मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> मेलानिया की हमशक्ल के साथ घूम रहे हैं ट्रंप!

मेलानिया की हमशक्ल के साथ घूम रहे हैं ट्रंप!

नई दिल्ली 31 अगस्त 2018 । इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसको देखकर लोग अटकलें लगा रहे हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ नहीं बल्कि प्रथम महिला की हमशक्ल के साथ घूम रहे हैं। वायरल हो रहा वीडियो कोलंबल, ओहियो का है, जिसमें 48 वर्षीय मेलानिया ट्रंप अपने पति डोनाल्ड ट्रंप के साथ शुक्रवार को वायुसेना के विमान से निकलते दिखाई दे रहीं हैं।

लोगों का दावा है कि वीडियो में दिखाई दे रही महिला मेलानिया ट्रंप नहीं हैं बल्कि उनकी हमशक्ल है। लोगों ने कहा कि वीडियो में दिखाई दे रही महिला के बाल मेलानिया ट्रंप की तुलना में ज्यादा काले हैं। साथ ही देखने पर महिला की कद-कांठी और हावभाव भी अमेरिका की प्रथम महिला की तरह नहीं लग रही है।

ट्विटर पर द रेसिस्टेंस नाम के एक यूजर ने वीडियो पोस्ट कर के पूछा कि क्या यह महिला मेलानिया ट्रंप की तरह दिखती है। यह मेलानिया की हमशक्ल है। मुझे लगता है कि वे (ट्रंप) सोचते हैं कि हम इस पर ध्यान नहीं देंगे। एक महिला यूजर ने लिखा कि वैसे देखने पर बेशक यह महिला मेलानिया जैसी लग रही है, लेकिन महिला के आत्मविश्वास को देखकर आशंका है कि यह प्रथम महिला नहीं हैं।

गूगल से नाराज हैं ट्रंप, पूछा- इडियट लिखते ही क्यों खुलती है मेरी फोटो

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में हैं। वह इन दिनों गूगल से नाराज हैं। उनकी शिकायत है कि गूगल उनकी छवि खराब कर रहा है । ट्रंप का कहना है कि जब से वो राष्ट्रपति बने हैं मीडिया उनके खिलाफ खबरें चला रहा है। ऐसे में गूगल उनके खिलाफ नकारात्मक खबरें सर्च करने में अहम भूमिका निभा रहा है। गौरतलब है कि अमेरिकी मीडिया सीएनएन वैसे ही ट्रंप के निशाने पर है तो अब गूगल पर भी उनकी नाराजगी जाहिर होने लगी है।

अमरीकी वेबसाइट यूएसए टुडे के मुताबिक अगर गूगल पर इडियट ढूंढते हैं तो सबसे पहले डोनाल्ड ट्रंप की तस्वीर सामने आती है। इसके चलते पहले से ही काफी बवाल हो चुका है। अपने टि्वटर पोस्ट में मंगलवार को ट्रंप ने लिखा, ‘‘ट्रंप लिखने पर गूगल सर्च रिजल्ट में सिर्फ मेरे खिलाफ नकारात्मक खबरें दिखती हैं। यह फेक न्यू मीडिया है। दूसरे शब्दों में कंपनी मेरे और अन्य लोगों के खिलाफ हेराफेरी कर रही है, जिसमें अधिकांश खबरें नकारात्मक हैं। इनमें नकली सीएनएन सबसे अहम है , रिपब्लिकन/ कंजरवेटिव और निष्पक्ष मीडिया सब खत्म हो चुके हैं। ये सब अवैध हैं?’

दूसरे ट्वीट में ट्रंप ने कहा कि 96% से भी अधिक ट्रंप न्यूज के सर्च रिजल्ट में राष्ट्रीय वामपंथी मीडिया का हाथ है, जो काफी खतरनाक है। गूगल और अन्य कंपनियां कंजरवेटिव की आवाज दबा रहे हैं और खबरों को छिपा रहे हैं। यह अच्छी बात है। ये लोग उन चीजों को नियंत्रित कर रहे हैं, जिन्हें हम देख भी सकते हैं और नहीं भी। यह काफी गंभीर बात है, जिस पर गौर किया जाएगा।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना विस्फोट के बीच क्या लगेगा लॉकडाउन? पीएम मोदी की आज बड़ी बैठक

नई दिल्ली 19 अप्रैल 2021 । कोरोना की दूसरी लहर की वजह से देश में …