मुख्य पृष्ठ >> अंतर्राष्ट्रीय >> गरीबी ने मुझे ईमानदार बनाया है, देश का भागीदार होने पर गर्व : पीएम मोदी

गरीबी ने मुझे ईमानदार बनाया है, देश का भागीदार होने पर गर्व : पीएम मोदी

नई दिल्ली 29 जुलाई 2018 । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान आज लखनऊ पहुंचे। मोदी दोपहर को दिल्ली से सीधे लखनऊ पहुंचे। राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने किया लखनऊ एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया। पीएम ने यहां ट्रांसफॉर्मिंग अर्बन लैंडस्केप नामक कार्यक्रम में भी शिरकत की।

कार्यक्रम में उन्होंने जहां एक तरफ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजयपेयी को याद किया तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी निशाना साधा। साथ ही पीएम ने ये वादा किया कि 2022 तक देश के नागरिक के पास अपना मकान होगा। मोदी अटल बिहारी वायपेयी को याद करते हुए कहा कि यह जगह देश के शहरी जीवन को नई दिशा देने वाले महापुरुश की कर्मभूमि है। उन्होंने शहरी विकास में पूर्व प्रधानमंत्री की भूमिका को सर्वोपरि बताया।

राहुल पर साधा निशाना :

क्रार्यक्रम में अपने भाषण के दौरान पीएम ने राहुल के आरोपों का भी जवाब दिया। पीएम ने कहा कि मेरे ऊपर भ्रष्टाचार में भागीदार होने का आरोप लगाया गया। मुझ पर इल्जाम लगाया गया है कि मैं चौकीदार नहीं हूं। तो मैं ये बताना चाहता हूं कि मैं हर उस चीज़ का भागीदार हूं जिससे देश में तरक्की हो। मुझे गर्व है कि मैं देश के गरीबों को भागीदार हूं। पीएम ने कहा कि गरीबी की मार को मैंने झेला है, मैंने गरीबों के दुख को देखा है और इस गरीबी ने ही मुझे ईमानदार बनाया है। मोदी ने कहा कि गरीबों और उनका घर देने का हमारा संकल्प तीन साल में और पक्का हो गया है। 2022 तक देश के घर गरीब नागरिक और ऐसे लोग जिनके पास अपना घर नहीं है उनके पास अपना पक्का मकान होगा।

अखिलेश पर भी तंज :

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में केंद्र की योजनाओं को पिछली सरकार के दौरान लागू कराने में मुश्किलें आईं। सपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि पिछली सरकार लोगों के घर नहीं बनवा पाई, क्योंकि उनका सिंगल प्वाइंट प्रोग्राम अपने बंगले को सजाना और संवारना था। बता दें कि लखनऊ आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को 60 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के उद्योगों की नींव रखेंगे। इसके तहत 81 परियोजनाओं की शुरुआत की जाएगी और इनमें तकरीबन दो लाख युवाओं को रोजगार देने के अवसर पैदा होंगे।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Urdu erased from railway station’s board in Ujjain

UJJAIN 06.03.2021. The railways has erased Urdu language from signboards at the newly-built Chintaman Ganesh …