मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> अब महाकाल के गर्भगृह से होगे श्रद्धालुओं को दर्शन

अब महाकाल के गर्भगृह से होगे श्रद्धालुओं को दर्शन

उज्जैन 26 नवंबर 2021 । विश्व प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन के लिए संपूर्ण विश्व से श्रद्धालु पहुंचते हैं। अब श्रद्धालु महाकाल के गर्भगृह में भी दर्शन के लिए जा सकेंगे। उक्त निर्णय महाकाल प्रबंध समिति द्वारा लिया गया है। गर्भगृह में प्रवेश के लिए पूर्व की भांति ही व्यवस्था को लागू किया गया है। कोरोना कॉल कि सभी पाबंदियों को समाप्त कर दिया गया है। यही कारण है कि मंदिरों में भी अब कोरोना के चलते लगाए गए प्रतिबंध समाप्त दिए जा रहे हैं। महाकाल मंदिर प्रबंध समिति द्वारा गुरुवार को महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया। जिसके तहत अब श्रद्धालु महाकाल के गर्भगृह में दर्शन के लिए जा सकेंगे। हालांकि श्रद्धालुओं को पूर्व की भांति ही 1500 रुपए की रसीद कटवाना होगी। गर्भगृह में प्रवेश की उठ रही थी मांग
कोरोना संक्रमण के चलते पिछले काफी समय से श्रद्धालुओं को महाकाल बाबा के दर्शन नंदीहाल के पीछे से करवाए जा रहे थे। प्रदेश शासन द्वारा कोरोना की समस्त पाबंदियों को समाप्त किए जाने के बाद से उज्जैन में लगातार बाबा महाकाल के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश की मांग उठाई जा रही थी। जिस को ध्यान में रखते हुए गुरुवार को महाकाल प्रबंध समिति द्वारा निर्णय लिया गया कि श्रद्धालुओं को महाकाल के गर्भगृह में प्रवेश दिया जाएगा। भस्म आरती में शामिल हो रहे हैं श्रद्धालु
गौरतलब है कि महाकाल प्रबंध समिति द्वारा 11 सितंबर से ही श्रद्धालुओं को भस्म आरती में शामिल होने की अनुमति दी गई है। शुरूआती दौर में 1000 श्रद्धालुओं को भस्म आरती में शामिल होने की अनुमति थी जिसके बाद अब 1500 श्रद्धालु भी बाबा महाकाल की भस्म आरती में शामिल हो सकते हैं। साथ ही बाबा महाकाल के गर्भगृह में भी प्रवेश कर पूजन अर्चन कर सकते हैं। एक रसीद पर 2 लोगों को मिलेगा प्रवेश
बाबा महाकाल के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश हेतु कोरोना काल के पूर्व जो नियम थे। उन्हीं नियमों को लागू किया गया है। श्रद्धालुओं को बाबा महाकाल के गर्भगृह में प्रवेश हेतु 1500 रुपए की रसीद कटवाना होगी। एक रसीद पर दो लोगों को प्रवेश मिलेगा। गर्भगृह में प्रवेश कर श्रद्धालु दूध और जल भी चढ़ा सकेंगे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा, हिंदू पक्ष ने किया दावा-‘बाबा मिल गए’; कल कोर्ट में पेश होगी रिपोर्ट

नयी दिल्ली 16 मई 2022 । ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे पूरा हो गया है। तीसरे …