मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पाकिस्तान को पटखनी देने के लिये कश्मीर के दो अफसर ही काफी हैं

पाकिस्तान को पटखनी देने के लिये कश्मीर के दो अफसर ही काफी हैं

नई दिल्ली 19 अगस्त 2019 । जम्मू कश्मीर मामले में हर मोर्चे पर हार का सामना करने के बावजूद पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज़ नहीं आ रहा है। वह जम्मू कश्मीर को लेकर दुनिया में झूठ पर झूठ फैलाये जा रहा है और भारत को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है, परंतु जैसे वह प्रत्यक्ष और परोक्ष युद्ध में, आक्रामकता में, आतंकवाद और संयुक्त राष्ट्र महा सभा तथा संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद तक मुँह की खा चुका है, वैसे ही उसे अब सोशल मीडिया पर भी मुँह की खानी पड़ रही है और वह भी कश्मीर के ही दो अफसरों से। यह दो कश्मीरी अफसर सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की ओर से फैलाये जा रहे झूठ की पोल खोलकर उसे करारा जवाब दे रहे हैं।

कौन हैं दो कश्मीरी अफसर ?
पाकिस्तान को सोशल मीडिया पर परास्त करने की जिम्मेदारी निभा रहे यह दो कश्मीरी अफसर हैं आईएएस (IAS) शाहिद चौधरी और आईपीएस (IPS) इम्तियाज़ हुसैन। दोनों ही अफसर श्रीनगर में तैनात हैं। शाहिद चौधरी श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर (DC) हैं, जबकि इम्तियाज़ हुसैन श्रीनगर के एसएसपी (SSP) हैं। पाकिस्तान की ओर से सोशल मीडिया के माध्यम से पूरी दुनिया में फेक न्यूज फैलाई जा रही हैं कि जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटाये जाने के बाद हालात सामान्य नहीं हैं और वहाँ विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों पर दमन किया जा रहा है तथा लोगों की हत्याएँ की जा रही हैं। पाकिस्तान के इस झूठ को शाहिद चौधरी तथ्यों और विजुअल के माध्यम से करारा जवाब दे रहे हैं। वह लगातार ट्वीट करके श्रीनगर के हालात की ताज़ा जानकारी अपडेट करते रहते हैं। इसके साथ ही वह मुश्किल में फँसे लोगों की मदद भी कर रहे हैं। एक विदेशी एजेंसी के पत्रकार ने ट्वीट करके कश्मीर के अस्पतालों में फोन काम नहीं करने की बात की, तो शाहिद चौधरी ने उन्हें अफवाह फैलाने से परहेज करने की सलाह दी और लिखा कि, ‘मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल और अन्य चिकित्सा सुविधाओं के प्रमुखों के टेलीफोन नंबर पूरे दिन काम कर रहे हैं। कृपया तथ्यों का सम्मान करें। आपके पास अटकलों के आधार पर ट्वीट करने के लिये और भी बहुत कुछ है।’ पाकिस्तानी डाकू को एसएसपी इम्तियाज़ ने दिया जवाब
आईएएस शाहिद चौधरी की तरह ही आईपीएस इम्तियाज़ हुसैन भी पाकिस्तान के एक-एक झूठ का पर्दाफाश करके उसे सोशल मीडिया पर परास्त करने में जुटे हैं। इम्तियाज़ हुसैन जम्मू कश्मीर में पाकिस्तानी आतंकवादियों का सफाया करते आए हैं। एसएसपी इम्तियाज़ भी सबूतों और तर्कों के साथ सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी दुष्प्रचार की हवा निकाल रहे हैं। ट्विटर पर सक्रिय रहने वाले इम्तियाज़ पाकिस्तानी ट्रोल को तीखे पलट वार से चित कर देते हैं। इम्तियाज़ ने भारत के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और वहाँ की सरकार के काला दिन मनाने पर भी चुटकी ली। उन्होंने लिखा कि, ‘सभी तरह की आक्रामकता, आतंकवाद और भड़काने के बाद भी वह कश्मीर नहीं छीन सकते हैं। अब उन्हें ट्विटर पर ऐसा करने का प्रयास करने दीजिए।’ आईपीएस अधिकारी ने आईएएस अधिकारी से नेता बने शाह फैसल के कश्मीर को लेकर दिये बयान पर भी पलट वार किया। एसएसपी ने लिखा, ‘मैं शाह फैसल की वास्तविक प्रतिभा और स्पष्टता के लिये उनका मुरीद रहा हूँ। एक नेता के रूप में शाह फैसल निराशा को नहीं बेच सकते। इतिहास का केवल एक संस्करण नहीं होता है। उन्हें नई वास्तविकताओं को स्वीकार करना चाहिये। साथ ही कश्मीर की इस पीढ़ी के सपनों को समझना होगा, जिसका वादा हमारे देश ने किया है।’ एसएसपी इम्तियाज़ ने रविवार को एक पाकिस्तानी डाकू के कश्मीर में भारत के विरुद्ध लड़ने के ऐलान पर भी उसे करारा जवाब दिया। इम्तियाज़ ने लिखा, ‘पाकिस्तान के सिंध का एक डाकू कश्मीर में लड़ना चाहता है। जैसे कि अब तक जो लोग कश्मीर में लड़ने के लिये आए थे, वह कमजोर डाकू थे। पाकिस्तानी सेना हमेशा से ही अपना काम ऐसे डाकुओं को आउटसोर्स करके करती रही है। उसका काम भी डाकू जैसा ही है। इस डाकू का भी वही अंजाम होगा, जो पहले के डाकुओं का हुआ है।’

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …