मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> जीआरपी को मिली बरौनी मेल को बम से उड़ाने की सूचना

जीआरपी को मिली बरौनी मेल को बम से उड़ाने की सूचना

लखनऊ  18 फरवरी 2019 । ग्वालियर से बरौनी जा रही बरौनी मेल में करीब 8 बजे एक युवक ने जीआरपी कंट्रोल को सूचना दी कि ट्रेन में दो संदिग्ध बैठे हुए हैं। ये संदिग्ध ट्रेन को बम से उड़ाने की योजना बना रहे हैं। जानकारी मिलने के बाद जीआरपी में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही जीआरपी और आरपीएफ की टीम मौके पर पहुंचीं। इसके बाद सुरक्षा टीमों ने पिपरसंड स्टेशन पर ट्रेन रुकवा दी। तकरीबन दो घंटे तक चली सघन चेकिंग के दौरान सूचना देने वाला युवक भी जीआरपी के हत्थे चढ़ गया। इसके बाद रात 11 बजकर 47 मिनट पर ट्रेन को रवाना कर दिया गया।

बरौनी मेल के स्लीपर में सफर कर रहे एक युवक ने जीआरपी को सूचना दी थी कि उसके कोच में दो संदिग्ध युवक वॉट्सऐप पर मेसेज भेजने के साथ ही ट्रेन को बम से उड़ाने की बात कर रहे हैं। इसके बाद जीआरपी व आरपीएफ ने ट्रेन को रुकवाने के आदेश दिए। रात 8 बजे उन्नाव से रवाना हो चुकी इस ट्रेन को जीआरपी ने पिपरसंड स्टेशन पर रोककर तलाशी शुरू की। डॉग स्क्वॉड और बम निरोधक दस्ते से चेकिंग करवाई गई लेकिन कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली। इस कारण बरौनी मेल के पीछे से आ रही कई ट्रेनें भी प्रभावित हुईं।

संदिग्धों की देर रात तक नहीं हो पाई पहचान
उधर, रेलवे ने पिपरसंड से थोड़ा आगे दोबारा ट्रेन को रोकर चेकिंग करवाई। सीओ अमिता सिंह के नेतृत्व में रात 11 बजकर 47 मिनट पर चेकिंग के बाद ट्रेन को रवाना किया गया। जीआरपी सूचना देने वाले युवक को लेकर जनरल कोच के एक-एक यात्री से उन संदिग्धों को पहचानने की कोशिश में जुटी रही। हालांकि, युवक ने जिन संदिग्धों की बात की थी उनकी पहचान देर रात तक नहीं हो पाई।

‘मेल को बम से उड़ाने की बातचीत का मिला था मेसेज’
लखनऊ रेंज के एसपी रेलवे सौमित्र यादव ने कहा, ‘एक युवक ने कोच में दो संदिग्धों को बरौनी मेल को बम से उड़ाने की बातचीत करने का मेसेज दिया था। उसके बाद ट्रेन को रोककर उसकी छानबीन करवाई गई लेकिन दो बार की सघन चेकिंग में कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला।’

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब में अब जहरीली शराब बेचने वालों को मिलेगी सजा-ए-मौत

नई दिल्ली 3 मार्च 2021 । बीते साल पंजाब के अमृतसर, तरनतारन व गुरदासपुर जिले …