मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> एनडी तिवारी के घर की सीसीटीवी वीडियो देखकर पुलिस हैरान

एनडी तिवारी के घर की सीसीटीवी वीडियो देखकर पुलिस हैरान

नई दिल्ली 24 अप्रैल 2019 । वरिष्ठ कांग्रेस नेता नारायण दत्त तिवारी के बेटे की मौत ने राजनीति में खलबली मचा दी थी। हालांकि अब तक उसकी मौत का राज नहीं खुल सका है। शुरू में स्वाभाविक मौत मान रही पुलिस को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से चौंकाने वाली जानकारी मिली थी। इसी के बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया और एनडी तिवारी की बहू और रोहित की पत्नी से पूछताछ की। पुलिस की पूछताछ में अपूर्वा टूट गई और उसने बड़ा खुलासा किया। उसके खुलासे से बड़ा सच सामने आया है। वहीं पुलिस को सीसीटीवी फुटेज भी मिली है जिसमें बहू अपूर्वा तिवारी दिखी है।

डिफेंस कॉलोनी स्थित घर में हो गई थी मौत
एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की दिल्ली स्थित डिफेंस कॉलोनी के घर में मौत हो गई थी। उसका शव 16 घंटे बाद नौकर ने देखा जब वो उसको खाना देने गया। रोहित की नाक से खून बह रहा था। वो दिल की बीमारी से जूझ रहा था, इसलिए पुलिस ने शुरुआत में हार्ट अटैक को उसकी मौत की वजह माना। हालांकि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया कि उसकी मौत दम घुटने से हुई।

पुलिस की पूछताछ में अपूर्वा ने बताया ये सच
जागरण डॉट कॉम की खबर के अनुसार पुलिस ने घर के नौकरों से लेकर पत्नी अपूर्वा से भी पूछताछ की। हालांकि शक के घेरे में सबसे ज्यादा उसकी पत्नी ही है। इसी वजह से तीन दिनों तक लगातार हुई पूछताछ के बाद अपूर्वा टूट गई। उसने पुलिस को बड़ा सच बताया। अपूर्वा के मुताबिक मौत से पहले रात में उसका और रोहित का झगड़ा हुआ था और दोनों ने एक दूसरे का गला दबाया था। पुलिस का मानना है कि हो सकता है गला जोर से दब गया हो और सोते समय रोहित की मौत हो गई हो।

सीसीटीवी ने भी खोला अपूर्वा का बड़ा राज
जागरण डॉट कॉम की खबर के मुताबिक पुलिस को सीसीटीवी की पड़ताल में भी अहम सुराग मिला है। उस रात रोहित के बगल वाले कमरे में ही अपूर्वा सो रही थी। रात को सीसीटीवी में अपूर्वा 1.30 बजे के करीब रोहित के कमरे में जाते हुए दिख रही है। वहीं एक घंटे बाद वो 2.30 बजे पहली मंजिल से भूतल पर आते दिखी। रोहित की मौत भी 1.30 से 2 बजे के बीच हुई है। हालांकि पुलिस अभी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है और फूंक-फूंककर कदम रख रही है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

31 जुलाई तक सभी बोर्ड मूल्यांकन नीति के आधार पर जारी करें परिणाम, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश

नई दिल्ली 24 जून 2021 । देश के सभी राज्य बोर्डों के लिए समान मूल्यांकन …