मुख्य पृष्ठ >> खास खबरें >> बिना अनुमति हो रहा था प्रचार, एसडीएम ने 13 गाड़ियां पकडी, 10 को छोड़ा

बिना अनुमति हो रहा था प्रचार, एसडीएम ने 13 गाड़ियां पकडी, 10 को छोड़ा

शिवपुरी 28 अक्टूबर 2018 । चुनाव की घोषणा होने के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। इसके बावजूद कुछ लोग नेताओं की जी हुजूरी में ऐसे लगे हुए है की उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पढ़ रहा की आचार संहिता लगी हुई है। ताजा मामला शिवपुरी जिले के पोहरी में सामने आया है। जहां शुक्रवार दोपहर लगभग दो बजे एसडीएम मुकेश सिंह ने बिना अनुमति के प्रचार करते हुए लगभग 10 गाडियों को पकड़ा है। उक्त गाडियां स्वर्णिम भारत पार्टी के प्रत्याशी रणजीत सिंह रावत के समर्थन में प्रचार कर रही थी। इस दौरान सबसे अहम बात यह सामने आई कि इस पूरे घटनाक्रम की एसडीएम ने वीडियों रिकोर्डिंग कराई। उसके बाद पुलिस ने 7 गाडियों को छोडकर महज तीन गाडियों को पुलिस थाना पोहरी में रखबा दिया है।

जानकारी के अनुसार पोहरी एसडीएम मुकेश सिंह क्षेत्र में आचार संहिता के चलते दल के साथ चैंकिंग कर रहे थे। तभी खबर मिली कि स्वर्णिम भारत पार्टी के प्रत्याशी एडवोकेट रणजीत सिंह रावत ग्राम धामौरा में चुनाव प्रचार कर रहे है। जिसपर एसडीएम ने धामौरा गांव में जाकर इनकी गाडियों के बारे में प्रचार करने की अनुमति मांगी। उक्त कार्यवाही दोपहर 1 बजकर 50 मिनिट पर की गई। जिसमें एसडीएम मुकेश सिंह ने स्वर्णिम भारत पार्टी का प्रचार करते हुए लगभग 13 गाडियों को पकडा।

जब इन गाडियों के ड्रायवरो से चुनाव संबधित अनुमति की मांग की तो उन्होंने अनुमति दिखाई। जिसपर एसडीएम ने कहा कि यह अनुमति तो महज डेढ बजे तक है। आप आचार संहिता ने नियमों का उलंघन करते हुए चुनाव प्रचार कर रहे है। उसके बाद एसडीएम ने तत्काल पोहरी पुलिस सहित भटनावर चौकी पुलिस को बुलाकर गाडियों को जप्त कराने की कार्यवाही की। पुलिस पहुंचती इससे पहले एसडीएम ने सभी गाडियों को दोडते हुए महज तीन गाडियों को जप्त कर लिया है।

शेयर करें :

इसे भी पढ़ें...

भस्मासुर बना तालिबान, अपने ही सुप्रीम लीडर अखुंदजादा का कत्ल; मुल्ला बरादर को बना लिया बंधक

नई दिल्ली 21 सितम्बर 2021 । अफगानिस्तान में सत्ता पाने के बाद आपस में खूनी …