मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> बहुत कम बोलता था मुर्तजा, मानसिक रूप से बीमार नहीं; पूर्व पत्नी ने हमलावर के बारे में क्या-क्या बताया

बहुत कम बोलता था मुर्तजा, मानसिक रूप से बीमार नहीं; पूर्व पत्नी ने हमलावर के बारे में क्या-क्या बताया

नयी दिल्ली 05 अप्रैल 2022 । गोरखनाथ मंदिर में तैनात पीएसी जवानों पर हमले के आरोपी मुर्तजा की पूर्व पत्‍नी ने दावा किया है कि वह मानसिक रूप से बीमार नहीं है। पूर्व पत्‍नी का कहना है कि मुर्तजा बहुत कम बोलता था। उन्‍होंने कहा कि उनकी मुर्तजा से ज्‍यादा बातचीत नहीं होती थी। गौरतलब है कि मुर्तजा की गिरफ्तारी के बाद से ही उसके पिता मुनीर अहमद अब्‍बासी ने दावा कर रहे हैं कि मुर्तजा की दिमागी हालत ठीक नहीं है। इसी आधार पर मुनीर अहमद, मुर्तजा को लेेकर सहानुभूति बरते जाने की अपील कर रहे हैं लेकिन अब मुर्तजा की पूर्व पत्‍नी ने उसे मानसिक तौर पर बिल्‍कुल ठीक बताया है। पूर्व पत्‍नी का कहना है मुर्तजा और उनका परिवार ज्‍यादा धार्मिक रूझान वाला है और वहां उससे भी इस तरह की अपेक्षा की जाती थी। यही, उसके और मुर्तजा के तलाक की वजह बनी। मुर्तजा की पूर्व पत्‍नी से पूछताछ करने आज यूपी एटीएस की एक टीम जौनपुर के तारापुर गई थी। एटीएस की पूछताछ के बाद एबीपी गंगा से बातचीत में उन्‍होंने कहा- ‘मुर्तजा बहुत रिजर्व रहता था। बहुत कम बोलने वाला इंसान था। मेरी नार्मली उससे ज्‍यादा बात नहीं होती थी क्‍योंकि उसकी मम्‍मी को पसंद नहीं था। मेरा माहौल अलग था, उसका अलग था। वो रिलिजियस थोड़ा था। हम बिल्‍कुल रिलिजियस नहीं हैं। काफी हद तक हम लोगों के थॉट (विचार) अलग थे एक-दूसरे से। मेरा मिजाज थोड़ा आजाद है। हम थोड़ी फ्रीडम चाहते हैं चीजों में। वो लोग उतना नहीं थे ऐसे। वे लोग को पर्दा ज्‍यादा करते थे। हमारे यहां वैसा माहौल नहीं था।

रात 12 बजे के पहले रूम में आने की थी मनाही क्‍या मुर्तजा लैपटॉप वगैरह पर ज्‍यादा व्‍यस्‍त रहता था? इस सवाल पर पूर्व पत्‍नी ने कहा कि लैपटॉप का बहुत ज्‍यादा हम नहीं कह सकते क्‍योंकि हमें बहुत ज्‍यादा मालूम नहीं इस बारे में। वो नार्मली सुबह छह बजे जब जाता था तो शाम में ऑफिस से सात बजे आता था। उनकी मम्‍मी कहती थीं कि तुम्‍हें 12 बजे के पहले रूम में नहीं जाना है।

मुर्तजा के स्‍वभाव के बारे में बताते हुए उसकी पूर्व पत्‍नी ने बताया कि वह अपने पापा-मम्‍मी के साथ 11 बजे तक रहता था। हमारी उसके साथ बातचीत बहुत कम थी। बहुत कम बातचीत होती थी। यदि बात होती थी तो फैमिली के साथ होती थी। वह ज्‍यादातर अपने पापा-मम्मी के साथ ही सोता था। हमारे बीच कम्‍युनिकेशन ही नहीं था

एक अन्‍य सवाल के जवाब में पूर्व पत्‍नी ने कहा कि मैंने मुर्तजा के बारे में ज्‍यादा जानने की कोशिश नहीं की क्‍योंकि एक-दूसरे के बारे में तभी जाना जा सकता है जब इंसान टाइम दे, बातचीत हो। हमारे बीच में ज्‍यादा कम्‍युनिकेशन था ही नहीं। वो नार्मली पूरे दिन ऑफिस रहता था। शाम को आता था तो पैरेंट्स के साथ रहता था। मुझसे उसकी बहुत कम बातचीत होती थी। हम अपने रूम में रहते थे। वो पापा-मम्‍मी के साथ रहता था। उसे यह पता था कि हम बहुत आजाद माहौल के हैं और वो लोग नहीं जानते थे कि हम इतने आजाद ख्‍याल हैं। मेंटली टॉर्चर करने का लगाया आरोप

