मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> शर्त पर राजनीति में एंट्री ले सकती हैं पीएम मोदी की फैन कंगना रनौत!

शर्त पर राजनीति में एंट्री ले सकती हैं पीएम मोदी की फैन कंगना रनौत!

नई दिल्ली 24 मार्च 2019 । बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपनी बोल्ड इमेज के लिए जानी जाती हैं. केवल उनके किरदार ही बोल्ड और सबसे अलग नहीं, बल्कि उनके बयान भी काफी स्ट्रॉन्ग होते हैं. न्यूज 18 इंडिया के राइजिंग समिट 2018 में पहुंचीं कंगना ने अपनी इसी बोल्ड बयानबाजी का परिचय दिया. वह न्यूज 18 के मंच से खुलकर बोलती नजर आईं. यहां उन्होंने पहली बार राजनीति पर अपने विचार खुलकर सबके सामने रखे थे.

कंगना ने कहा, मुझे लगता है कि नेशनलिस्ट होने और फंडामेंटलिस्ट होने में फर्क है. मैं धर्म पर यकीन नहीं रखती, जो मेरा देश है मैं वही हूं. आप अपने देश से शर्मिंदा क्यों हैं? जब अमेरिका अपने देश के नेशनल एंथम के साथ खड़ा होता है तो हम क्यों नहीं हो सकते?’ उन्होंने कहा, आजकल लोग समझते हैं कि अपने देश के बारे में बुरा कहना कूल है. युवा जनरेशन हमेशा शिकायत करती है. यह एटिट्यूड सही नहीं है. देश गंदा है तो आप मेहमान हैं क्या? साफ करिए. इंफ्रास्ट्रक्चर जहां अच्छा है वहां जाओ, इमिग्रेशन का थप्पड़ पड़ेगा तो पता चलेगा.

कंगना ने कहा, मुझे लगता है कि राजनीति एक बेहतरीन फील्ड है. इसे अक्सर गलत समझा जाता है. मुझे बस नेताओं का फैशन सेंस नहीं पसंद है. अगर वो मेरा फैशन सेंस चेंज न करें तो मुझे राजनीति में शामिल होने में कोई दिक्कत नहीं है.

इतना ही नहीं कंगना ने खुद को मोदी फैन भी बताया. पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, मैं मोदी की बड़ी फैन हूं. मैं बहुत ज्यादा पेपर नहीं पढ़ती हूं. पर वह एक सक्सेस स्टोरी हैं, एक आम आदमी की महत्वाकांक्षा, एक चायवाला आज देश का पीएम है. यह उनकी नहीं देश के लोकतंत्र की जीत है. दुनिया परफेक्ट नहीं हो सकती लेकिन इसे हम बैलेंस बना सकते हैं.

BJP के 11 नये प्रत्याशी, कैराना से प्रदीप चौधरी, बंगाल से मुस्लिम महिला प्रत्याशी

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने 2019 लोकसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों की पांचवीं सूची शनिवार को जारी की है। पांचवीं सूची में तेलंगाना, केरल, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश के उम्मीदवारों की घोषणा की गई है। बीजेपी मुख्यालय में केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद ये सूची जारी की गई है।

तेलंगाना की छह सीटें, उत्तर प्रदेश की तीन सीटें, केरल और पश्चिम बंगाल में एक-एक सीट पर बीजेपी प्रत्याशी के नामों घोषित किए गए हैं।

तेलंगाना
1. अदीलाबाद – सोयम बाबू राव
2. पेड्‌डापल्ले -एस. कुमार
3. जहीराबाद -बनाला लक्ष्मा रेड्‌डी
4. हैदराबाद – भगवंत राव
5. चेलवेल्ला – जनार्दन रेड्‌डी
6. खम्मम -वासुदेव राव

उत्तर प्रदेश
1. कैराना – प्रदीप चौधरी
2. बुलंदशहर – भोला सिंह
3. नगीना सीट से डॉ. यशवंत

पश्चिम बंगाल
1. जांजीपुर – मफूजा खातून

केरल
1. पत्तनमित्ता – के. सुरेन्द्रन

लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी उमा भारती, BJP ने बनाया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

नई दिल्ली, 23 मार्च 2019, उत्तर प्रदेश के झांसी से बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री उमा भारती आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी. इस बात की जानकारी केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने दी. शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर नड्डा ने बताया कि उमा भारती ने चुनाव न लड़ने की इच्छा जाहिर की थी, जिसके बाद पार्टी ने उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है. इससे पहले उमा भारती ने शुक्रवार को कहा था कि उन्होंने 2016 में ही तय कर लिया था कि वह 2019 का आम चुनाव चुनाव नहीं लड़ेंगी.

