मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> नेहरू के इस वाक्य को चुरा कर मोदी फेमस हो गए और कांग्रेसियों को इसकी खबर भी नहीं – रवीश

नेहरू के इस वाक्य को चुरा कर मोदी फेमस हो गए और कांग्रेसियों को इसकी खबर भी नहीं – रवीश

नई दिल्ली 8 सितम्बर 2018 । एक पब्लिक मीटिंग में एनडीटीवी के स्टार एंकर और मशहूर टीवी पत्रकार रवीश कुमार ने खुलासा किया कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के एक वाक्य को चुराया है. इस वाक्य का इस्तेमाल कर पीएम मोदी ने देश भर की जनता से खूब तारीफे बटोरी. हैरान करने वाली बात यह है कि इस वाक्य की चोरी का पता कांग्रेस के बड़े नेताओं को भी नहीं है.

रवीश कुमार ने बताया कि, पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की विरासत पर शोध करने के लिए वो प्रोफेसर शलील मिश्रा के साथ त्रिमूर्ती गये थें. वहां पर उन्हें एक तख्ती पर लिखा मिला कि, ‘मैं चाहता हूं, लोग मुझे प्रधानमंत्री नहीं बल्कि प्रथम सेवक कहें’. यह पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू का वाक्य था. नेहरू के इसी वाक्य को ‘प्रथम’ से नाम बदल कर ‘प्रधान’ कर दिया गया. रवीश कुमार का सीधा इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर था. बता दें कि, पीएम मोदी ने अपने भाषण में जनता से कहा था कि लोग उन्हें प्रधानमंत्री नहीं बल्कि प्रधान सेवक कहें. पीएम मोदी के इस वाक्य की लोगों ने काफी तारीफ भी की. इसके बाद पीएम मोदी को लोग ‘प्रधान सेवक’ के नाम से भी संबोधित करने लगे.
रवीश कुमार ने बिना पीएम मोदी का नाम लिए ‘प्रथम सेवक’ से ‘प्रधान सेवक’ तक की कहानी बयान कर दी. दिलचस्प बात यह है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को भी इस बात की खबर नहीं है. इसके बाद रवीश कुमार ने बिना पीएम मोदी का नाम लिए कहा की, वो नेहरू के वाक्य को चुरा कर नेहरू की ही विरासत पर हमला कर रहे हैं.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अमेरिका के आगे झुका पाकिस्तान, अफगानिस्तान में हमलों के लिए देगा एयरस्पेस

नई दिल्ली 23 अक्टूबर 2021 । जो बाइडेन प्रशासन ने कहा है कि अमेरिका अफगानिस्तान …