमकी भरी चिट्ठी मिलने और ‘राजीव गांधी हत्‍याकांड’ की तरह पीएम मोदी की हत्‍या की साजिश से जुड़ी चिट्ठी पर महराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा, “चिट्ठी में कई तथ्‍य सामने आए हैं. पुलिस ने इसे अपने कब्‍जे में ले लिया है और इसे कोर्ट में पेश किया जाएगा. ‘मामले की जांच जारी है.”

उन्होंने कहा कि इस पर ज्‍यादा इस वक्‍त बोलना ठीक नहीं होगा. लेकिन यह तय है कि जब सशस्‍त्र बल जंगलों में नक्‍सलियों से मुकाबला कर रहे हैं, शहरी इलाकों में एक बड़ा समूह लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पिता को 3 साल बाद पता चला कि बेटी SI नहीं है, नकली वर्दी पहनती है

जबलपुर 20 अप्रैल 2021 । मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले के एक पिता ने कटनी एसपी …