जेपी नड्डा ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘उमा भारती जी का पत्र संगठन के लिए आया था और उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से इच्छा जाहिर की थी कि अब वह चुनाव नहीं लड़ना चाहती हैं. बल्कि वो संगठन के लिए काम करना चाहती हैं. जिसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उमा भारती को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष घोषित किया है.’

‘तीर्थयात्रा पर जाएंगी उमा’

बता दें कि उमा भारती ने शुक्रवार को कहा था कि वह आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ना चाहतीं क्योंकि उनकी मई से 18 माह तक तीर्थयात्रा पर जाने की योजना है. साथ ही उन्होंने इन खबरों को भी सिरे से खारिज कर दिया था कि वह झांसी से नहीं बल्कि किसी सुरक्षित सीट से लड़ना चाहती हैं.

उमा भारती ने कहा था, ‘मैंने 2016 में कहा था कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगी क्योंकि मुझे गंगा के तटों पर बसे तीर्थ स्थानों पर जाना है. अगर मैं चुनाव लड़ती तो मैं झांसी से ही लड़ती. मैं अपना निर्वाचन क्षेत्र कभी नहीं बदल सकती. वहां के लोगों को मुझ पर गर्व है और वह मुझे अपनी बेटी जैसा मानते हैं.’

2024 का आम चुनाव लड़ेंगी उमा भारती

उमा ने यह भी कहा कि वह 2019 का नहीं 2024 में आम चुनाव लड़ेंगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पार्टी शानदार बहुमत हासिल करेगी. इसी के साथ उन्होंने आगामी चुनाव न लड़ने के अपने फैसले से भाजपा महासचिव (संगठन) रामलाल को अवगत करा दिया था. हालांकि, उनके इस फैसले के बाद रामलाल ने उमा भारती से तीर्थयात्रा पर जाने से पहले आम चुनाव में पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करने को कहा था.

रामलाल के आग्रह पर उमा ने कहा कि वह 5 मई तक बीजेपी के लिए चुनाव प्रचार करेंगी. उन्होंने कहा, ‘पार्टी ने मुझे मुख्यमंत्री पद से लेकर कैबिनेट मंत्री के पद तक बहुत कुछ दिया है. मैंने भाजपा के अध्यक्ष पद को छोड़ कर लगभग सभी संगठनात्मक दायित्व संभाले हैं. यह मेरा दायित्व है कि पार्टी को शर्मिन्दा न होने दूं. मैं 5 मई तक चुनाव प्रचार करूंगी.’

4 से 27 मार्च तक विभिन्न लोकसभा क्षेत्रों में सभाएं लेंगे बी जे पी के नेता

भोपाल। लोकसभा चुनाव की दृष्टि पार्टी के पार्टी के नेतागण सभी लोकसभा क्षेत्रों में जनसभाओं को संबोधित करेंगे। इसके अनुसार पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराजसिंह चौहान, लोकसभा चुनाव प्रभारी एवं उत्तरप्रदेश सरकार के मंत्री श्री स्वतंत्रदेव सिंह, केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर, श्री वीरेन्द्र कुमार खटीक, नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव सहित पार्टी के वरिष्ठ नेतागण 24 से 27 मार्च के बीच 29 लोकसभा क्षेत्रों में पहुंचकर जनसभाएं लेंगे।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री विजेश लुणावत ने बताया कि 24 मार्च- पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराजसिंह चौहान भोपाल एवं होशंगाबाद, पूर्व मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा भिण्ड के गोहद, श्री गौरीशंकर बिसेन मंडला, श्री जयभान सिंह पवैया राजगढ़, प्रदेश महामंत्री श्री बंशीलाल गुर्जर झाबुआ में जनसभाएं लेंगे।

25 मार्च- प्रदेश उपाध्यक्ष श्री विनोद गोटिया बालाघाट, प्रदेश महामंत्री श्री विष्णुदत्त शर्मा रीवा के सेमरिया में जनसभाएं लेंगे।

