मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बघेल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बघेल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत

नई दिल्ली 25 सितम्बर 2018 । छत्तीसगढ़ के मंत्री राजेश मूणत के बहुचर्चित सीडी कांड में सीबीआई की एक कोर्ट ने छत्तीसगढ़ में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और विधायक भूपेश बघेल को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इसी चर्चित कांड में पिछले साल वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को भी गिरफ्तार किया गया था.

करीब 11 माह पहले 27 अक्टूबर 2017 को राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री राजेश मूणत की एक कथित डर्टी सीडी सामने आई थी. इस सीडी ने प्रदेश की राजनीति में बवाल मचा दिया था. मामले ने इतना तूल पकड़ा कि मुख्यमंत्री रमन सिंह ने डर्टी सीडी की असलियत सामने लाने के लिए सीबीआई जांच की सिफारिश की थी.

कोर्ट में सुनवाई के दौरान भूपेश बघेल ने केस में खुद की पैरवी के लिए वकील की सुविधा लेने से इनकार कर दिया और जमानत के लिए आवेदन देने से भी मना कर दिया. सीबीआई ने सोमवार को रायपुर की स्पेशल कोर्ट में आरोप पत्र पेश किया था.

सुनवाई के दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने जज से कहा, ‘मामला राजनीतिक है, विपक्ष में होने के नाते दबाने की कोशिश हो रही है. सरकार जेल भेजना चाहती है तो भेजे. न वकील करूंगा, न जमानत अर्जी दूंगा. जेल भेजे जाने की सूरत में जेल से ही आंदोलन करूंगा.’

इसी मामले में एक अन्य आरोपी वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा और कांग्रेस नेता विजय भाटिया को कोर्ट की ओर से जमानत दे दी गई है. सेक्स सीडी को लेकर छत्तीसगढ़ पुलिस ने पत्रकार विनोद वर्मा को 27 अक्टूबर को गाजियाबाद से उनके आवास से गिरफ्तार किया था. बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

कोरोना महामारी के चलते सादे समारोह में ममता बनर्जी ने ली शपथ

नई दिल्ली 05 मई 2021 । तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने राजभवन …