मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पोस्ट ऑफिस की शानदार स्कीम, 1500 रुपये में खाता खुलवायें, हर महीने 5000 रुपये कमायें

पोस्ट ऑफिस की शानदार स्कीम, 1500 रुपये में खाता खुलवायें, हर महीने 5000 रुपये कमायें

नई दिल्ली 1 सितम्बर 2018 । बैंक के अलावा पोस्ट ऑफिस भी अब आपको ढेर सारी सहूलियत दे रहा है. अब पोस्ट ऑफिस भी आपके बैंक का विकल्प बन गया है. इसके लिए पोस्ट ऑफिस भी नई-नई स्कीम ला रहा है. एक बार फिर पोस्ट ऑफिस नई स्कीम लेकर आया है. इसके तहत आपको हर महीने पांच हजार रुपये से ज्यादा कमाने का एक मौका है. इसके लिए आपको पोस्ट ऑफिस से जुड़ना होगा. 1500 रुपये देकर एक खाता खुलवाना होगा. इसके बाद एक स्कीम में एक बार निवेश करके आपको हर महीने अधिकतम 5500 रुपये तक की आय की गारंटी मिल जायेगी.

जी हां, ‘पोस्ट ऑफिस मंथली इन्वेस्टमेंट स्कीम’ में आपको एकमुश्त निवेश करना होगा. इस स्कीम की खूबी यह है कि इसमें महज पांच साल के लिए आपको निवेश करना होता है. 1500 रुपये देकर खाता खोल सकते हैं और उसके गुणक में. ब्याज 7.3 फीसदी मिलता है. इस स्कीम में आप जितनी राशि निवेश करते हैं, एक साल के ब्याज की गणना कर ली जाती है और फिर उसे 12 भागों में बांट दिया जाता है. ब्याज की यह राशि हर साल आपको वापस कर दी जाती है. इस तरह आपकी मंथली इनकम शुरू हो जाती है.

ये लोग खोल सकते हैं अकाउंट
पोस्ट ऑफिस की मंथली इन्वेस्टमेंट स्कीम में देश का कोई भी नागरिक निवेश कर सकता है.
बच्चे के नाम से भी अकाउंट खोल सकते हैं. अगर बच्चा 10 साल से कम उम्र का है, तो उसके माता-पिता या कानूनी अभिभावक की ओर से अकाउंट खोला जा सकता है.
10 साल का होने के बाद बच्चा खुद अपना अकाउंट ऑपरेट कर सकता है.
बैंक की तरह सिंगल या ज्वाइंट अकाउंट खोल सकते हैं. दोनों में ही जमा की सीमा अलग-अलग है. सिंगल में अधिकतम निवेश 4.5 लाख है, तो ज्वाइंट अकाउंट में 9 लाख रुपये तक जमा करा सकते हैं. अगर आप इस खाते में 9 लाख रुपये का एकमुश्त निवेश कर देते हैं तो आपकी इस जमा राशि पर मिलने वाला सालाना ब्याज करीब 65,700 रुपये के आस-पास होगा. इस लिहाज से आपको हर महीने लगभग 5500 रुपये (5475 रुपये) की आय होने लग जाएगी. इतना ही नहीं आपका 9 लाख रुपये मेच्योरिटी पीरियड के बाद कुछ और बोनस जोड़कर आपको वापस दे दिया जाएगा.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

मोदी सरकार के आर्थिक सुधार कार्यक्रमों के सुखद परिणाम अब नजर आने लगे हैं

नई दिल्ली 20 सितम्बर 2021 । वर्ष 2014 में केंद्र में मोदी सरकार के स्थापित …