26 मार्च- केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्रसिंह तोमर मुरैना के जौरा एवं ग्वालियर, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री प्रभात झा विदिशा के बासौदा, केन्द्रीय मंत्री डॉ. वीरेन्द्र कुमार सागर लोकसभा क्षेत्र के बीना एवं दमोह के जबेरा, श्री प्रहलाद पटेल टीकमगढ़ के निवाडी, प्रदेश महामंत्री व सांसद श्री अजयप्रताप सिंह सतना, पूर्व मंत्री श्री विश्वास सारंग गुना के बदरवास, श्री राजेन्द्र शुक्ला सीधी, श्री फग्गनसिंह कुलस्ते शहडोल लोकसभा क्षेत्र के अनूपपुर, प्रदेश उपाध्यक्ष श्री रामेश्वर शर्मा जबलपुर, नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव छिंदवाड़ा के परासिया, लोकसभा के प्रदेश प्रभारी श्री स्वतंत्रदेव सिंह मंदसौर के नीमच, सांसद श्री सत्यनारायण जटिया धार के धामनोद, श्री भूपेन्द्र सिंह इंदौर के राऊ, श्री कृष्णमुरारी मोघे खरगौन, श्री मनोहर उंटवाल खण्डवा में जनसभाओं को संबोधित करेंगे।

27 मार्च- राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व सांसद श्री प्रभात झा देवास लोकसभा क्षेत्र के आष्टा, सांसद श्री प्रहलाद पटेल खजुराहो के राजनगर, श्री सत्यनारायण जटिया उज्जैन, पूर्व मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस बैतूल में जनसभाओं को संबोधित करेंगी।

शहीदों के सम्मान में हुआ काव्यपाठ, हर विधानसभा में निकली संकल्प ध्वज यात्रा

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी जिला भोपाल द्वारा शहीद दिवस के अवसर पर शनिवार को ‘संकल्प भारत के वैभव का’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान जहां शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई, वहीं प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में संकल्प ध्वज यात्राएं भी निकाली गईं। कार्यक्रम में शहीदों के सम्मान में काव्यपाठ भी किया गया।

शहीद दिवस के अवसर पर जिला भाजपा द्वारा शालीमार चौराहे पर ‘संकल्प भारत के वैभव का’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत में शहीद भगतसिंह, सुखदेव और राजगुरु की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। इसके साथ ही भारत माता की पूजा अर्चना कर शहीदों के सम्मान में काव्य पाठ का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक श्री रामेश्वर शर्मा ने कहा कि देश के वीर जवानों ने सिर्फ अंग्रेजी हुकूमत के सामने ही शहादत नहीं दी, बल्कि देश में आज भी वैसी ही परिस्थितियां बन रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की धरती पर जो लोग वंदे मातरम् पर सवाल खड़े कर रहे हैं, जवानों की शहादत पर सवाल उठा रहे हैं, उन्हें जवाब देना हर पार्टी कार्यकर्ता की जिम्मेदारी है। पार्टी के प्रदेश महामंत्री श्री विष्णुदत्त शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि इस अभियान के माध्यम से उन वीर सपूतों को याद करने का काम कर रहे हैं, जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति देकर हमारे स्वतंत्र भारत के सपने को साकार किया। पार्टी की प्रदेश मंत्री व विधायक श्रीमती कृष्णा गौर ने कहा कि हम मां भारती के उन वीर सपूतों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए एकत्र हुए हैं, जिन्होंने भारत माता को परतंत्रता की बेड़ियों से मुक्त कराने के लिए हंसते-हंसते फांसी के फंदे को चूम लिया था। अमर शहीदों का स्मरण करते हुए सांसद श्री आलोक संजर ने कहा कि हमें ये आजादी आसानी से नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के लिए जिन शहीदों ने फांसी के फंदे को हंसते-हंसते चूम लिया था, उनकी सोच यही थी कि मैं रहूं या ना रहूं, भारत माता तेरा वैभव अमर रहे। पूर्व विधायक श्री सुरेंद्रनाथ सिंह ने कहा कि आज उन शहीदों को याद करने का दिन है, जिनकी शहादत से देश में आजादी को लेकर जागृति आई थी। कार्यक्रम का संचालन भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष श्री विकास विरानी ने किया।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टूटे सारे रिकॉर्ड, 10 बिंदुओं में जानिए क्यों आ रहा जोरदार उछाल

नई दिल्ली 24 सितम्बर 2021 । घरेलू शेयर बाजार में शानदार तेजी का सिलसिला जारी …