मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> दिल्ली चुनाव में पीएम मोदी की होगी एंट्री

दिल्ली चुनाव में पीएम मोदी की होगी एंट्री

नई दिल्ली 2 फरवरी 2020 । दिल्ली विधानसभा चुनाव जीतने के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अपनी पूरी ताकत झोंक रही है. केंद्रीय मंत्री अमित शाह और भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जे. पी. नड्डा के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दिल्ली विधानसभा चुनाव में एंट्री होने जा रही है. पीएम मोदी तीन फरवरी को दिल्ली के कड़कड़डूमा के सी. बी. डी. ग्राउंड में चुनावी रैली करेंगे. विधानसभा चुनाव के ऐलान के बाद दिल्ली में पीएम मोदी की यह पहली चुनावी रैली है.

दिल्ली की सभी 70 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहे हैं. दिल्ली में 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे. इसके बाद 11 फरवरी को वोटों की गिनती होगी और चुनाव के नतीजे जारी किए जाएंगे. इस चुनाव में आम आदमी पार्टी के सामने अपनी सत्ता बचाने की चुनौती है, तो भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी सत्ता में काबिज होने की जुगत लगा रही हैं.वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी भी दिल्ली में चुनावी रैली करेंगे. राहुल गांधी 4 और 5 फरवरी को दो रैलियां कर दिल्ली चुनाव अभियान को धार देने का काम करेंगे. हालांकि राहुल गांधी की बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा का कार्यक्रम अभी तय नहीं हो पाया है.दिल्ली में विधानसभा चुनाव उस समय हो रहे हैं, जब शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे हैं. दिल्ली की चुनावी जंग में भी शाहीन बाग चर्चा में बना हुआ है. भारतीय जनता पार्टी शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर आम आदमी पार्टी पर लगातार निशाना साध रही है. गुरुवार को जामिया और शनिवार को शाहीन बाग में हुई फायरिंग को लेकर भी विपक्षी दल बीजेपी पर हमला बोल रहे हैं. विपक्षी दल इन फायरिंग के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

‘आप की अदालत’ में अरविंद केजरीवाल ने कहा- दिल्ली चुनाव में ‘आप’ को हराने के लिए सभी पार्टियों ने हाथ मिलाया

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया कि बीजेपी, कांग्रेस, आरजेडी, जेडीयू और एलजेपी समेत सभी प्रमुख राजनीतिक दलों ने ‘ऐसा लगता है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को हराने के लिए हाथ मिला लिया है।’ इंडिया टीवी पर रजत शर्मा के शो ‘आप की अदालत’ में सवालों का जवाब देते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘इस बार दिल्ली की राजनीति में बड़ी इंटरेस्टिंग चीजें आ रही हैं। ये इतनी सारी पार्टियां इकट्ठी हो गई हैं, पहले दिल्ली में तीन पार्टियां थीं- बीजेपी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी। इस बार सारे मिल गए… बीजेपी, कांग्रेस, एलजेपी, आरजेडी, जेडीयू, ..और इन सबका एक ही मकसद है केजरीवाल को हराना।’ केजरीवाल ने कहा, ‘जब मैं कहता हूं, मैं स्कूल ठीक करूंगा, ये कहते हैं केजरीवाल को हराओ… जब मैं कहता हूं, मैं अस्पताल ठीक करूंगा, ये कहते हैं, केजरीवाल को हराओ। इनका एक ही मकसद है केजरीवाल को हराना। लेकिन केजरीवाल को ये (जनता) ठीक कर सकते हैं। इनके हाथ में ताकत है।’

जनतंत्र के अन्दर जनता मालिक
जब रजत शर्मा ने अरविंद केजरीवाल से यह पूछा कि आपको याद है कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले आप कोलकाता गए थे.. ममता जी, शरद पवार, आप सारे इकट्ठे हो गए थे.. तब केजरीवाल ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया: ‘तो जनता ने हमें हरा दिया, जनतंत्र के अन्दर जनता मालिक है।’ बीजेपी ने पिछले साल संपन्न लोकसभा चुनावों में दिल्ली की सभी सातों सीटों पर जीत दर्ज की थी।

बीजेपी के पास कोई बड़ा मुद्दा नहीं
केजरीवाल ने गृह मंत्री अमित शाह के इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और कुछ अन्य विपक्षी नेताओं की भाषा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की भाषा जैसी है। केजरीवाल ने कहा,’ वे (अमित शाह) कुछ भी बोल देते हैं। अब जब कुछ चल नहीं रहा उनका दिल्ली के चुनाव में, तो वो इमरान खान को ले आते हैं। पाकिस्तान को ले आए। क्योंकि उनके पास कोई बड़ा मुद्दा नहीं है।’

पाक आंतरिक मामलों में दखलंदाजी बंद करे
पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी द्वारा ट्वीट कर भारत के लोगों को दिल्ली चुनाव में मोदी को हराने की अपील के सवाल पर केजरीवाल ने कहा, मैंने उनको (फवाद खान) कड़ा जवाब दिया। मैंने उनको कहा कि मोदी जी हमारे देश के प्रधानमंत्री हैं, वो मेरे भी प्रधानमंत्री हैं। हमारे देश का चुनाव हमारा आन्तरिक मामला है। जो देश पूरी दुनिया के अन्दर सबसे ज्यादा आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए प्रसिद्ध है, उससे हमें कोई सलाह नहीं चाहिए। वो हमारे आन्तरिक मामलों में दखलंदाजी देना बन्द करें।’ केजरीवाल ने आगे कहा, ‘…आज अमित शाह जी मुझे कुछ भी कह सकते हैं, मैं अमित शाह जी को कुछ भी कह सकता हूं, पाकिस्तानी हमारे बीच में कुछ भी नहीं कह सकता। हम एक दूसरे के दुश्मन नहीं है, विरोधी हैं, विपक्ष हैं। जब पाकिस्तान की बात आती है तो हम सभी एक हो जाते हैं, लेकिन पाकिस्तान कहे कि इसको जिता देना, उसको नहीं, ये नहीं चलेगा। पाकिस्तान बीच में दखलंदाजी नहीं कर सकता।’

शरजील को 48 घंटे के बजाय दो घंटे के भीतर पकड़ा जा सकता था
देशद्रोह के आरोप में शरजील इमाम की गिरफ्तारी पर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दावा किया कि अगर दिल्ली पुलिस उनकी सरकार के अधीन होती तो शरजील को 48 घंटे के बजाय दो घंटे के भीतर पकड़ा जा सकता था। ‘उसके (शरजील) बारे में तो हमने कहा था कि तुरंत गिरफ्तार करो, सख्त से सख्त सजा दो।’

अमानतुल्ला ने कुछ गड़बड़ किया तो उसे जेल भेजो, किसने मना किया है?
बीजेपी के इस आरोप पर कि ओखला के आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान ने शरजील इमाम के साथ मंच साझा किया था, केजरीवाल ने कहा: ‘शरजील ने कुछ बोला है, उससे माइक छीना है अमानतुल्ला ने, बोलने से रोका था..।’ जब केजरीवाल से यह पूछा गया कि खुद अमानतुल्ला ने भड़काने वाली स्पीच दी थी, केजरीवाल ने कहा, ‘अगर उसने कुछ गलत बोला था, पुलिस को एफआईआर करनी चाहिए थी, पुलिस ने शाहीन बाग मामले में जो एफआईआर किया, उसमें अमानतुल्ला का नाम नहीं है। अगर अमानतुल्ला ने कुछ गड़बड़ किया है, तो उसको गिरफ्तार कर लो। उसको जेल भेजो, किसने मना किया है?

