मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> मध्यप्रदेश >> उज्जैन / भोपाल >> शिवराज सिंह को दिल्ली ले जाने की तैयारी

शिवराज सिंह को दिल्ली ले जाने की तैयारी

भोपाल 22 दिसंबर 2018 । मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने के बाद खाली हो गये पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता शिवराज सिंह को दिल्ली ले जाने की तैयारी चल रही है।
भाजपा के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी में अब पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को टीम अमित शाह में शामिल किये जाने की सहमति बन गई है। इसी प्रकार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह को भी नई जिम्मेदारी दी जा सकती है।
अब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के लिये भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय की भूमिका को देखते हुये दोनों में से एक को नई जिम्मेदारी दी जा सकती है। वहीं नेता प्रतिपक्ष के लिए पूर्व मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, भूपेन्द्र सिंह व गोपाल भार्गव के नाम सबसे आगे चल रहे हैं।

सिंधिया को मिला गृहमंत्री का बंगला, विदेश मंत्री के बंगले में रहेंगे शिवराज

भाजपा सरकार के कई मंत्री चुनाव हार गए हैं, ऐसे में उनके बंगले खाली होना तय है। जबकि जो विधायक पुनः जीतकर आ गए हैं, वे दोबारा से उसी बंगले को आवंटित कराने की जुगत में लगे हुए हैं। ऐसी स्थिति में मंत्री से विधायक रह गए नेताओं से बंगले खाली कराए जाएंगे, जिन्हें इतने बड़े बंगले की पात्रता नहीं है।

कई IAS अफसर भी जमे
चार इमली से लेकर 74 बंगले तक कई IAS अफसर भी बंगले पर जमे हुए हैं। इस कारण मंत्रियों के लिए बंगले कम पड़ गए। ये पूर्ववर्ती सरकार के रसूखदार आईएएस और आईपीएस अफसर हैं। सूत्रों के मुताबिक इनकी पदस्थापना बदलने के साथ ही इनके बंगले वापस लिए जा सकते हैं। इनमें कई दिग्गज अफसर ऐसे हैं, जो नई सरकार में भी जुगत जमाकर इन बंगलों में जमे रह सकते हैं।

सिंधिया को भी मिल गया बंगला
कांग्रेस के दिग्गज नेता और गुना से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी भोपाल में बंगला मिल गया है। अब तक वे जब-जब भी भोपाल आते थे तो वे सर्किट हाउस या होटल में ही रुक रहे थे। सिंधिया को चार इमली स्थित पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह का बंगला आवंटित कर दिया गया है।

दिग्विजय को भी मिल गया बंगला
इधर, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को भी श्यामला हिल्स स्थित बंगला दोबारा मिल गया है। कोर्ट के निर्देश के बाद पूर्व मुख्यमंत्रियों से बंगले वापस ले लिए गए थे। अब दिग्विजय सिंह को विशिष्ट व्यक्ति के रूप में यह बंगला दोबारा अलाट कर दिया गया है।
शिवराज रहेंगे स्वराज के बंगले में
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सीएम हाउस छोड़ने के बाद 74 बंगला स्थित बी-8 में जल्द ही शिफ्ट हो जाएंगे। हालांकि उन्हें यह बंगला छोड़ा लगने के कारण नया बंगला आवंटित कर दिया गया है। कुछ सम बाद शिवराज सिंह चौहान सिविल लाइन स्थित सुषमा स्वराज के बंगले में शिफ्ट हो जाएंगे। इस बंगले का परिसर काफी बड़ा है। उधर, कमलनाथ ने कहा था कि शिवराज सिंह के लिए स्वराज वाला बंगला तुरंत ही आवंटित कर दिया गया है।
बंगले की चाहत में नेताओं की दौड़
इन दिनों चार इमली से लेकर 74 बंगला क्षेत्र में बंगला पसंद करने वाले विधायकों में हौड़ लगी हुई है। यह वे विधायक हैं जो कमलनाथ सरकार में अपना मंत्री बनना तय मानकर रहे हैं। कई विधायकों के परिवार के सदस्य भी जगह-जगह खाली बंगलों को देख रहे हैं। कोई वास्तु दोष देख रहा है तो कोई अपने क्षेत्र के लोगों के लिए सुविधायुक्त बंगला चाहता है। इसके अलावा कई ऐसे भी लोग हैं जो पूर्व मंत्रियों के सर्वसुविधायुक्त बंगले की चाहत में उनके खाली होने का इंतजार कर रहे हैं। वे संपदा संचालनालय से लेकर गृह विभाग तक इस जुगाड़ में लग गए हैं कि सबसे अच्छा बंगला उन्हें ही मिल जाए।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

पंजाब कांग्रेस का सस्पेंस बरकरार, नाराज सुनील जाखड़ को अपनी फ्लाइट में दिल्ली लाए राहुल-प्रियंका गांधी

नई दिल्ली 23 सितम्बर 2021 । चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बावजूद पंजाब …