मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 147 हुई

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर 147 हुई

नई दिल्ली 18 मार्च 2020 । भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है और बुधवार को यह संख्या बढ़कर 147 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना वायरस संक्रमण के 10 नए मामले सामने आने के बाद इस घातक विषाणु से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 147 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि इन मामलों में दिल्ली, कर्नाटक और महाराष्ट्र में जान गंवाने वाले तीन लोग और 25 विदेशी नागरिक भी शामिल हैं। मंत्रालय ने बताया कि संक्रमित लोगों के संपर्क में आए 5,700 से अधिक लोगों पर निकटता से नजर रखी जा रही है। बता दें कि दुनियाभर में कोरोना के मरीजों की संख्या 1 लाख 94 हजार से अधिक हो गई है।

अब तक कहां कितने मामले
दिल्ली में संक्रमण के अब तक 10 मामले सामने आए हैं जिनमें एक विदेशी शामिल हैं जबकि उत्तर प्रदेश में एक विदेशी समेत 16 मामले दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र में तीन विदेशियों समेत 41 मामले सामने आए हैं जबकि केरल में दो विदेशी नागरिकों समेत 27 मामले दर्ज किए गए हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के 11 मरीज हैं। लद्दाख में संक्रमण के मामले बढ़कर आठ हो गए हैं और जम्मू-कश्मीर में इसकी संख्या बढ़कर तीन हो गई है। तेलंगाना में दो विदेशियों समेत पांच मामले सामने आए हैं। राजस्थान में दो विदेशियों समेत चार लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, उत्तराखंड और पंजाब में एक-एक मामला सामने आया है। हरियाणा में 14 विदेशियों समेत 16 लोग संक्रमित हैं।

14 लोगों को मिल चुकी है अस्पताल से छुट्टी
मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, अभी तक 14 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है। इन मरीजों में केरल के वे तीन मरीज भी शामिल हैं जिन्हें पिछले महीने अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। इस वायरस के कारण तीन लोगों की मौत हो गई है। हाल में मुंबई की 64 वर्षीय महिला की मंगलवार को मौत हुई थी। वह दुबई से लौटी थी। इससे पहले, पिछले मंगलवार को कलबुर्गी के 76 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई थी, जो सऊदी अरब से लौटा था। दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में शुक्रवार रात को एक महिला की मौत हो गई थी।

भारत प्रवेश पर रोक
एक अतिरिक्त यात्रा परामर्श के अनुसार सरकार ने अफगानिस्तान, फिलीपीन और मलेशिया से यात्रियों के भारत में प्रवेश पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है। यह निर्देश अस्थायी रूप से लागू किया गया है और यह 31 मार्च तक लागू रहेगा। इसकी बाद में समीक्षा की जाएगी। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने 18 मार्च से 31 मार्च के बीच यूरोपीय संघ के देशों, तुर्की और ब्रिटेन के यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

ट्रेनों पर भी पड़ा कोरोना का असर
कोरोना वायरस का असर अब ट्रेनों पर भी देखने को मिल रहा है। देश भर में कोरोना वायरस फैलने के खतरे को देखते हुए और यात्रियों की बहुत कम संख्या के कारण भरतीय रेलवे ने सभी जोनों को मिलाकर एहतियात के तौर पर अब तक 80 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। जिसमें उत्तर रेलवे की 8 ट्रेनें शामिल हैं। इसमें दिल्ली सराय रोहिल्ला पठानकोट एक्सप्रेस, अंबाला कैंट श्रीगंगानगर अंबाला इंटरसिटी एक्सप्रेस, नई दिल्ली फिरोजपुर शताब्दी एक्सप्रेस, छत्रपति शिवाजी महाराज निजामुद्दीन राजधानी एक्सप्रेस और हजरत निजामुद्दीन से छत्रपति शिवाजी टर्मिनस राजधानी एक्सप्रेस शामिल है।

अधिकारियों के अनुसार, मध्य रेलवे ने 23, दक्षिण मध्य रेलवे ने 29, पश्चिम रेलवे ने दस, दक्षिण पूर्वी रेलवे ने नौ और उत्तर रेलवे ने पांच ट्रेनें रद्द की हैं। रद्द की गई ट्रेनों की सूची में लंबी दूरी की कुछ लोकप्रिय ट्रेन भी हैं।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

अभ्यास के दौरान गन का बैरल फटा, BSF जवान शहीद, 2 घायल

नई दिल्ली 4 मार्च 2021 । भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर स्थित जैसलमेर जिले में कल …