मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> आधी रात मोदी ने ली सुरक्षा परिषद की बैठक

आधी रात मोदी ने ली सुरक्षा परिषद की बैठक

नई दिल्ली 5 मार्च 2019 । इस बैठक में मोदी के अलावा गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरूण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी मौजूद थीं। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल और विदेश सचिव वी के गोखले भी इस बैठक में उपस्थित थे।
बैठक में हुए विचार-विमर्श के बारे में आधिकारिक तौर पर जानकारी नहीं मिल पायी है लेकिन समझा जाता है कि इसमें पाकिस्तान के साथ बढ़े तनाव के संदर्भ में देश की सुरक्षा स्थिति पर विचार-विमर्श किया गया।

पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 44 जवानों के शहीद होने की घटना के 12 दिन बाद 26 फरवरी को वायु सेना की कार्रवाई मेें पाकिस्तान के इलाके में स्थित आतंकवादी ठिकाने को नेस्नाबूद करने की कार्रवाई के बाद से ही दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है।
दरअसल वायु सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकाने को ध्वस्त किया था जो पुलवामा हमले के लिए जिम्मेदार है।

अमेरिका ने किया आगाह, भारत में होंगे आतंकी हमले, चुनाव से पहले दंगों की आशंका भी जताई

अमेरिका ने कहा है कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी गुट भारत और अमेरिका में हमले जारी रखेंगे। अमेरिका के राष्ट्रीय खुफिया विभाग के निदेशक डैन कोट्स ने यह भी कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान का नजरिया संकुचित है। वह उन्हीं आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई करता है जिनसे पाकिस्तान को प्रत्यक्ष खतरा होता है। पाकिस्तान आतंकवाद को नीतिगत हथियार के रूप में इस्तेमाल करता है। इससे तालिबान के खिलाफ लड़ाई में अमेरिकी प्रयासों को पर्याप्त सफलता नहीं मिल रही है।

भारत और चीन के संबंधों पर कोट्स ने कहा है कि दोनों देशों के बीच आगे भी तनाव बना रहेगा। उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा दोनों देशों के संबंधों में सुधार की कोशिशें की जा रही है।

कोट्स के मुताबिक सैन्य हलचल या सीमा पर निर्माण गतिविधियों को लेकर मतभेद के चलते दोनों देशों के बीच इस साल भी तनाव की स्थिति रहेगी। चीन अपनी आर्थिक ताकत, राजनीतिक प्रभुत्व और सैन्य क्षमता को बढ़ाने की कोशिशों में जुटा रहेगा।

कोट्स ने भारत में आम चुनाव से पहले सांप्रदायिक हिंसा की आशंका भी जताई है। उन्होंने कहा है कि अगर भाजपा हिंदुत्व को लेकर आगे बढ़ती है तो देश में चुनाव से पहले दंगे भड़कने का खतरा है।

खुफिया मामलों पर अमेरिकी सीनेट के सेलेक्ट कमेटी को कोट्स ने बताया कि मोदी के पहले कार्यकाल के दौरान भाजपा की नीतियों के चलते भाजपा शासित कुछ राज्यों में सांप्रदायिक तनाव बढ़ा है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …