मुख्य पृष्ठ >> प्रदेश >> उत्तरप्रदेश >> प्रियंका गांधी बनीं पूरे यूपी की महासचिव, संभालेंगी मिशन 2022 की जिम्मेदारी

प्रियंका गांधी बनीं पूरे यूपी की महासचिव, संभालेंगी मिशन 2022 की जिम्मेदारी

लखनऊ 14 जुलाई 2019 । प्रियंका गांधी अब पूरे यूपी की महासचिव होंगी. ज्योतिरादित्य सिंधिया के पश्चिमी यूपी महिसचिव पद से इस्तीफे के बाद अब प्रियंका गांधी पूरे यूपी की महासचिव होंगी और 2022 की जिम्मेदारी संभालेंगी. लोकसभा चुनाव से पहले सिंधिया को पश्चिमी यूपी और प्रियंका को पूर्वी यूपी की कमान सौंपी गई थी.

लोकसभा चुनाव में जब करीब एक महीना बचा था तब सिंधिया और प्रियंका को ये जिम्मेदारी दी गई थी क्योंकि समय कम था और प्रियंका अकेले सभी 80 सीटों पर प्रचार करने के लिए नहीं जा सकती थीं. इसीलिए ये काम दोनों के बीच बांट दिया गया था.

अब जब ज्योतिरादित्य ने पश्चिमी यूपी महासचिव पद से इस्तीफा दे दिया है तो प्रियांका पूरे यूपी की कमान संभालेंगी और मिशन 2022 की अगुआई करेंगी. बात अगर चुनौतियों की करें तो प्रियंका के सामने सबसे बड़ी चुनौती ये है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पर पूरे देश में जितनी सीटें मिली हैं उससे अधिक सीटें तो बीजेपी को यूपी में मिली हैं, ऐसे में प्रियंका 2022 के लिए क्या प्लान बनाएंगी.

कांग्रेस के भीतर कई बार इस बात को लेकर भी चर्चा हुई है कि यूपी में चार अध्यक्ष बनाए जाने चाहिए- पूर्वांचल अध्यक्ष, अवध अध्यक्ष, बुंदेलखंड अध्यक्ष और पश्चिमांचल अध्यक्ष. लेकिन इस पर कभी एक राय नहीं बन पाई और अब एक महासचिव व एक अध्यक्ष पद्धति से ही काम होगा.

कांग्रेस के कुछ नेताओं का ये भी मानना है कि जब योगी आदित्यनाथ, मायावती या अखिलेश यादव पूरे प्रदेश के नेता हो सकते हैं या पूरे प्रदेश को चला सकते हैं तो फिर कांग्रेस चार अध्यक्ष फॉर्मूला क्यों लागू करे.

गांधी परिवार की जड़ें यूपी में हैं और ऐसे में मिशन 2022 प्रियंका गांधी के लिए बड़ी चुनौती है. देखना होगा कि प्रियंका यूपी में कांग्रेस को कैसे उबारेंगी जहां 2019 लोकसभा चुनावों में पार्टी को बुरी हार का सामना करना पड़ा है.

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा- ‘कांग्रेस न सदन चलने देती है और न चर्चा होने देती’

नई दिल्ली 27 जुलाई 2021 । संसद शुरू होने से पहले भाजपा संसदीय दल की …