मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> एक दिन में 13 लाख से अधिक आवेदनों का निराकरण: शिवराज

एक दिन में 13 लाख से अधिक आवेदनों का निराकरण: शिवराज

भोपाल 7 जून 2018 । ‘समाधान एक दिन’ के तहत प्रदेश में अब तक 13 लाख 36 हजार आवेदनों का निराकरण किया गया है। गत जनवरी 2018 से शुरू की गई इस सेवा के तहत नागरिकों को 34 सेवायें एक दिन में दी जा रही हैं। यह जानकारी गत दिवस मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम के दौरान दी गयी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेहतर प्रदर्शन करने वाले ‘समाधान एक दिन’ के क्रियान्वयन में डिंडोरी, भिंड, होशंगाबाद, सागर और मंडला जिलों को बधाई दी।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस दौरान सी.एम. हेल्पलाईन में निराकरण की स्थिति का प्रस्तुतीकरण भी देखा। सी.एम. हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण में जिलों में होशंगाबाद, देवास, उज्जैन, नीमच और बैतूल, जिला पंचायतों में इंदौर, अलिराजपुर, नरसिंहपुर, टीकमगढ़ और होशंगाबाद तथा नगर-निगमों में सिंगरोली, रतलाम, देवास, छिंदवाड़ा और भोपाल अग्रणी रहे। इसी तरह उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों में सर्वश्री अरविंद पटेरिया सहायक यंत्री सागर नगर निगम, रीतेश तिवारी आर.टी.ओ. रायसेन, गुलाबसिंह बघेल तहसीलदार भितरवार, अनित तंतुवाय सहायक आपूर्ति अधिकारी शहडोल, राजेन्द्र बर्मन निरीक्षक गृह होशंगाबाद, सुश्री हुमा हुजूर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी रायसेन, अफजल अमानुल्लाह सहायक यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी शहडोल और सुश्री शिवानी मिश्रा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत सिवनी शामिल हैं।

मोहनपुरा सिंचाई योजना का लोकार्पण करेंगे प्रधानमंत्री : शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी 23 जून को राजगढ़ जिले की मोहनपुरा सिंचाई योजना का लोकार्पण करेंगे। श्री चौहान ने आज राजगढ़ जिला मुख्यालय में हुए अन्त्योदय सम्मेलन में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मोहनपुरा और कुंडालिया सिंचाई योजनाओं से राजगढ़ जिले में लगभग आठ लाख एकड़ क्षेत्र में सिंचाई होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस योजना से बांध से लगे क्षेत्रों की पेयजल समस्या भी समाप्त हो जायेगी।
श्री चौहान ने कहा कि 13 जून को प्रदेश के सभी जनपद मुख्यालयों पर मुख्यमंत्री जन कल्याण (संबल) योजना कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। सम्मेलन में असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को विभिन्न योजनाओं के लाभ वितरित किये जायेंगे। योजना की विस्तार से जानकारी देते हुए उन्होंने ने कहा कि कोई भी गरीब व्यक्ति इस योजना में शामिल होने के लिये सादे कागज पर आवेदन कर सकता है। ढाई एकड़ तक के किसानों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि संबल योजना में पात्र हितग्राहियों को आवासीय जमीन के पट्टे दिये जायेंगे। साथ ही उन्हें मकान बनाने के लिये सरकार राशि भी उपलब्ध करवाएगी। श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में करीब साढ़े 37 लाख गरीब परिवार ऐसे हैं, जिनके पास रहने के लिये अच्छे घर नहीं हैं। ऐसे सभी परिवारों को चरणबद्व तरीके से आवास निर्माण के लिये आगामी चार साल में राशि उपलब्ध करवाई जायेगी।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सम्मेलन में राजगढ़ जिले के 4436 तेन्दूपत्ता संग्राहकों की 23 लाख 21 हजार रुपये बोनस राशि उनके खातों में ऑनलाइन ट्रांसफर की। उन्होंने तेन्दूपत्ता संग्राहकों को चरण पादुका पहनाई और पानी की कुप्पी भेंट की। श्री चौहान ने 175 स्व-सहायता समूहों को रोजगार शुरू करने के लिये तीन करोड़ के बैंक ऋण वितरित किये। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर राजगढ़ जिले में 171.09 करोड़ के 12 निर्माण कार्यो का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। इस अवसर पर सांसद रोडमल नागर, विधायक अमरसिंह यादव, हजारीलाल दांगी और कुवंर कोठार, अन्य जन-प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में असंगठित क्षेत्रों के श्रमिक, तेन्दूपत्ता संग्राहक और ग्रामीण उपस्थित थे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब में अब जहरीली शराब बेचने वालों को मिलेगी सजा-ए-मौत

नई दिल्ली 3 मार्च 2021 । बीते साल पंजाब के अमृतसर, तरनतारन व गुरदासपुर जिले …