मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> पीएम मोदी ने इमरान खान को नहीं दिया भाव

पीएम मोदी ने इमरान खान को नहीं दिया भाव

नई दिल्ली 15 जून 2019 ।  भारत के प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी दो दिवसीय एससीओ सम्मेलन के लिए को किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक पहुंचे हैं। एससीओ चीन के नेतृत्व वाला आठ सदस्यीय आर्थिक एवं सुरक्षा समूह है जिसमें भारत और पाकिस्तान को 2017 में शामिल किया गया। इस सम्मेलन में शिरकत करने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी पहुंचे हैं। पूरे दुनिया की निगाहें इस बात पर टिकी हुई थी क्या नरेंद्र मोदी और इमरान खान की मुलाकात होगी? लेकिन दोनों के बीच न तो मुलाकात हुई और न हीं बात।

खास बात ये है कि इमरान खान और पीएम मोदी दोनों फ्रुंज रेस्त्रा में खाने के लिए आमने-सामने बैठें, लेकिन मोदी ने खान को भाव नहीं दिया और न हीं उनसे बात की। यह 2 साल पहले की उस घटना से बिल्कुल अलग है, जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ थे। वर्ष 2017 के जून महीने में मोदी और शरीफ की मुलाकात अस्टना के ओपेरा हाऊस लाउंज में हुई थी, जहां वे एससीओ सब्मिट के लिए गए थे। दोनों घटना लगभग एक समान है। लेकिन हालात के अनुसार दोनों देशों के प्रधानमंत्री के रवैये बदले नजर आ रहे हैं।

नरेंद्र मोदी द्वारा इमरान खान को भाव नहीं दिए जाने से पाकिस्तान भड़क गया। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पाकिस्तानी मीडिया से कहा कि दोनों देशों के बीच किसी तरह की वार्ता तय नहीं हुई है। पाकिस्तान ने बिश्केक यात्रा के लिए भारत के हवाई जहाज को अपने क्षेत्र से गुजरने की अनुमति दे दी थी लेकिन उन्होंने खुद लंबा रास्ता चुना। भारत की सरकार हिंदुत्व के मुद्दे पर सत्ता में आयी है। यदि इस स्थिति में वे पाकिस्तान के साथ संबंध सुधारते हैं तो उन्हें नुकसान होगा। भारत अभी भी चुनाव हैंगओवर से बाहर नहीं निकला है। इमरान खान दुनिया के छठे सबसे बड़े देश के प्रधानमंत्री हैं। उन्हें किसी के पीछे पड़ने की कोई जरूरत नहीं है। हम शांति चाहते हैं लेकिन यदि भारत को जल्द नहीं है तो हमें भी नहीं है।

वहीं, पीएम मोदी ने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आतंकवाद प्रायोजित करने वाले, इसमें मदद देने वाले और इसका वित्तपोषण करने वाले देशों को जवाबदेह बनाया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं पिछले रविवार को श्रीलंका की अपनी यात्रा के दौरान सेंट एंथनी गिरजाघर गया जहां मैंने आतंकवाद का घिनौना चेहरा देखा। इस आतंकवाद ने हर जगह निर्दोष लोगों की जान ली है।’’ मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मौजूदगी में कहा कि आतंकवाद से निपटने के लिए देशों को अपने संकीर्ण दायरे से बाहर आकर इसके खिलाफ एकजुट होना होगा। उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवाद का प्रायोजन, उसकी मदद और उसका वित्त पोषण करने वाले देशों को जवाबदेह बनाया जाना चाहिए।’’ प्रधानमंत्री ने एससीओ के सदस्य देशों से अपील की कि वे एससीओ क्षेत्रीय आतंकवाद रोधी संरचना के तहत सहयोग करें।

पाकिस्तान पीएम इमरान खान ने SCO समिट में प्रोटोकॉल तोड़ना पड़ा महंगा

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) शिखर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह के दौरान उस वक्त पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अजीबो-गरीब स्थिति पैदा कर दी जब भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित अन्य नेताओं के खड़े रहने के दौरान ही वह अपनी सीट पर बैठ गए। इमरान की ओर से इस तरह कूटनीतिक प्रोटोकॉल तोड़े जाने पर सोशल मीडिया पर उनकी खूब खिंचाई हुई।
सोशल मीडिया पर हुई इमरान खान की खूब खिंचाई
इमरान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर साझा किए गए एक वीडियो में इमरान बैठे दिख रहे हैं जबकि दुनिया के अलग-अलग देशों के बाकी नेता एवं गणमान्य लोग खड़े दिख रहे हैं। यह वीडियो उस वक्त का है जब विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्ष एससीओ शिखर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में पहुंचे थे। इमरान का नाम पुकारे जाने पर वह कुछ पल के लिए खड़े हुए और फिर अन्य नेताओं के बैठने से पहले ही खुद बैठ गए। इसे प्रोटोकॉल तोडऩे के तौर पर देखा जा रहा है। इस वाकए को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब खिंचाई हुई।
ऐसी दी लोगों ने प्रतिक्रिया
ट्विटर पर एक व्यक्ति ने लिखा, बिश्केक में एससीओ के दौरान इमरान खान ने एक बार फिर मुल्क के लिए शर्मिंदगी पैदा की। जब सारे लोग खड़े थे, वह बैठ गए। जब प्रस्तोता ने उनका नाम लिया तो खड़े हुए, लेकिन फिर बैठ गए। अहंकारी, अशिष्ट या बेवकूफ? एक अन्य व्यक्ति ने ट्वीट किया, इमरान खान साहब, भविष्य में अपनी छाप छोडऩे के लिए कूटनीतिक यात्राओं की मर्यादा का अध्ययन जरूर करें।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

किश्तवाड़ में बादल फटने से पांच की मौत, 40 से ज्यादा लोग लापता

नई दिल्ली 28 जुलाई 2021 ।  जम्मू-कश्मीर में भारी बारिश का कहर देखने को मिला …