मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> पेंशन की मांग को लेकर डाक कर्मचारी हड़ताल पर

पेंशन की मांग को लेकर डाक कर्मचारी हड़ताल पर

जगदलपुर 20 दिसंबर 2018 । पेंशन के लिए संभाग के बस्तर संभाग के सात जिलों में अपनी सेवाएं दे रहे 500 ग्रामीण डाक सेवक पेंशन की मांग तथा कमलेशचंद कमेटी की रिपोर्ट को पूर्ण रूप से लागू करने की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठ गए हैं। इसके चलते ग्रामीण क्षेत्र के दर्जनों डाकघरों में कामकाज ठप हो गया है। हड़ताली ग्रामीण डाकसेवक प्रधान डाक घर के सामने आंदोलन कर रहे हैं।
अखिल भारतीय ग्रामीण डाकसेवक संघ के आव्हान पर जारी इस अनिश्चतकाली हड़ताल के संबंध में संभागीय अध्यक्ष गंगासिंह ठाकुर व उपाध्यक्ष खगपति सेठिया ने बताया कि आजादी के 71 साल बाद भी देश में ग्रामीण डाक सेवकों का भारत सरकार द्वारा मानसिक व आर्थिक शोषण किया जा रहा है। निर्धारित चार घंटे का टीआरसीए देकर करीब नौ घंटे काम लिया जा रहा है। पांच साल तक निर्वाचित होने वाले जनप्रतिनिधियों को देश में पेंशन की सुविधा है लेकिन 65साल तक डाक विभाग में अपनी सेवाएं देने वाले ग्रामीण डाक सेवकों को पेंशन लेने की पात्रता नहीं है। संघ की मांग है कि देश भर के सभी ग्रामीण डाक सेवकों के लिए पेंशन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। वहीं कमलेश चंद समिति की रिपोर्ट को पूरी तरह लागू की जाए। ग्रामीण डाक सेवको की सेवा शर्तो को सुधारकर पूरे आठ घंटे का वेतन दिया जाए। हड़ताल के पहले दिन ही दर्जनों की संख्या में ग्रामीण डाक सेवक आंदोलन में शामिल हुए। इसके चलते ग्रामीण डाक घरों में कामकाज प्रभावित हुआ। वहीं निराश्रित पेंशन, मनरेगा भुगतान ,वृद्घा पेंशन जैसे कार्य नहीं हो सके।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

ये तो छोड़कर चले गए थे…अशोक गहलोत ने सचिन पायलट गुट के विधायकों पर कसा तंज

नयी दिल्ली 4 दिसंबर 2021 । अशोक गहलोत और सचिन पायलट राजस्थान कांग्रेस में सबकुछ अच्छा …