मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> आतंकवाद पर अपना दोहरा चरित्र छोड़े पाकिस्तान

आतंकवाद पर अपना दोहरा चरित्र छोड़े पाकिस्तान

नई दिल्ली 27 नवम्बर 2018 । मुंबई के होटल ताज में हुए 26/11 आतंकी हमलों के 10 साल पूरे होने पर भारत ने कहा कि पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान के दोहरे चरित्र की वजह से ही 166 लोगों की हत्या के जिम्मेदार आज खुले घूम रहे हैं. भारत ने कहा कि इस हमले के आतंकियों को सजा दिलाने में पाकिस्तान को मदद करनी चाहिए.

विदेश मंत्रालय ने कहा, “26/11 हमले के मास्टरमाइंड पाकिस्तान की सड़कों पर खुले घूम रहे हैं. 26/11 आतंकी हमले की योजना पाकिस्तान में बनी और वहीं से यह हमला लॉन्च हुआ था. हम एक बार फिर पाकिस्तान की सरकार से अपील करते हैं कि अपना दोहरा चरित्र छोड़कर वह इस हमले के जिम्मेदारों को कड़ी सजा दिलवाए.”

बता दें कि 26 नवंबर, 2008 को हथियारों से लैस 10 आतंकियों ने मुंबई को दहला दिया था. इस हमले में कई अमेरिकियों समेत 166 लोगों की मौत हुई थी और करीब 300 लोग घायल हुए थे. एक हमलावर अजमल कसाब को सुरक्षाबल ने जिंदा पकड़ा था जिसे 21 नवंबर, 2012 को फांसी पर लटका दिया गया.

मंत्रालय ने कहा, “यह दुखद है कि इस नृशंस हमले के 10 साल बाद भी 15 देशों के 166 पीड़ितों के परिजन न्याय का इंतजार कर रहे हैं. आतंकियों को कानून के दायरे में लाने की दिशा में पाकिस्तान कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है.”

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान के भीलवाड़ा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भारत न 26/11 को भूलेगा और न ही उसके गुनाहगारों को. उन्होंने कहा,‘‘हम मौके की तलाश में हैं.’’

मोदी ने कहा, ‘‘हिंदुस्तान कभी भी 26/11 को भूलेगा नहीं और 26/11 के गुनहगारों को भी. हम मौके की तलाश में हैं. कानून अपना काम करता रहेगा, मैं देशवासियों को फिर से एक बार विश्वास दिलाता हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने आतंकवाद के खिलाफ ऐसी लड़ाई लड़ी है कि आज आतंकवादियों को कश्मीर की धरती के बाहर निकलना महंगा पड़ रहा है.’’

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

महिला कांग्रेस नेता नूरी खान ने दिया इस्तीफा, कुछ घंटे बाद ले लिया वापस

उज्जैन 4 दिसंबर 2021 ।  महिला कांग्रेस की नेता नूरी खान के इस्तीफा देने से …