मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> शिवराज बने कान्हा, अपने ही अंदाज में फोड़ी मटकी

शिवराज बने कान्हा, अपने ही अंदाज में फोड़ी मटकी

भोपाल 5 सितम्बर 2018 । पूरे देशभर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम रही। भोपाल में भी हजारों कार्यक्रम हुए। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कई स्थानों पर पहुंचे और कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव में शामिल हुए। लेकिन रात में मुख्यमंत्री निवास में कृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव मनाया गया। यहां मुख्यमंत्री पूरे परिवार के साथ मौजूद रहे। भक्ति गीतों, भजनों के साथ यहां कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। मुख्यमंत्री ने भी यहां भजन गाए। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री खुद कान्हा बनें और उन्होंने अपने ही अंदाज में मटकी फोड़ी।

इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ बरखेड़ी, अहीर मोहल्ला स्थित श्री राधा कृष्ण मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने राधा-कृष्ण के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इससे पहले वे भोपाल की केंद्रीय जेल भी पहुंचे और वहां उन्होंने जन्माष्टमी का त्योहार मनाया। जेल में सीएम ने प्रदेश की जेलों में बंद अनुशासित व पात्र सजायाफ्ता कैदियों की सजा में 30 दिन की माफी देने की घोषणा की। उन्होंने जेलों में बंद महिला बंदियों को बिंदी, चूड़ी, सिंदूर और श्रृंगार की अन्य वस्तुएं भेंट की। वहीं पुरुषों को टूथपेस्ट, ब्रश और अन्य सामग्री देने के विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दी।

प्रभात झा बने शिवराज के नये संकटमोचक

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व वरिष्ठ भाजपा नेता प्रभात झा की शख्सियत इन दिनों मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के नये संकटमोचक के रूप में उभर कर सामने आई है। जनआर्शीवाद यात्रा के दौरान साये की तरह यात्रा को सफल बनाने व मुख्यमंत्री को महिमा मंडित करने में लगे प्रभात झा ने इसमें न केवल अपनी सारी ताकत झोंक दी है, बल्कि पार्टी का बेस अपने अनुभव से फिर से बेहतर करने में कोई कोरकसर नहीं छोड़ी हैं।
जबकि यह सर्वविदित है कि प्रभात झा को अपने अध्यक्षीय कार्यकाल में वफा करने के बाद बेवफाई मिली थी। स्वयं प्रभात झा ने इस बेवफाई को परमाणु पोखरण विस्फोट का नाम दिया था। इसके बाद भी अब राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने अपना दिल बड़ा करके राज्य में चौथी बार सरकार बनाने के लिए कवायद शुरू की है और जमकर ईमानदारी से मेहनत कर रहे हैं। वह सही मायने में इन दिनों शिवराज के सारथी बन गये हैं।

एडिशनल एसपी ने सीएम शिवराज की पत्नी के छुए पैर

इंदौर। प्रदेश में चुनावी साल में कांग्रेस लगातार सरकारी अधिकारियों को बीजेपी की मदद करने का आरोप लगाती रही है और चुनाव आयोग के साथ कई विभागों में शिकायत भी करती रही है. वहीं अब इंदौर में पदस्थ एडिशनल एसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान की शिकायत की है, जिनका सीएम की पत्नी साधना सिंह के पैर छूने का वीडियो सामने आया है।

आगानी निधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी को अपने चहेते अफसरों को कमान सौंपने का आरोप लगता रहा है. वहीं अब एक वीडियो वायरल हुआ है जिसके बाद सियायत और गरमा गई है. दरअसल वायरल वीडियो में ईस्ट ज़ोन दो के एएसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान सीएम की पत्नी साधना सिंह के पैर छू रहे हैं.। दरअसल यह विडियो तब का है, जब भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्ग़िय की माता जी अयोध्या देवी का निधन हो गया था। तब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी पत्नी के साथ विजयवर्ग़िय के निवास पर शोक प्रकट करने गए थे।

वहीं प्रदेश कांग्रेस का कहना है कि इससे स्पष्ट है कि विधानसभा चुनाव कितने निष्पक्ष होंगे. इस मामले की शिकायत कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की है. साथ ही कांग्रेस ने मांग की है कि चुनाव आयोग ऐसे अफसरों को तत्काल फिल्ड से हटाए. गौर हो इससे पहले राजगढ़ एसपी सिमला प्रसाद ने सीएम की जनआशीर्वाद यात्रा का फोटो ट्वीट करने की भी कांग्रेस ने शिकायत की थी।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारत के गेम प्लान पर बोले कोच रवि शास्त्री- खिलाड़ियों को ज्यादा तैयारी की जरूरत नहीं

नई दिल्ली 19 अक्टूबर 2021 । भारतीय क्रिकेट टीम को टी-20 वर्ल्ड कप में अपना …