मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए प्रवासी मजदूरों को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता – चौहान

कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए प्रवासी मजदूरों को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता – चौहान

 भोपाल 22 मई 2020 । मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कहा कि लौट रहे प्रवासी मजदूर हमारे ‘भाई-बंधु’ हैं और वह राज्य में खुले दिल से उनका स्वागत करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के लिए प्रवासी मजदूरों को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता।

चौहान ने एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा कि प्रवासी भी इंसान हैं। वे हमारे भाई-बंधु हैं। हमें प्रवासियों के राज्य में लौटने पर कोई आपत्ति नहीं है और हम उन्हें गले लगाएंगे। उन्होंने प्रवासी श्रमिकों के कारण कोरोना वायरस के मामले बढ़ने का संकेत देने वाली खबरों को खारिज किया और पूछा कि क्या कोरोना वायरस उन जगहों पर नहीं फैला जहां प्रवासी मजदूर नहीं थे?
चौहान ने कहा कि मध्य प्रदेश में कोविड-19 के मामले बढ़े हैं। प्रवासी और बाहर फंसे अन्य लोग भी राज्य में आए हैं। हम कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के लिए प्रवासियों को जिम्मेदार क्यों ठहराए? केवल प्रवासी मजदूरों की आवाजाही की वजह से ही मामले नहीं बढ़े हैं।

बीजेपी शासित राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस संकट में मानवता और संवेदनशीलता भी शामिल है। ये प्रवासी मजदूर कौन हैं? ये हमारी भाई और बहनें हैं। ये आजीविका कमाने के लिए गए थे। अगर वे वापस आना चाहते हैं तो मध्य प्रदेश खुले दिन से उनका स्वागत करेगा। उन्होंने कहा कि अभी तक करीब चार लाख श्रमिकों को दूसरों राज्यों से मध्य प्रदेश लाया गया है।

उन्होंने कहा कि हमने मध्य प्रदेश में फंसे दूसरे राज्यों के 7,000 मजदूरों को एक हजार रुपये की राशि देने का फैसला किया है। हमने उन्हें जांच की सुविधाएं मुहैया कराई और हम उन्हें भोजन भी उपलब्ध करा रहे हैं। हम उन्हें बसों तथा ट्रेनों से भेज रहे हैं ।

दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 लाख के पार, तीन लाख से ज्यादा मौतें

कोरोना महामारी पूरी दुनिया में तबाही मचा रही है। दुनिया में कोरोना संक्रमण का मामला 50 लाख के पार जा पहुंचा है। ताजा जानकारी के मुताबिक़ अब तक पूरी दुनिया से कोरोना के 50 लाख 38 मामले सामने आ गए है,वहीं मौत का आंकड़ा 3 लाख 28 हजार 172 पर जा पहुंचा है। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका है, जहां पांच लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित पाए गए है।
रूस में तीन लाख से ज्यादा मरीज
अमेरिका के बाद कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित रूस है। यहां अभी तक तीन लाख से ज्यादा लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।
रूस के बाद ब्राजील का नंबर आता है, जहां ये आंकड़ा 3 लाख के करीब पहुंचने वाला है। यूनाइटेड किंगडम की बात करें तो यहां अब तक करीब 2.50 लाख और स्पेन में 2.32 लाख मरीजों की पुष्टि हो चुकी है।
इटली में अब तक 2.27 लाख, फ्रांस में 1.81 लाख, जर्मनी में 1.78 लाख, तुर्की में 1.52 लाख, इरान में 1.26 लाख, भारत में 1.12 लाख, पेरू में 1.04 लाख, चीन में 84 हजार, कनाडा में 81 हजार, सऊदी अरब में 62 हजार, मेक्सिको में 56 हजार, बेल्जियम में 55 हजार, चिली में 53 हजार और पाकिस्तान में 48 हजार मामले सामने आ चुके हैं।
ऐसा है मौत का आंकड़ा
कोरोना से मरने वालों की बात करें तो इसमें भी अमेरिका पहले नंबर पर है। अमेरिका में अब तक 93 हजार से अधिक लोग जान गंवा चुके हैं। यूनाइटेड किंगडम में 35 हजार से अधिक मौत हो चुकी है। तीसरे नंबर पर इटली में 32 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं। वहीं, फ्रांस में 28 हजार, स्पेन में भी करीब 28 हजार, ब्राजील में 19 हजार लोग जान गंवा चुके हैं।

मप्र लाए गए चार लाख से अधिक मजदूर, 400 में कोरोना की पुष्टि: नरोत्तम मिश्रा
गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने गुरूवार को कहा कि कोरोना काल के दौरान शादी में बस से आने-जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होने बताया कि जाटखेड़ी में हुई शादी में दुल्हन के कोरोना पाॅजिटिव पाए जाने के बाद बारातियों को क्वारेंटाइन किया गया है। नियमों का उल्लंघन करने वालें बारातियों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

वहीं मध्यप्रदेश लौटे प्रवासी मजदूरों को लेकर मिश्रा ने कहा कि प्रदेश आए 4 लाख 82 हजार मजदूरों में से 400 मजदूरों में कोरोना की पुष्टि हुई है। उन्होने बताया कि आज आठ ट्रेने प्रदेश आएगी। अब तक 104 ट्रेन के लरिए मजदूरों श्रमिकों को लाया गया है। साथ ही हम राज्य क सीमा पर एक हजार बसे लगा रहे हैं। उन्होने बताया कि कोरोना संकट को देखते हुए होमगार्ड सैनिकों की सेवा के 6 महीने की समय अवधि बढ़ाई गई है।

वहीं कांग्रसे को लेकर उन्होने कहा कि कांग्रेस में न ऑडिटर है और न डिबेटर, न प्रवक्ता न दर्शक है। इनको कोई सुनने वाला नहीं है। वहीं बीएसपी के चुनाव लड़ने पर कहा कि सबको पता है हाथी किसे रोंदेगा। सीएम से विधायकों की मुलाकात पर कहा कि हमारे सीएम सबसे मिलते हैं, किसी को चलो-चलो नहीं कहते।

गृह मंत्री ने बताया कि राज्य सरकार ने किसानों से अब तक 104 लाख मैट्रीक टन गेंहू खरीदा है। अभी भी किसान अपना गेहूं बेचने आ रहे हैं

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

‘इंडोर प्लान’ से OBC वोटर्स को जोड़ेगी BJP, सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों में उतरेगी टीम

नयी दिल्ली 25 जनवरी 2022 । उत्तर प्रदेश की आबादी में करीब 45 फीसदी की …