वे चाहते थे कि हम मुस्लिम महिला, मुस्लिम पत्‍नी की तरह रहें। वे लोग धार्मिक थे। मुर्तजा के व्‍यवहार के बारे में आगे बताते हुए उसकी पूर्व पत्‍नी ने कहा- ‘उसने ज्‍यादा कुछ नहीं कहा। हमारे बीच में शुरू से ही मम्‍मी का दखल था। वो मेंटली टॉर्चर करने लगीं, मेरे माहौल, मेरे मिजाज पर। उनको लगता था कि हम बहुत घरेलू टाइप की लड़की लाएं। उनको बहुत सीधी-साधी घरेलू लड़की चाहती थी। ऐसी लड़की जिसे किसी चीज से कोई मतलब न हो। मुर्तजा की दिमागी हालत के बारे में बताते हुए पूर्व पत्‍नी ने कहा कि उसे मानसिक तौर पर विक्षिप्‍त नहीं कह सकते। मूड अच्‍छा है तो अच्‍छा है। खराब है तो फिर कुछ नहीं। वैसे हम ज्‍यादा कुछ नहीं जानते और मेरे साथ ऐसा कोई व्‍यवहार नहीं था जिससे हम कहें कि वो मेंटली सही नहीं है। मुझे तो वो दिमागी तौर पर सही ही लगता था।

हम बहुत अकेले हो गए थे वहां

मुर्तजा के धार्मिक रूझान के बारे में पूर्व पत्‍नी ने कहा कि वह नमाज पढ़ता था। मुझसे धर्म के बारे में कभी ऐसी कोई बात नहीं की। परिवार उसका धार्मिक था ये हम जानते हैं। हम बहुत अकेले थे वहां पर। मेरा ज्‍यादा किसी से मतलब नहीं था। उसकी वजह से हम लोगों में कम्‍युनिकेशन नहीं था। उन लोगों को भी मेरा मिजाज अपने जैसा नहीं लगा और हम भी फौरन उनके अनुसार ढल नहीं सकते थे। मुर्तजा की पूर्व पत्‍नी ने बताया कि उसके किसी दोस्‍त के बारे में वह कुछ नहीं जानती। मुर्तज उसे इन चीजों से दूर रखता था। उसने कभी किसी दोस्‍त से नहीं मिलाया। हमें उनके किसी दोस्‍त के बारे में नहीं पता। सिर्फ इतना पता है कि मुंबई में एक घर है, कोयंबटूर में उसकी नानी रहती हैं।

मम्‍मी-पापा के कमरे में ही रखता था लैपटॉप-मोबाइल

मुर्तजा के लैपटॉप में मिले वीडियोज के बारे में पूर्व पत्‍नी ने कहा कि वह कभी भी ये चीजें हमारे रूम में नहीं लाता था। वो ज्‍यादातर अपने मम्‍मी पापा के रूम में ये चीजें रखता था और वहीं सोता था। पूर्व पत्‍नी ने कहा कि मुर्तजा के बारे में वह ज्‍यादा नहीं जानती। उसके बारे में जो नई चीजें अब पता चली हैं उनसे वो अनभिज्ञ थी। वह बहुत रिजर्व रहा था। वो कभी मेरी फैमिली वालों से भी बात नहीं करता था। हम कहते थे कि फोन कर लो लेकिन कभी नहीं करता था। कभी-कभार अपनी नानी या बहन को फोन कर लेता था। वह बहुत कम लोगों से बात करता था। अपने रिलेशन में भी वह बहुत कम लोगों से बात करता था। वो भी जब उसकी मम्‍मी कहती थीं तब करता था। अपने से नहीं करता था। मेरे कहने पर मेरे अब्‍बू या बहन से बात नहीं करता था। वह हमसे भी बहुत कम बोलता था। ज्‍यादा देर तक खामोश ही रहता था।

नानी ने लगाई थी शादी

पूर्व पत्‍नी ने बताया कि मुर्तजा की नानी ने उसकी शादी लगाई थी। वो लड़की के परिवार के रिश्‍ते में हैं। उन्‍होंने जो बताया वो सब सही ही लगा। तब शादी हो गई। अब जो बातें सामने आ रही हैं वो सब हम लोग नहीं जानते थे। 20-25 दिन का समय बहुत ज्‍यादा नहीं होता है। इतने समय में किसी को बहत ज्‍यादा जाना नहीं जा सकता। मम्‍मी बहुत सारी बातें सुनाती थीं तो हम भी किनारे ही रहते थे उन लोगों से। हम बहुत परेशान हो चुके थे। नहीं चाहते थे कि रिश्‍ता रहे। बाद में उन लोगों ने तलाक के लिए कहा तो मैंने खुद अब्‍बू से कह दिया कि हम भी तलाक चाहते हैं। उसके साथ रहना नहीं चाहते।

मम्‍मी जो कहती हैं वही करता है मुर्तजा
मुर्तजा ने कभी अपनी पत्‍नी के साथ हो रही बातों का विरोध नहीं किया? इस सवाल पर पूर्व पत्‍नी ने कहा कि मुर्तजा कभी भी अपनी मम्‍मी के खिलाफ नहीं जा सकता। उसकी मम्‍मी जो कहती हैं वही करता है।

परिवार में दखल मत दो

मम्‍मी से वह बहुत ज्‍यादा अटैच है। वह उनकी बहुत केयर करता है। एक अन्‍य सवाल पर पूर्व पत्‍नी ने कहा कि उसने जब भी कुछ जानने की कोशिश की तब उनकी मम्‍मी ने रोक दिया। वह कहती थीं कि तुम्‍हारी नई-नई शादी हुई है अभी परिवार की चीजों के बारे में दखल मत दो।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …