Pay more for Mahabhishek at Mahakal

Ujjain 06.12.2019. The Mahakaleshwar temple management samiti in Ujjain has hiked the rates of Mahabhishek of Lord Mahakal after a gap of 16 years. The rates of all other prayer rituals except Mahamrityunjay were doubled.
The rates of rituals including prayers, Shiv Mahamimna recitation, Shiv Mahamimna Stotram, Rudra recitation were increased twofold from Thursday onwards in accordance with the decision taken in the samiti meeting held in October this year.
Management samiti administrator SS Rawat said that according to new rates, devotees would have to pay Rs 100 for normal prayers, Rs 200 for Abhishek Shiv Mahamahimna recitation, Rs 3000 for Laghurudrabhishek, Rs 15,000 for Maharudrabhishek and Rs 15,000 for Mahamrityunjay recitation. The rates of Rudrabhishek will range from Rs 300 to Rs 1000 depending upon its type.
Moreover, the samiti decided to hand over the security of the temple to an agency of Delhi for two years. Around 175 security guards will watch over the temple at a cost of Rs six crore. The samiti invited tenders for providing security online.
Temple public relations officer Gauri Joshi said that the samiti had invited tenders on December 4 and 5 for providing security at the temple.
The samiti received eight entries and after verifying documents, only four were found fit in accordance with the requirement. Rest four were disqualified on technical grounds.
Among these four, three companies had filled the same rates for providing security to the temple. Among them, the tender was given to a company with more experience, turnover and other things.

उज्जैन 05 दिसम्बर 2019। श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति उज्जैन द्वारा मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था हेतु 2 वर्षों के लिये 175 सुरक्षाकर्मी प्रदाय करने हेतु अनुमानित मूल्य 6 करोड की ई निविदा पर ई पोर्टल mptenders.gov.in पर आमंत्रित की गई थी

श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति उज्जैन द्वारा मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था हेतु 2 वर्षों के लिये 175 सुरक्षाकर्मी प्रदाय करने हेतु अनुमानित मूल्य 6 करोड की ई निविदा पर ई पोर्टल mptenders.gov.in पर आमंत्रित की गई थी। उक्त निविदा दिनांक 04 दिसम्बर 2019 एवं दिनांक 05 दिसम्बर 2019 को निविदा समिति एवं प्रतिभागी निविदाकारों के समक्ष में खोली गई। जिसमें पुरे देश से कुल 8 निविदाए ऑनलाईन प्राप्त हुई। जिसके अंतर्गत सभी 8 निविदाकारों के दस्तावेजो का परीक्षण एवं मूल्यांकन किया गया जिसमें से चार निविदाकार तकनीकी रूप से प्रतिस्पर्धा से बाहर हुए तथा चार निविदाकार तकनीकी रूप से योग्य हुए ।
योग्य निविदाकारों के वित्तीय बीड आनलाईन ई पोर्टल से प्राप्त की गई। जिसमें तीन निविदाकारों द्वारा समान वित्तीय दर डाली गई समान न्यूनतम दर आने पर निविदा के नियम एवं शर्तों के अनुसार एक या एक से अधिक समान दर L1 आने वाली संस्था का चयन एवं वित्तीय क्षमता के आधार पर तीनों संस्थाओं का उनके अनुभव, टर्नओवर, कर्मचारी संख्या एवं मंदिर में कार्य का अनुभव एवं उनकी संख्या तथा प्रेजेन्टेशन में प्राप्त अंक के आधार पर संस्था का चयन समिति द्वारा किया गया। जिसमे सिक्युरिटी इंटेलिजेंस सर्विसेस मुख्यालय दिल्ली L1 होने के साथ साथ उच्चतम अंक प्राप्त करने वाली संस्था है जिसे समिति द्वारा अनुसंशित किया गया। जिसका अनुमोदन मंदिर प्रबंध समिति के अध्यक्ष एवं कलेक्टर श्री शशांक मिश्र से लिया जाना है।

 

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

सुनील गावस्कर ने बताया, महेंद्र सिंह धोनी के बाद कौन सा बल्लेबाज नंबर-6 पर बेस्ट फिनिशर की भूमिका निभा सकता है

नयी दिल्ली 22 जनवरी 2022 । दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टेस्ट के बाद भारत को …