मैं आतंकवादी नजर आता हूं ?
केजरीवाल ने कहा कि जब दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी और भाजपा सांसद परवेश वर्मा ने उन्हें “आतंकवादी” कहा तो वे और उनके माता-पिता व्यक्तिगत रूप से आहत हुए। यह जवाब देते हुए केजरीवाल भावुक हो गए। उन्होंने कहा- ‘मैं आतंकवादी नजर आता हूं ? मुझे भी बहुत दुख हुआ, दिल्ली के हर बच्चे की अच्छी पढ़ाई का इंतजाम मैंने किया है, दिल्ली के किसी परिवार में कोई बीमार हुआ, उसके इलाज का मैंने इन्तजाम किया है। मैंने दिल्ली के 40 हजार बुजुर्गों को तीर्थयात्रा करवाई है, जो सैनिक सीमा पर शहीद होते हैं, उनके परिवारों को 1-1 करोड़ की धनराशि दी है, क्या ये सब कोई आतंकवादी करता है ?

मेरे माता-पिता बहुत दुखी थे
‘उस दिन शाम को जब मैं घर गया, तो मेरे माता-पिता बहुत दुखी थे, वो बोले सुबह से टीवी पर चल रहा है कि केजरीवाल आतंकवादी है। पिछले पांच साल से दिल्ली की जनता का बेटा बन कर मैंने काम किया है। जितनी जिन्दगी अब तक मैंने जिया है, तन-मन-धन देश के लिए न्यौछावर किया है। इनकम टैक्स में कमिश्नर की नौकरी करता था…करोड़ों रुपए कमा सकता था। दो बार मैंने अनशन 15 दिन के लिए किया था, डायबिटीज का मरीज हूं, दिन में 4 बार इन्सुलिन के इंजेक्शन लगते हैं। मैंने अपनी जान दांव पे लगाई है देश के लिए, ये लोग कहते हैं मैं आतंकवादी हूं, मैं दिल्ली की जनता से पूछना चाहता हूं कि क्या वे मुझे अपना बेटा मानते हैं या आतंकवादी ?

गृह मंत्री एक रास्ता नहीं खुलवा सकता ?
शाहीन बाग के विरोध-प्रदर्शन पर केजरीवाल ने कहा, ‘देश की एकता, अखंडता और भाईचारे के लिए जो भी खड़ा है, उसके साथ केजरीवाल खड़ा है। शाहीन बाग के लोग कह रहे हैं, अमित शाह जी आएं और बात करें। अगर देश का गृह मंत्री एक रास्ता नहीं खुलवा सकता, तो फिर क्या गृह मंत्री है ?’

वायु प्रदूषण के स्तर में 25 फीसदी की कमी
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दावा किया कि राजधानी में वायु प्रदूषण के स्तर में 25 फीसदी की कमी आई है। उन्होंने कहा, ‘जब मेरी सरकार बनी 2015 से 2019 तक दिल्ली में पॉल्य़ूशन (प्रदूषण) 25 परसेंट कम हुआ है। हम उससे सैटिसफाइड (संतुष्ट) नहीं हैं। लेकिन अच्छी बात ये है कि पॉल्य़ूशन बढ़ा नहीं है। उसके तीन-चार कारण हैं, एक कारण ये कि पहले दिल्ली में बिजली बहुत जाया करती थी, 6 लाख के करीब जेनरेटर होते थे, वो सारे redundant (बेकार) हो गए हैं, क्योंकि दिल्ली में अभी 24 घंटे बिजली है। दूसरा सेंट्रल गवर्नमेंट ने ईस्टर्न एंड वेस्टर्न पेरीफेरल वे बनाया है, पहले यूपी से हरियाणा के बीच रोज 40-50 हजार ट्रक दिल्ली होकर जाते थे.. वो अब बाहर से जाने लगे, उससे प़ॉल्यूशन कम हुआ है। दिल्ली में हमने पेड़ बहुत लगाए हैं, लगभग 1100 एकड़ एडिशनल जमीन पर हमने पेड़ लगाए हैं। अभी और बहुत स्टेप्स लेने हैं।’

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

राहुल ने जारी किया श्वेतपत्र, बोले- तीसरी लहर की तैयारी करे सरकार

नई दिल्ली 22 जून 2021 । कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस …