मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी करेंगे देश के सभी मुख्यमंत्रियों से चर्चा

लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी करेंगे देश के सभी मुख्यमंत्रियों से चर्चा

नई दिल्ली 11 अप्रैल 2020 । आज लॉकडाउन बढ़ाने या खत्म करने पर सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से बात करेंगे। बताया जा रहा है कि कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए देश में 14 अप्रैल को खत्म हो रहे लॉकडाउन को बढ़ाया जा सकता है।

कई राज्य इसे बढ़ाने पर सहमति भी जता चुके हैं। इस बीच, ओडिशा के बाद लॉकडाउन बढ़ाने वाला पंजाब देश का दूसरा राज्य भी हो गया है। पंजाब ने एक मई तक, जबकि ओडिशा ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया है।

इससे पहले पीएम सभी दलों के नेताओं के साथ लॉकडाउन पर बातचीत कर उनकी राय जान चुके हैं। ज्यादातर दल भी लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में थे।

दूसरी ओर शनिवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से इस महामारी से निपटने के लिए दूसरी बैठक के बाद पीएम मोदी कभी भी राष्ट्र के नाम संबोधन कर सकते हैं।

माना जा रहा है कि राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने के साथ ही कई बड़े बदलावों की घोषणा करेंगे।

दरअसल बुधवार को पीएम की ओर से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए संसद में विभिन्न दलों के संसदीय दल के नेताओं के साथ हुई बैठक में पीएम ने लॉकडाउन बढ़ाने का संकेत दिया था। पीएम ने कहा था कि इस बारे में वह शनिवार को सभी मुख्यमंत्रियों की भी राय लेंगे। लगभग सभी दलों ने भी लॉकडाउन बढ़ाने पर सहमति दी थी।

भारत के इतने प्रतिशत लोगो की है राय लॉक डाउन को और आगे बढ़ाया जाए :सर्वेक्षण

देश में कोरोनवायरस (COVID-19) के मामलों में बढ़ोतरी जारी है। ऐसे में करीब 88 फीसदी भारतीयों को लगता है कि 14 अप्रेल को समाप्त होने वाले 21 दिन के राष्ट्रव्यापी बंद को आगे बढ़ाया जाना चाहिए। यह बात एक नए सर्वेक्षण में गुरुवार को सामने आई।
समाचार प्लेटफॉर्म इनशॉर्ट्स के सर्वेक्षण के अनुसार निष्कर्षों से यह भी पता चला है कि 88 प्रतिशत उत्तरदाता लॉकडाउन अवधि के दौरान ऑनलाइन भोजन ऑर्डर करने से बच रहे हैं।
इस सर्वेक्षण में 40,000 ऐप उपयोगकतार्ओं की प्रतिक्रिया शामिल थी। इसके अनुसार, 92 प्रतिशत उत्तरदाताओं को लगता है कि निजी क्षेत्र को कोविड-19 परीक्षण करने की अनुमति दी जानी चाहिए। सवेर्क्षण में कहा गया, “लॉकडाउन, सामाजिक दूरी और कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है।”
ओडिशा सरकार ने गुरुवार को कोविड-19 के प्रकोप से निपटने के लिए लॉकडाउन की अवधि 30 अप्रेल तक बढ़ाने का फैसला किया है। साथ ही 17 जून तक शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने का भी फैसला किया। ओडिशा देश का पहला राज्य है जिसने लॉकडाउन की अवधि को 15 दिनों के लिए बढ़ा दिया है।
भारत में कोरोनवायरस के कुल मामलों की संख्या गुरुवार को 5,734 तक पहुंच गई। इनमें से 5,095 सक्रिय मामले हैं, वहीं 166 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 472 लोगों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है।
महाराष्ट्र 1,135 सक्रिय मामलों के साथ सबसे अधिक प्रभावित राज्य है, यहां 117 लोग ठीक हो गए और उन्हें छुट्टी दे दी गई है। वहीं 72 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

Facebook न्यूज़ इंडस्ट्री को 3 साल में 1 अरब डॉलर का करेगा भुगतान

नई दिल्ली 26 फरवरी 2021 । Google के नक्शे-कदम पर चलते हुए सबसे बड़े सोशल …